Breaking News


  
रीवा 17 अक्टूबर 2020. कलेक्ट्रेट सभागार में नेहरू युवा केन्द्र की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कहा कि नेहरू युवा केन्द्र की गतिविधियों का मुख्य उद्देश्य युवाओं को सही मार्गदर्शन देना है। नेहरू युवा केन्द्र युवाओं को जागरूक करने के लिये सही प्रयास करे। रीवा जिले के शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र में युवाओं में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति बहुत बड़ी समस्या तथा सामाजिक बुराई है। ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को युवा जागरूकता दलों के माध्यम से संगठित कर उन्हें शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाने के लिये प्रेरित करें। युवाओं को जब हम खेलों से जोड़ेंगे तभी उनमें बढ़ती नशे की प्रवृत्ति पर रोक लगेगी। इसके लिये ग्राम पंचायतवार तथा विकासखण्डवार कार्य योजना तैयार करके खेलों का आयोजन करायें। इनमें बालीवॉल, फुटबाल, कबड्डी तथा खो-खो जैसे खेलों को शामिल करें। जिला स्तर पर भी वृहद खेल प्रतियोगिता आयोजित करें। ग्रामीण विकास विभाग तथा खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सहयोग से खेलों का आयोजन करायें। 
कलेक्टर ने कहा कि नेहरू युवा केन्द्र के वालेंटियर केन्द्र सरकार की योजनाओं के प्रचार-प्रसार के साथ-साथ राज्य सरकार की भी कल्याणकारी योजनाओं में अपनी भूमिका निभायें। शासन की योजनाओं तथा विकास कार्यक्रमों की जानकारी आम जनता तक पहुंचाने का प्रयास करें। युवाओं को स्वरोजगार तथा कैरियर गाइडेंस से जुड़ी जानकारी एवं मार्गदर्शन प्रदान करें। नशा मुक्ति, जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, कोरोना संक्रमण से बचाव तथा अन्य सामाजिक कार्यों में युवा दल सक्रिय भूमिका निभायें। आगामी 31 अक्टूबर को ग्राम बेला में वृहद विधिक साक्षरता शिविर आयोजित किया जायेगा। इससे प्रत्येक ग्रामीण को जोड़ने के लिये युवा दल प्रयास करें। 
बैठक में नेहरू युवा केन्द्र के युवा समन्वयक कुलदीप सिंह ने वर्तमान वित्तीय वर्ष के कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि नेहरू युवा केन्द्र द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से युवाओं को जागरूक किया जा रहा है। प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लिये युवाओं को कई तरह के प्रशिक्षण दिये जा रहे हैं। नेहरू युवा केन्द्र द्वारा जिले के रायपुर कर्चुलियान, नईगढ़ी, जवा तथा सिरमौर विकासखण्डों में महिलाओं को स्वरोजगार का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। बैठक में वर्ष 2020-21 की प्रस्तावित कार्य योजना को सर्वसम्मति से मंजूरी दी गई। बैठक में एडीएम श्रीमती इला तिवारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएल गुप्ता, सचिव जिला रेडक्रास ओपी श्रीवास्तव, डॉ. प्रभाकर चतुर्वेदी, समाजसेवी मुकेश येंगल तथा नेहरू युवा केन्द्र के युवा मंडलों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। 
क्रमांक-183-3101-तिवारी-फोटो क्रमांक 01 संलग्न है। 
बारातघर तथा होटल, रेस्टोरेंट व्यवसायियों की बैठक 24 अक्टूबर को 
