Breaking News

*जिला जनसंपर्क कार्यालय सतना समाचारतीन दिवसीय ”बिटिया उत्सव“ कार्यक्रम* *आज से 11 अक्टूबर तक*



  सतना 8 अक्टूबर 2020/“बिटिया उत्सव” बेटियों को सशक्त बनाने तथा उनको समान अधिकार और अवसर प्रदान करने का एक मंच है। अंर्तराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर 9 अक्टूबर से 11 अक्टूबर तक जिला प्रशासन एवं महिला बाल विकास द्वारा तीन दिवसीय बिटिया उत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इस उत्सव में बेटियों के सपनों को हौसलों का पंख देने हेतु विभिन्न कार्यक्रम जिला मुख्यालय एवं जनपद मुख्यालयों में आयोजित किए जाएंगे।
    जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास ने बताया कि बिटिया उत्सव का शुभारंभ 9 अक्टूबर को प्रातः 11 बजे से चौपाटी सिविल लाईन में किया जाएगा। इसी दिन साइबर क्राइम से बचाव तथा डिजिटल साक्षरता पर परिसंवाद कार्यक्रम जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय में अपरान्ह 4 बजे से आयोजित किया गया है। इसी प्रकार 10 अक्टूबर को युवाओं के साथ लैंगिक समानता पर संवाद बूटीबाई अग्रवाल विद्या सदन जवाहर नगर में प्रातः 11 बजे से एवं आत्मरक्षा के गुर एवं आज के दौर में आवश्यकता कार्यक्रम जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय में सायं 6 बजे से आयोजित होगा। इसी प्रकार जनपद मुख्यालयों में 9 एवं 10 अक्टूबर को रंगोली, पोस्टर, स्लोगन प्रतियागिता, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं पर बघेली लोकगीत, लघु नाटिका, आत्मरक्षा प्रशिक्षण, बेटी जन्मोत्सव, सेल्फी विथ फुट प्रिन्ट, कैरियर मार्गदर्शन, फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिता, स्वच्छता परामर्श एवं सेनेटरी पैड वितरण, नगरीय निकायों में पिंक पार्किंग एवं जेण्डर समानता संवाद कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अंर्तराष्ट्रीय बालिका दिवस समारोह 11 अक्टूबर को प्रातः 11 बजे से टाउन हाल बस स्टैण्ड सतना में आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम स्थल पर कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना अनिवार्य है।
समाचार क्र.-67/अक्टूबर/2020
बिरसिंहपुर के दो वार्ड कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित
सतना 8 अक्टूबर 2020/अनुविभागीय दंडाधिकारी मझगवां श्री एचके धुर्वे ने अनुभाग मझगवां अंतर्गत नगर पंचायत बिरसिंहपुर के वार्ड क्रमांक-8 एवं वार्ड क्रमांक-9 में कोरोना संक्रमित मरीज पाये जाने पर इस क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित करते हुए आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया है। जारी आदेश के अनुसार घोषित किये गये कंटेनमेंट एरिया में निवास करने वाले सभी निवासियों को होम क्वारेंटाइन में रहना होगा। इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग, पुलिस विभाग तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए अधिकृत व्यक्तियों के अतिरिक्त सभी का प्रवेश वर्जित होगा। कंटेनमेंट एरिया में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा अन्य स्थानीय कर्मचारियों के दल तैनात किये गये हैं। इनके द्वारा कंटेनमेंट क्षेत्रों के प्रत्येक घर में जाकर निर्धारित प्रपत्र में व्यक्तियों की जानकारी तैयार की जायेगी। 
समाचार क्र.-68/अक्टूबर/2020
जिले में अब तक 789 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज
     सतना 8 अक्टूबर 2020/जिले में इस वर्ष 1 जून से 8 अक्टूबर 2020 तक 789 मि0मी0 औसत वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में 992.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई थी। अधीक्षक भू-अभिलेख सतना से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले की सतना (रघुराजनगर) तहसील में 1218.3 मि0मी0, सोहावल (रघुराजनगर) में 613.1 मि0मी0, बरौंधा (मझगवां) में 590.8 मि0मी0, बिरसिंहपुर में 800 मि0मी0, रामपुर बघेलान में 635 मि0मी0, नागौद में 877.3 मि0मी0, जसो (नागौद) में 518.7 मि0मी0, उचेहरा में 907 मि0मी0, मैहर में 651.4 मि0मी0, अमरपाटन में 811 मि0मी0 तथा रामनगर तहसील में 1057.5 मि0मी0 औसत वर्षा अब तक दर्ज की जा चुकी है। जिले की औसत सामान्य वर्षा 1039.7 मि0मी0 है।
