Breaking News

बिहार में लोक आस्था का महापर्व छठ के अवसर पर जिला प्रशासन गया द्वारा कोविड-19 प्रबंधन, सुरक्षा एवं विधि व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, नियंत्रण कक्ष की स्थापना,


BHARAT NEWS LIVE24 बिहार में लोक आस्था का महापर्व छठ के अवसर पर जिला प्रशासन गया द्वारा कोविड-19 प्रबंधन, सुरक्षा एवं विधि व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, नियंत्रण कक्ष की स्थापना,

गया, 18 नवंबर 2020, 
रिपोर्टः  डीके पंडित
बिहार के जिला गया में लोक आस्था का महापर्व छठ के अवसर पर जिला प्रशासन गया द्वारा कोविड-19 प्रबंधन, सुरक्षा एवं विधि व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, नियंत्रण कक्ष की स्थापना, स्वास्थ्य सेवाएं सहित अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं के अनुपालन हेतु जिला दंडाधिकारी गया श्री अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में छठ पर्व के अवसर पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की ब्रीफिंग संग्रहालय गया के सभागार में की गई।
     इस अवसर पर जिला दंडाधिकारी ने गया जिला वासियों को छठ पर्व के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए अपील किया कि कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए सुरक्षा एवं बचाव के दृष्टिकोण से लोग छठ पर्व अपने घर पर ही मनावे। उन्होंने जिला वासियों से अपील किया कि कोरोना संक्रमण के काल में छठ व्रती यथासंभव अपने घर पर ही छठ पूजा करें। छठ पर्व के दौरान छठ घाट पर बुखार से ग्रसित व्यक्ति, 60 साल से ऊपर के व्यक्ति, 10 साल से कम उम्र वाले बच्चे या अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति को ना जाने की हिदायत दी गई है। नदी/ तालाब में अर्घ्य के दौरान डुबकी न लगाने की हिदायत दी गई है। प्रत्येक छठ व्रती एवं उनके सहयोगी को सलाह दी गई है कि लोग मास्क पहनकर ही छठ घाट पर आवे तथा 2 गज की दूरी का अनुपालन अवश्य करें। घाटों पर वाहनों की आवाजाही पर रोक है। घाटों पर आतिशबाजी ना करें तथा सुरक्षित एवं सुचारू छठ पूजा के लिए जिला प्रशासन को सहयोग करें।
     जिला पदाधिकारी ने ब्रीफिंग में निर्देश दिया कि जहां 4 फीट से गहरा पानी है वहां बैरिकेटिंग अवश्य करें तथा आवश्यक सभी सूचनाओं से संबंधित साइनेज लगाना सुनिश्चित करें। उन्होंने स्पष्ट रूप से निदेश दिया कि संपूर्ण जिला में छठ के दौरान भोज्य/ प्रसाद वितरण/ सांस्कृतिक कार्यक्रम/ मेला/ तमाशा इत्यादि का आयोजन नहीं किया जाएगा।
   अधिक से अधिक लोगों को घर पर ही छठ व्रत करने हेतु इसे पूजा आयोजन समिति एवं स्थानीय प्रशासन के सहयोग से सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिया कि जहां तालाबों/ नदियों में गढ़े हैं वहां बैरिकेडिंग एवं रस्सी लगावे ताकि कोई दुर्घटना ना हो सके तथा संबंधित स्थानों पर पर्याप्त साइनेज लगाएं। छठ घाट पर किसी प्रकार की दुकानें यथा खिलौना, झूला, ठेला, मेला इत्यादि लगाने की अनुमति नहीं होगी।
   छठ घाट को समय-समय पर अर्घ्य के पूर्व एवं अर्घ्य के बाद सैनिटाइज कराने का निर्देश नगर निगम, नगर निकाय एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया है। जिला पदाधिकारी ने कहा कि छठ पर्व के अवसर पर नियंत्रण कक्ष की व्यवस्था की गई है जिसका दूरभाष संख्या 0631 2222253 है। नियंत्रण कक्ष में पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति तीन पालियों में की गई है। 