रीवा 17 अक्टूबर 2020. कलेक्टर इलैयाराजा टी की अध्यक्षता में 24 अक्टूबर को शहर के बारातघर, होटल रेस्टोरेंट व्यवसायियों की बैठक कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में अपरान्ह 4 बजे से आहूत की गई है। बैठक में पर्यावरण संरक्षण व प्रदूषण नियंत्रण प्रबंधन पर चर्चा की जायेगी। 
क्रमांक-184-3102-शुक्ल 
धान खरीदी के लिये उपार्जन केन्द्रों में उचित प्रबंध करें – कलेक्टर 
किसानों को अधिकतम सुविधा देते हुए पारदर्शिता से धान का उपार्जन करें – कलेक्टर 
रीवा 17 अक्टूबर 2020. कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने 16 नवम्बर से होने वाली समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की तैयारियों की समीक्षा की। कलेक्टर ने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि धान खरीदी में किसी तरह की लापरवाही सहन नहीं की जायेगी। जिन सहकारी समितियों ने गत वर्ष धान तथा गेंहू उपार्जन में अनियमिततायें की हैं उनके विरूद्ध सहकारी बैंक तथा जिला पंजीयक कड़ी कार्यवाही करें। किसानों को धान खरीदी केन्द्रों में अधिकतम सुविधा देते हुए पूरी पारदर्शिता के साथ धान का उपार्जन करायें। जिले में धान खरीदी के लिये 84 खरीदी केन्द्र बनाये गये हैं। सभी खरीदी केन्द्रों में धान उपार्जन के लिये पर्याप्त बारदाने, तौलकांटे, किसानों के लिये छाया, पानी तथा स्वच्छ शौचालय की अनिवार्य रूप से व्यवस्था करायें। 
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि गत वर्ष धान खरीदी के लिये 47 हजार 631 किसानों ने पंजीयन कराया था जबकि इस वर्ष 80 हजार से अधिक किसानों ने पंजीयन कराया है। गत वर्ष 180 लाख मीट्रिक टन धान का उपार्जन हुआ था। इस वर्ष 320 लाख मीट्रिक टन धान उपार्जन की संभावना है। इसे ध्यान में रखते हुए खरीदी केन्द्रों में धान खरीदी तथा उपार्जित धान के भण्डारण की व्यवस्था करायें। पंजीयन कराने वाले सभी किसानों द्वारा बोये गये रकबे का सत्यापन करायें। जिन किसानों ने पांच एकड़ से अधिक भूमि में धान उपार्जन के लिये पंजीयन कराया है उनका सभी एसडीएम शत-प्रतिशत सत्यापन करायें। केवल पात्र किसानों से ही शासन द्वारा निर्धारित अच्छी गुणवत्ता का धान खरीदा जायेगा। धान खरीदी के लिये आवश्यकता होने पर खरीदी केन्द्रों में वृद्धि की जायेगी। सभी खरीदी केन्द्रों में नोडल अधिकारी तैनात करें। जिले के सीमावर्ती क्षेत्र के खरीदी केन्द्रों में बाहर से धान की आवक रोकने के लिये कड़े सुरक्षात्मक उपाय किये जायेंगे। 
कलेक्टर ने कहा कि जिला पंजीयक सहकारी समितियां अनियमितता बरतने वाली समितियों पर कठोर कार्यवाही करें। जिन खरीदी केन्द्रों के संबंध में गत वर्षों में लगातार शिकायतें मिली हैं उन पर कड़ी निगरानी रखें। जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम सभी खरीदी केन्द्रों में पर्याप्त संख्या में बारदाने उपलब्ध करायें। खरीदी केन्द्रों में उपार्जित धान के तत्काल उठाव के लिये परिवहन व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त रखें। खरीदी केन्द्रों में कोरोना से बचाव, खरीदी संबंधित सभी जानकारियों के प्रकाशन तथा उपार्जित धान के भण्डारण की व्यवस्था करायें। बैठक में धान खरीदी के संबंध में चेकलिस्ट बनाने तथा किसानों को एसएमएस भेजने के संबंध में भी चर्चा की गयी। बैठक में जिला आपूर्ति नियंत्रक एमएनएच खान ने धान खरीदी के लिये किये गये प्रबंधों की जानकारी दी। बैठक में एडीएम श्रीमती इला तिवारी, जिला पंजीयकर सहकारिता व्हीके पाण्डेय, महाप्रबंधक जिला सहकारी बैंक आरएस भदौरिया, उप संचालक कृषि यूपी बागरी तथा धान उपार्जन से संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। 