समाचार क्र.-69/अक्टूबर/2020
कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक 1516 व्यक्ति स्वस्थ हुये
     सतना 8 अक्टूबर 2020/जिले में नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण और बीमारी की रोकथाम एवं बचाव के लिये जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। साथ ही राज्य स्तर द्वारा जारी किये गये सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में कोरोना वायरस के गुरूवार को 19 नए मरीज प्राप्त हुए तथा 28 मरीज स्वस्थ्य हुए। अब तक कुल 1699 पॉजीटिव मरीज पाये गये हैं। जिले में कोरोना वायरस के संक्र मण से अभी तक 1516 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में एक्टिव केस की संख्या 151 है। 
समाचार क्र.-70/अक्टूबर/2020
(2)
सड़कों के जाल से हो रही विकास की राह आसान- मुख्यमंत्री श्री चौहान
मनरेगा और प्रधानमंत्री सड़क योजना में निर्मित सड़कों का हुआ वर्चुअल लोकार्पण
सतना 8 अक्टूबर 2020/मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना काल में श्रमिकों और किसानों सहित नागरिकों की तकलीफें दूर करने का भरसक प्रयास किया गया। हमारा देश गांव में बसता है। अधोसंरचना क्षेत्र में कार्य से आर्थिक गतिविधियों को बल मिलेगा और वर्तमान दिक्कतों को दूर किया जा सकेगा। विशेषकर सड़कों का जाल बिछाने से विकास की राह आसान हो रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मिंटो हॉल में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा निर्मित लगभग 13 हजार ग्रामीण सड़कों का वर्चुअल लोकार्पण कर रहे थे। लोकार्पित सड़कों में उप चुनाव वाले जिलों की सड़कों को लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल नहीं किया गया। वर्चुअल लोकार्पण के अवसर पर एनआईसी कक्ष में सासंद श्री गणेश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुधा सिंह, श्री उमेश प्रताप सिंह सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम में ग्राम पंचायतों, स्व-सहायता समूहों, ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों ने भागीदारी की।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना काल में बनी ग्रामीण सड़क कार्यों की सराहना करते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा निभाई गई सक्रिय भूमिका के लिए बधाई दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सड़कों के निर्माण से आम लोगों की जिन्दगी बदलती है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल जी ने देश में वृहद स्तर पर सड़कों के निर्माण का संकल्प लिया था। प्रधानमंत्री श्री मोदी भी इस दिशा में रुचि लेकर सड़कों के निर्माण के कार्यों को गति देने का कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि सड़कों के साथ ही ग्रामों में आवास क्षेत्र में भी अधिकाधिक कार्य कर उपलब्धि प्राप्त करने का लक्ष्य है। 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में मार्च में कोरोना संक्रमण के उपचार की संपूर्ण व्यवस्थाएं की गईं। इस संकट के समय में स्थानीय और प्रवासी श्रमिकों की रोजी-रोटी की समस्या को दूर करते हुए उन्हें विभिन्न कार्यों से संलग्न किया गया। रोजगार सेतु पोर्टल बनाया गया। आजीविका मिशन के तहत महिलाओं ने स्व-सहायता समूहों के माध्यम से बड़ी संख्या में मास्क, साबुन और सेनेटाइजर का निर्माण कर कोरोना के विरुद्ध अपनी भागीदारी दर्ज की। किसान कल्याण के लिए भी अनेक कदम उठाए गए। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने भारतीय खाद्य निगम के गोदामों के द्वार खोल दिए। जरूरतमंदों को राशन मिला। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार जनकल्याण के कार्यों में कोई बाधा नहीं आने देगी। ऐसे कार्यों के लिए धनराशि की कमी आड़े नहीं आएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेत सड़क योजना पर ध्यान देंगे। इससे किसान अपनी मेहनत से उगाए उत्पादन को विक्रय के लिए आसानी से भेज सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर कोरोना से अपना बचाव करने का भी आग्रह किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि फिलहाल फेस मास्क ही वैक्सीन है। प्रत्येक व्यक्ति अपना बचाव करे, सावधानी में ही सुरक्षा है।
