Breaking News

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर ले संकल्प भेदभाव खत्म कर बालक बालिकाओं को दे समान दर्जा - राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री शिवमूरत जी महाराज



पूज्य श्री ने कहा आज दुनियाभर में लड़का और लड़की में भेदभाव की घटनाएं सामने आती हैं। बालिकाओं को उनके अधिकारों से वंचित रखा जाता है। बहुत सारे ऐसे मामले सामने आते हैं, जिनमें बालिकाओं को उनके जन्म से लेकर उनके पालन-पोषण के दौरान उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य और मानवाधिकारों की वंचित हकमारी की जाती है। बालिकाओं को उनका अधिकार और सम्मान देने के साथ ही पूरी दुनिया को जागरूक करने के लिए आज हम आप 11 अक्तूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस को मनाते है अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं के अधिकारों का संरक्षण करना तथा उनके समक्ष आने वाली चुनौतियों एवं कठिनाईयों की पहचान करना है। इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य यह भी है कि समाज में जागरूकता लाकर लड़कियों को वे समान अधिकार दिलाये जा सकें, जो कि लड़कों को दिये गये हैं। बालिकाओं के सम्मान और समान दर्जा के लिए समाज मे  जागरूकता फैलाने के लिए संदेशों के जरिए लोगों को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस की शुभकामनाएं भेज ता की क्या होता है अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस इसको जान सके लोग और बालक बालिकाओं को समान दर्जा शिक्षा स्वास्थ्य व्यवस्था प्रदान की जा सके।

No comments