क्रमांक-185-3103-तिवारी-फोटो क्रमांक 02, 03 संलग्न हैं।  
नगर परिषद डभौरा के वार्डों के आरक्षण की कार्यवाही संपन्न 
रीवा 17 अक्टूबर 2020. जिले की नव गठित नगर परिषद डभौरा के वार्डों के आरक्षण की कार्यवाही आज कलेक्ट्रेट में लॉट निकालकर संपन्न करायी गई। इस दौरान जन प्रतिनिधि व नागरिक उपस्थित रहे। संयुक्त कलेक्टर एके झा एवं अनुविभागीय अधिकारी त्योंथर संजीव कुमार पाण्डेय की उपस्थिति में संपन्न आरक्षण की कार्यवाही में अनुसूचित जाति वर्ग की महिला के लिये वार्ड क्रमांक 6 व अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित वार्ड क्रमांक 8, अनुसूचित जनजाति महिला के लिये वार्ड क्रमांक 7 व 9 तथा अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित वार्ड क्रमांक 10 एवं 13, अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के लिये वार्ड क्रमांक 5 व 14 तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के लिये वार्ड क्रमांक 4 एवं 15 तथा अनराक्षित महिला के लिये वार्ड क्रमांक एक व 12 का आरक्षण संपन्न हुआ। जबकि अनारक्षित (मुक्त) वार्ड क्रमांक 2, 3 व 11 होंगे।                        क्रमांक-186-3104-शुक्ल-फोटो क्रमांक 04 संलग्न है।  
धार्मिक स्थलों को प्लास्टिक फ्री जोन बनाया जायेगा 
रीवा शहर के किसी एक क्षेत्र का चयन प्लास्टिक फ्री क्षेत्र के तौर पर करें – कलेक्टर 
पर्यावरण संरक्षण संबंधी बैठक संपन्न 

रीवा 17 अक्टूबर 2020. नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के नवीन निर्देशों के अनुरूप पर्यावरण संरक्षण के लिये आवश्यक कार्यवाही की समीक्षा के उद्देश्य से कलेक्टर इलैयाराजा टी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई। कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि धार्मिक स्थलों को प्लास्टिक फ्री जोन बनाया जाय साथ ही नगर निगम रीवा शहर के एक क्षेत्र का चयन प्लास्टिक फ्री क्षेत्र के तौर पर करें ताकि वहां पर्यावरण संरक्षण के मानकों की पूर्ति हो सके। 
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि 20 नवम्बर तक कलेक्टर कार्यालय व नगर निगम कार्यालय को प्लास्टिक फ्री कार्यालय बनाया जायेगा तथा कलेक्ट्रेट में वायु गुणवत्ता मॉनीटरिंग स्टेशन भी 20 नवम्बर से आरंभ हो जायेगा। उन्होंने जिले के समस्त कार्यालय प्रमुखों को निर्देश दिये कि अपने कार्यालयों को स्वच्छ, प्लास्टिक फ्री व हरा-भरा बनायें। ई वेस्ट तथा अन्य अनुपयोगी सामग्री का नियमानुसार निष्पादन सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा अधिकारियों को दिये गये। कलेक्टर ने आमजन को सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग करने तथा पर्यावरण को संरक्षित रखते हुए प्लास्टिक के बने सामानों के उपयोग से बचने हेतु जागरूक करने की बात कही। उन्होंने शहरी क्षेत्रों में कचरा संग्रहण के लिये स्थल का चयन करने तथा भूमि आवंटन के लिये सभी एसडीएम व नगर पालिकाओं के सीएमओ के साथ रेमकी कंपनी के प्रतिनिधियों को आगामी सोमवार को प्रात: 10 बजे कलेक्ट्रेट में उपस्थित रहने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी नगरीय निकायों में कचरा संग्रहण केन्द्र 20 नवम्बर तक अनिवार्यत: संचालित होने लगें ताकि 20 नवम्बर को पहड़िया में बनाये गये संग्रहण केन्द्र में कचरा पहुंचाये जाने की व्यवस्था प्रारंभ हो सके। 