आपदा को अवसर में बदला गया
कोरोना काल में प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने 4 हजार 120 किलोमीटर लंबी 12 हजार 960 ग्रामीण सड़कों का निर्माण करवा कर आपदा को अवसर में बदला। ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत यह सड़कें 1359 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित हुई हैं। लोकार्पण वाले 33 जिलों में 4.83 लाख कार्यों में 46.39 लाख श्रमिकों को नियोजित किया गया। कुल 11.62 करोड़ मानव दिवस सृजित किए जा चुके हैं। कोरोना आपदा काल में ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध कराने के साथ विकास प्रक्रिया सतत जारी रखते हुये ये सड़कें बनाई गईं। इसी तरह प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत इस वित्त वर्ष में 15 लाख श्रमिक दिवस सृजित किए गए। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में 1104 किलोमीटर लम्बी 171 सड़कें एवं 47 बड़े पुल शामिल हैं। इनकी लागत 691.41 करोड़ रूपये है। पंचायत ग्रामीण विकास विभाग ने इस अवधि में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत 3016 किलोमीटर लंबाई की सीमेंट कांक्रीट की 10 हजार 792 सड़कें तथा ग्रामों के भीतर स्कूल, मजरे-टोलों आदि में सुगमता से आने-जाने के लिये 1997 ग्रेवल भी निर्मित कीं, जो ग्रामवासियों के लिए उपयोगी सिद्ध हो रहे हैं।
मुख्यमंत्री श्री चौहान की पंचायत पदाधिकारियों से बातचीत
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोकार्पण के बाद कुछ जिलों की ग्राम पंचायतों के पदाधिकारियों से संवाद भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पंचायत पदाधिकरियों को कम समय अवधि में संपन्न निर्माण कार्यों के लिए बधाई भी दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पंचायत पदाधिकारियों से विकास कार्यों के संबंध में चर्चा की और ग्राम में उपलब्ध सुविधाओं, शिक्षा, स्वास्थ्य की स्थिति और कोरोना से बचाव के लिए अपनाए गए उपायों की भी जानकारी प्राप्त की। अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव ने विभागीय गतिविधियों की जानकारी दी। मिंटो हॉल स्टूडियो में आयोजित वर्चुअल लोकार्पण कार्यक्रम में सड़कों के निर्माण पर एक लघु फिल्म भी प्रदर्शित की गई। कार्यक्रम में प्रदेश के पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्कड़ जनजाति कल्याण (स्वतंत्र प्रभार), पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल, प्रमुख सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री सचिन सिन्हा, आयुक्त राज्य रोजगार गारंटी परिषद सोफिया फारुकी वली, आयुक्त जनसंपर्क डॉ. सुदाम खाडे भी उपस्थित थे।
समाचार क्र.-71/अक्टूबर/2020
(3)
ग्राम खैरा कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित
सतना 8 अक्टूबर 2020/अनुविभागीय दंडाधिकारी मैहर श्री सुरेश अग्रवाल ने तहसील मैहर अंतर्गत ग्राम खैरा में कोरोना संक्रमित मरीज पाये जाने पर इस क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित करते हुए आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया है। जारी आदेश के अनुसार घोषित किये गये कंटेनमेंट एरिया में निवास करने वाले सभी निवासियों को होम क्वारेंटाइन में रहना होगा। इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग, पुलिस विभाग तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए अधिकृत व्यक्तियों के अतिरिक्त सभी का प्रवेश वर्जित होगा। कंटेनमेंट एरिया में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा अन्य स्थानीय कर्मचारियों के दल तैनात किये गये हैं। इनके द्वारा कंटेनमेंट क्षेत्रों के प्रत्येक घर में जाकर निर्धारित प्रपत्र में व्यक्तियों की जानकारी तैयार की जायेगी। 
