Breaking News

एक तरफ प्रदेश मंत्री कर रहे थे संबोध तो दूसरी तरफ़ मानवता हो रही थी शर्मसार. ? {BNL24NEWS कमलेश सिंह चौहान जिला ब्यूरो चीफ सीधी}




ब्लड की कमी से जूझ रही गर्भवती महिला को अस्पताल में धक्के मार कर किया बाहर

परिजनों ने लगाई न्याय की गुहार

मध्य प्रदेश जिला सीधी बीते रविवार को शाम 8:00 बजे के लगभग एक तरफ प्रदेश के मंत्री सरतेंदु तिवारी पूजा पार्क में बड़ी-बड़ी घोषणाएं कर रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ जिला चिकित्सालय में एक गर्भवती पीड़ित महिला अस्पताल के यातनाएं झेल रही थी। पीड़ित परिजनों ने बताया कि ब्लड नहीं होने से अस्पताल ने गर्भवती महिला को 7:30 बजे लेबर वार्ड से धक्के मार कर बाहर कर दिया।

यह था पूरा मामला
सिटी कोतवाली अंतर्गत पीड़िता सीता साकेत पति राजेश साकेत निवासी बैरिहा प्रसव के लिए जिला चिकित्सालय में बीते रविवार को 3:00 बजे भर्ती हुई थी परिजनों के आरोप के अनुसार मरीज के भर्ती होने के बाद नॉर्मल उपचार तो शुरू किया गया लेकिन ब्लड की कमी बता दिया गया आरोप है कि लेबर वार्ड में सेवा दे रही नर्सों के द्वारा बोला गया कि ब्रेड लाओ तभी आगे कि दवा की जाएगी। पीड़िता के परिजनों ने बताया कि ब्लड की व्यवस्था हमारे पास नहीं हो पाई जिसके कारण शाम 7:30 बजे के लगभग लेबर वार्ड के स्टाफ ने मरीज को भगा दिए हैं अब हम कहां लेकर जाएं।

कई बार हो चुकी है मौत
अस्पताल प्रबंधक की लापरवाही से इसके पूर्व में भी कई मरीजों की जान तक जा चुकी है वही सत्ता दल से संरक्षण प्राप्त सिविल सर्जन के ऊपर अभी तक कोई भी कार्यवाही नहीं हो पाई है जिसके चलते सिविल सर्जन डॉक्टर द्विवेदी के हौसले बुलंद है। पूरे मामले को लेकर पीड़िता के परिजनों ने मुख्यमंत्री से कार्रवाई को लेकर गुहार लगाई है।

No comments