बैठक में रहवासी कालोनियों से निकलने वाले कचरे के प्रबंधन, बायोमेडिकल वेस्ट तथा डयेरी को शहर से बाहर स्थापित करने एवं नदी के किनारे पौधारोपण कर नदी के पर्यावरणीय प्रवाह को नियमित किये जाने की चर्चा की गयी। नदी के किनारे अवैध निर्माणों को हटाने तथा जिले के तालाबों की जियो मैपिंग किये जाने के निर्देश कलेक्टर ने बैठक में दिये। उन्होंने बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों को एनजीटी के निर्देशों की अवहेलना करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किये जाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर कमिश्नर नगर निगम मृणाल मीणा, क्षेत्रीय प्रबंधक म.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आरएस परिहार, अधीक्षण यंत्री नगर निगम शैलेन्द्र शुक्ल सहित विभागीय अधिकारी व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी उपस्थित रहे। 
क्रमांक-187-3105-शुक्ल-फोटो क्रमांक 05, 06 संलग्न हैंै। 

कोरोना संक्रमित मिलने पर जिले के 19 स्थानों में बनाये गये कंटेनमेंट क्षेत्र

रीवा 17 अक्टूबर 2020. जिले के 19 स्थानों में कोरोना संक्रमित रोगी पाये जाने पर कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट इलैयाराजा टी ने कंटेनमेंट क्षेत्र बनाने के आदेश दिये हैं। जारी अलग-अलग आदेशों के अनुसार तहसील त्योंथर के ग्राम अमाव वार्ड क्रमांक एक में जय मिश्रा के घर से विन्ध्येश्वरी मिश्रा के घर तक, ग्राम गंगतीरा कला के वार्ड क्रमांक 2 में राजेश कोरी के घर से शुभम कहांर के घर तक, ग्राम देउपा कोठार के वार्ड क्रमांक 16 में छब्बू के घर से हीरा आदिवासी के घर तक, ग्राम मझिगवां पोखरी टोला में वार्ड क्रमांक 13 में रामनाथ यादव के घर से गंगा प्रसाद बहेलिया के घर तक के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया गया है। 
कलेक्टर ने तहसील हनुमना के ग्राम हटवा वार्ड क्रमांक 5 में प्रभावती उपाध्याय का घर, ग्राम मलैगवा के वार्ड क्रमांक 4 में सत्यभामा केवट तथा आरती केवट का घर, ग्राम बढ़ैया में रामजतन साहू का घर, नगर परिषद हनुमना के वार्ड क्रमांक 7 मसुरिहा नगर में रूचि तिवारी का घर तथा तहसील गुढ़ के ग्राम गुढ़ वार्ड क्रमांक 4 में वीरेन्द्र सिंह के घर को कंटेनमेंट क्षेत्र बनाने के आदेश दिये हैं। 
कलेक्टर ने कोरोना संक्रमित रोगी पाये जाने पर तहसील हुजूर के ग्राम सोनौरी वार्ड क्रमांक 2 में राजबिहारी तिवारी तथा शिवाकांत तिवारी के घर, ग्राम मध्येपुर वार्ड क्रमांक 4 में रामकुमार सिंह का पंप हाउस, तहसील सेमरिया के ग्राम जरमई में अनिरूद्ध कुशवाहा का घर तथा तहसील नईगढ़ी के ग्राम फूलकरण सिंह में जवाहरलाल प्रजापति के घर को कंटेनमेंट एरिया बनाने के आदेश दिये हैं। नगर परिषद मऊगंज के वार्ड क्रमांक 2 में राधेश्याम गुप्ता का घर, तहसील मऊगंज के ग्राम बरयांकला में राजकली कोल तथा सौखीलाल कोल के घर, ग्राम पनिगवां में सूरज साकेत का घर तथा ग्राम सेमरिहा में धर्मवती द्विवेदी के घर को कंटेनमेंट क्षेत्र बनाने के आदेश दिये गये हैं। कंटेनमेंट एरिया में आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।