समाचार क्र.-72/अक्टूबर/2020
टी.बी. रोगियों को खोजने हेतु शिविर 12 अक्टूबर को नागौद, जसो, सिंहपुर में
    सतना 8 अक्टूबर 2020/जिला क्षय अधिकारी ने बताया कि जिले में ज्यादा से ज्यादा टी.बी. से पीडि़त रोगियों को खोजने हेतु 19 अक्टूबर तक शिविरो का आयोजन किया गया है। यह शिविर 12 अक्टूबर को नागौद, जसो, सिंहपुर में, 14 अक्टूबर को उचेहरा, परसमनिया, कुलगढ़ी, 16 अक्टूबर को मैहर, अमदरा, बदेरा, 17 अक्टूबर को अमरपाटन, मुकुंदपुर, झिन्ना, बहेलिया भाठ तथा 19 अक्टूबर को धवारी, सिंधीकैम्प, हनुमाननगर नईबस्ती सतना में किया जाएगा। शिविर में मरीज आकर अपना निःशुल्क इलाज करा सकते है। शिविर अथवा स्वास्थ्य केन्द्र में आने वाले टी.बी. मरीज अपने साथ आधार कार्ड, बैंक पासबुक की छायाप्रति साथ लेकर आयें। साथ ही स्वास्थ्य केन्द्र में अपना मोबाईल नम्बर दर्ज कराये। 
    राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत नोटिफिकेशन 20 सितम्बर से 20 अक्टूबर 2020 तक किया गया है। जिसके अंतर्गत आशा कार्यकर्ता, ए.एन.एम. एम.पी.डब्ल्यू, डी.पासा.एम. एव एन.टी.ई.पी स्टाफ के द्वारा निक्षय उत्सव कार्ययोजना में विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से नये क्षय रोगियों की खोज कर उपचार कराना है। डी.बी.टी. के माध्यम से निक्षय पोषण योजना अंर्तगत उपचारित टी.बी. मरीजों को उपचार के दौरान 500 रूपये प्रतिमाह की दर से पोषण राशि प्रदाय की जाती है। स्वास्थ्य कार्यकताओं द्वारा टी.बी. से पीडि़त रोगियों की पहचान कर उचित इलाज के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में पहुंचाया जाता है। टी.बी. से पीडि़त रोगियों की पहचान करने के लिए घर-घर जाकर ऐसे व्यक्ति की स्क्रीनिंग की जाती है, जिन्हें दो हफ्ते से अधिक खांसी, शाम को हल्का बुखार, वजन मे कमी, भूख न लगना आदि लक्षण होते है। उक्त लक्षण वाले व्यक्तियों की बलगम जांच नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में कराई जाती है। जांच में टी.बी. पॉजिटिव पाये जाने पर मरीजों को टी.बी. का उपचार निःशुल्क किया जाता है। 
समाचार क्र.-73/अक्टूबर/2020
उन्नत कृषि यंत्रों के लिए ऑनलाइन ऐप
    सतना 8 अक्टूबर 2020/भारत सरकार द्वारा फार्मस एप (फार्म मशीनरी सॉल्यूशन) एप्लीकेशन कृषकों के लिए लांच किया गया है। यह एप्लीकेशन सिर्फ भारत के 6 राज्यों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत लांच किया जिसमें मध्यप्रदेश भी शामिल है। इसका उद्देश्य कृषकों को उन्नत कृषि यंत्र ऑनलाइन उपलब्ध कराना है। जिले के समस्त कस्टम हायरिंग हितग्राही एवं हाईटेक कस्टम हायरिंग हितग्राही एवं वह कृषक जो कृषि उद्यम के क्षेत्र में जुड़े हैं, वे उन्नत कृषक जिनके पास में ट्रैक्टर आदि यंत्र उपलब्ध है। गूगल प्ले स्टोर पर जाकर इस एप्लीकेशन को डाउनलोड किया जा सकता है। जिले के कृषक इस एप्लीकेशन पर अधिक से अधिक संख्या में जुड़कर अपना पंजीयन करें। जिससे जरूरतमंद कृषकों को मशीनरी हेतु एक नया प्लेटफार्म उपलब्ध हो सके।
समाचार क्र.-74/अक्टूबर/2020
जैव-विविधता क्विज-2020 की राज्य-स्तरीय क्विज प्रतियोगिता 24 अक्टूबर को
    सतना 8 अक्टूबर 2020/मध्यप्रदेश राज्य जैव-विविधता क्विज-2020 की ऑनलाइन प्रतियोगिता के अगले चरण में 24 अक्टूबर को राज्य-स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। यह प्रतियोगिता ष्अंतर्राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन दिवसश्श् के मौके पर राज्य-स्तरीय मध्यप्रदेश राज्य जैव-विविधता ऑनलाइन क्विज-2020 प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। इसमें प्रत्येक जिले से प्रथम स्थान पर आई टीम राज्य-स्तरीय क्विज प्रतियोगिता में शामिल हो सकेगी।
समाचार क्र.-75/अक्टूबर/2020
*सुनील कुमार अहिरवार ब्यूरो चीफ सतना की रिपोर्ट*

No comments