   जिला पदाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचलाधिकारी, सभी थाना अध्यक्ष, सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि छठ पर्व के अवसर पर कोविड-19 के परिपेक्ष्य में ऑडियो मैसेज का प्रसारण/ माइकिंग कराया जाए ताकि ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के अधिक से अधिक लोग जिला प्रशासन गया के उपरोक्त निर्देशों से अवगत हो सकें। जिला जनसंपर्क पदाधिकारी ने बताया कि माइकिंग संबंधी संदेश ऑडियो के रूप में तैयार कर गया डिस्टिक व्हाट्सएप ग्रुप तथा मीडिया व्हाट्सएप ग्रुप में डाला गया है। 
   जिला पदाधिकारी ने बताया कि खतरनाक घाटों पर गोताखोरों की प्रतिनियुक्ति की गई है ताकि किसी प्रकार की घटना होने पर त्वरित कार्रवाई हो सके।
    इस अवसर पर नगर पुलिस अधीक्षक श्री राकेश कुमार ने कहा कि छठ पर्व के अवसर पर शहरी ट्रैफिक व्यवस्था को रेगुलेट किया जाएगा। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक यातायात को कहा कि आज ही ट्रैफिक प्लान मैप तैयार कर व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए।
    जिला दंडाधिकारी एवं वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा जारी संयुक्त आदेश में छठ पर्व के अवसर पर विधि व्यवस्था, शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति पर्याप्त संख्या में की गई है। सभी महत्वपूर्ण घाटों को चार (04) सुपर जोन में विभक्त किया गया है साथ ही 29 सेक्टर में इन घाटों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है, जोन- 1 के लिए अपर समाहर्ता गया श्री मनोज कुमार को ज़ोन-1 के वरीय पदाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त की गई है। इसके अंतर्गत पिता महेश्वर घाट, मल्लाह टोली, सीढ़िया घाट, ब्राह्मणी घाट, महादेव घाट, रामेश्वर घाट, सूर्य कुंड घाट, देवघाट, रामशिला सरोवर, धोबिया घाट, गोविंदपुर तालाब वार्ड संख्या पांच (प्रेतशिला रोड गुमटी के पार), बिंदेश्वरी घाट वार्ड नंबर 14 (फल्गु नदी के किनारे किरानी घाट के उत्तर) शामिल है।
ज़ोन -2 में अपर समाहर्ता जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी श्री नरेश झा की प्रतिनियुक्ति की गई है, जिसके अंतर्गत सीताकुंड घाट, सूर्य पोखरा तालाब खंजाहांपुर मानपुर, भास्कर घाट लखीबाग मानपुर, दिनकर घाट जनकपुर मानपुर, बाला पर भूसुंडा (सीताकुंड से उत्तर नदी में), लखीबाग डालमिया कंपाउंड रोड नंबर 4 (नदी किनारे), लखीबाग मानपुर सिक्स लेन पुल के नीचे (पूरब तरफ दक्षिण दिशा में) शामिल है।
    जोन -3 के वरीय पदाधिकारी के रूप में श्री सुमन कुमार उप विकास आयुक्त के प्रतिनियुक्ति की गई है, जिसके अंतर्गत रुकमिणी तलाव घाट, झारखंडी महादेव घाट (दंडीबाग पंपिंग हाउस के पास), आईटीआई पॉलिटेक्निक घाट, केंदुई घाट (सूर्य मंदिर), केंदुई घाट -1, केंदुई घाट- 2 सम्मिलित है।
     जोन 4 के वरीय पदाधिकारी श्री संतोष कुमार श्रीवास्तव अपर समाहर्ता विभागीय जांच गया की प्रतिनियुक्ति की गई है, जिसके अंतर्गत सूर्य पोखर (साउथ पुलिस लाइन रोड जेल के पीछे), सिंगरा स्थान डैम (पश्चिमी पुलिस लाइन डॉ शकुंतला नाग के मकान के पीछे), नारायण गढ़ (नगर प्रखंड के पास), कटारी तालाब (एफसीआई गोदाम के पास), कुजापी सूर्य पोखर घाट शामिल है।
    पिता महेश्वर घाट, सूर्य कुंड, केंदुई घाट, सूर्य पोखर मानपुर, देवघाट तथा सूर्य पोखर तालाब (जेल के पीछे) के घाटों पर पर्याप्त संख्या में सीसीटीवी कैमरा एवं वीडियोग्राफी की व्यवस्था की गई है ताकि असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जा सके तथा इसी प्रकार की घटना होने पर त्वरित कार्रवाई किया जा सके। छठ महापर्व 2020 के अवसर पर सुरक्षा व्यवस्था, शांति एवं विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार में सुमन कुमार, उप विकास आयुक्त एवं श्री राकेश कुमार, नगर पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया गया है। गया जिला शहरी क्षेत्र में कुल 114 स्थानों को चिन्हित करते हुए दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है।

No comments