जारी आदेश के अनुसार घोषित किये गये कंटेनमेंट एरिया में निवास करने वाले सभी निवासियों को होम क्वारेंटाइन में रहना होगा। इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग, पुलिस विभाग तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए अधिकृत व्यक्तियों के अतिरिक्त सभी का प्रवेश वर्जित होगा। कंटेनमेंट एरिया में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा अन्य स्थानीय कर्मचारियों के दल तैनात किये गये हैं। इनके द्वारा कंटेनमेंट क्षेत्रों के प्रत्येक घर में जाकर निर्धारित प्रपत्र में व्यक्तियों की जानकारी तैयार की जायेगी। जारी आदेश के अनुसार संबंधित क्षेत्र में कंटेनमेंट एरिया के लिए संबंधित एसडीएम कोे इंसिडेंट कमाण्डर बनाया गया है। इन्हें सहयोग देने के लिए राजस्व, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, जनपद पंचायत तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारी तैनात किये गये हैं। कलेक्टर ने कंटेनमेंट क्षेत्रों में निर्देशों तथा प्रतिबंधों का कठोरता से पालन कराने के निर्देश दिए हैं। 
क्रमांक-188-3106-शुक्ल 

कलेक्टर ने 35 स्थानों से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के दिये आदेश

रीवा 17 अक्टूबर 2020. कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट इलैयाराजा टी ने जिले के 35 स्थानों कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश दिये हैं। जारी अलग-अलग आदेशों के अनुसार रीवा नगर निगम क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 12 खुटेही में आसिया आयूब का घर, वार्ड क्रमांक 5 शिल्पी कामता रेजिडेंसी में विजय कुमार सेनदान का घर, इसी वार्ड के चाणक्यपुरी कालोनी में दिनेश गुप्ता का घर, शिवधाम कालोनी ढेकहा में मुरलीधर शुक्ला का घर, ढेकहा में गौतम निवास, वार्ड क्रमांक 35 फोर्ट रोड में बृजेन्द्र ताम्रकार का घर, वार्ड क्रमांक 7 सिविल लाइन में राकेश कटारे का घर, वार्ड 4 देवालय कालोनी में दिनेश गुप्ता का घर तथा इसी वार्ड के खैरी नई बस्ती चोरहटा में बाबूलाल रजक के घर से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश दिये गये हैं। 
कलेक्टर ने रीवा नगर निगम क्षेत्र के ही वार्ड क्रमांक 38 रानी तालाब में ओमप्रकाश साहू का घर, वार्ड क्रमांक 17 नरेन्द्र नगर में नरेन्द्र चतुर्वेदी का घर, वार्ड क्रमांक 9 निराला नगर में भैयालाल शुक्ला का घर, वार्ड क्रमांक 24 अर्जुन नगर में एमए ताजिर का घर, वार्ड क्रमांक 43 चिरहुला में जगदीश प्रसाद नामदेव, आरएल मिश्रा तथा मनोज प्रताप सिंह के घर, वार्ड क्रमांक 15 रतहरा में प्रदीप शर्मा तथा देवेन्द्र त्रिपाठी के घर, वार्ड क्रमांक 14 समान में जगदीश प्रसाद गुप्ता तथा इसी वार्ड के अरूण नगर में विद्या पाण्डेय के घर, वार्ड क्रमांक 8 नीम चौराहा में रामरती सोंधिया का घर तथा इसी वार्ड में बोदाबाग में हेम्वातेश्वरी शर्मा के घर से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश दिये हैं। रीवा नगर निगम क्षेत्र के ही वार्ड क्रमांक 10 तुलसी नगर में आर मिश्रा का घर, वार्ड क्रमांक 29 पाण्डेन टोला में एनएच प्रधान का घर, वार्ड क्रमांक 11 इन्द्रा नगर में डीपी सिंह का घर, वार्ड क्रमांक 27 बिछिया हास्पिटल के पीछे अरूणा भोजराज का घर तथा इसी वार्ड में नवीं बटालियन में रावेन्द्र शर्मा का घर, वार्ड क्रमांक 16 आजाद नगर में मुनेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी का घर तथा इसी वार्ड में रवीन्द्र नगर में आदित्य प्रताप सिंह का घर एवं वार्ड क्रमांक 13 नेहरू नगर में श्याम सदन से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश दिये गये हैं। 
कलेक्टर ने तहसील हनुमना के ग्राम अर्जुनपुर के वार्ड क्रमांक 11, ग्राम छिरहा के वार्ड क्रमांक 10, ग्राम बधैया के वार्ड क्रमांक 14, नगर परिषद हनुमना के वार्ड क्रमांक 7, तथा अनुभाग त्योंथर के ग्राम खम्हरिया के वार्ड क्रमांक 5 में नागेन्द्र सिंह के घर से महेश सिंह के घर तक के क्षेत्र से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश दिये हैं। कलेक्टर ने अंतिम पुष्ट मामला मिलने के बाद लगातार दो सप्ताह तक लैब द्वारा कोविड-19 का कोई पुष्ट मामला नहीं मिलने पर इन स्थानों से कंटेनमेंट एरिया समाप्त करने के आदेश जारी किये हैं। यह आदेश संबंधित क्षेत्र के इंसिडेंट कमाण्डर एवं एसडीएम तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व खण्ड चिकित्सा अधिकारी से प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर जारी किये गये हैं। 
क्रमांक-189-3107-शुक्ल 
पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए अब आवेदन 7 नवम्बर तक 

रीवा 17 अक्टूबर 2020. आदिम जाति कल्याण विभाग के पोर्टल के माध्यम से अनुसूचित जाति एवं जनजाति के छात्रों को पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास भत्ता का वितरण किया जा रहा है। एमपीटीएएएस के पीएमएस मॉड्यूल पर डेटा/नॉन रिफन्डेबल फीस अपलोड करने के लिए संबंधित शैक्षणिक संस्था के नोडल विभागों को आईडी एवं पासवर्ड प्रदाय किए गए हैं, जिसके माध्यम से विभाग द्वारा डाटा अपलोड किया जायेगा। 
आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक ने बताया कि वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 के पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता के आवेदन पत्र जमा करने के लिए अंतिम तिथि 15 अक्टूबर निर्धारित की गई थी। अब इसे 7 नवम्बर तक बढ़ा दिया गया है। सभी प्राचार्य तथा छात्रवृत्ति के लिये तैनात नोडल अधिकारी 7 नवम्बर तक सभी पात्र विद्यार्थियों के छात्रवृत्ति के आवेदन पत्र दर्ज कराकर उनका सत्यापन अनिवार्य रूप से करायें। उक्त नियत तिथि पश्चात संबंधित विद्यार्थियों द्वारा एमपीटीएएएस पोर्टल पर आवेदन नहीं किया जा सकेगा, जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व संस्था/नोडल अधिकारी (प्राचार्य) का होगा। उन्होंने कहा है कि माह अक्टूबर से शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए एमपीटीएएएस पोर्टल पर पीएमएस छात्रवृत्ति का डेटा/नॉन रिफन्डेबल फीस संबंधित नोडल विभाग अपलोड करें। एमपीटीएएएस के पीएमएस मॉड्यूल में जिन छात्रों के बैंक खाते एनपीसीआई चालू न होने के कारण भुगतान लंबित है उन छात्रों के बैंक खाते संस्था प्रमुख छात्रों से संपर्क कर आधार नंबर बैंक खाते से लिंक कराकर छात्रों की छात्रवृत्ति का भुगतान सुनिश्चित करायें। 
क्रमांक-190-3108-शुक्ल

No comments