Breaking News

गया के क्रिकेट खिलाड़ियों को मिलेगा आधुनिक प्रशिक्षण




(कृषि मंत्री और गया के विधायक श्री प्रेम कुमार ने किया बॉल मशीन का उद्घाटन) 

रिपोर्टःडीके पंडित
बिहार के जिला गया में क्रिकेट खिलाड़ियों के लिए एक खुशख़बरी है। उनकी ट्रेनिंग अब बॉल मशीन से होगी। यह मशीन प्रोफेशनल क्रिकेट ट्रेनिंग सेंटर (पीसीटीसी) ने बंगलुरु से मंगवाई गई है। इस मशीन की मदद से पहली बार सूबे के क्रिकेट खिलाड़ियों को 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से आने वाली गेंदों को खेलने की ट्रेनिंग मिल सकेगी।

बॉल मशीन का उद्घाटन कृषि मंत्री और गया के विधायक प्रेम कुमार ने किया। मौक़े पर गया ज़िला क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव कुलश्कर सिंह  भी मौजूद रहे। पीसीटीसी के संस्थापक और हेड कोच सत्यम वर्मा ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा, “राज्य और जिला क्रिकेट के विकास के लिए आधुनिक उपकरणों की ज़रूरत महसूस होती रही थी। यह पहला मौक़ा है जब गया में बॉल मशीन से खिलाड़ियों की ट्रेनिंग संभव हो सकेगी। इससे खिलाड़ियों को बॉल जज करने में, तेज़ रफ़्तार की गेंद खेलने और शॉट सेलेक्शन में मदद मिलेगी।” बताते चलें कि सत्यम वर्मा बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से स्पोर्ट्स साइंस की विशेषज्ञता प्राप्त कोच हैं. वह महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट एकेडमी से भी जुड़े हैं और लेवल ए कोच हैं. 

उद्घाटन करते हुए मंत्री प्रेम कुमार ने कहा, “गया में खेल के विकास के लिए यह एक ज़रूरी कदम है। आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल से हमारे खिलाड़ी बेहतर क्रिकेट खेलकर जिला और राज्य का नाम रोशन करें।”

गया जिला क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव और क्रिकेट खिलाड़ियों ने मंत्री जी से एक बेहतर क्रिकेट ग्राउंड की मांग की. उन्होंने कहा, "गया में टेलेंट की कोई कमी नहीं है. पीसीटीसी के नेतृत्व में खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण भी मिल रहा है. बस जरूरत है एक अच्छे क्रिकेट ग्राउंड की. मैं मंत्रीजी से आग्रह करूँगा कि वो इस ओर ध्यान देकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करें."

श्री प्रेम कुमार ने खिलाड़ियों को हर संभव मदद करने का वादा किया है.  खिलाड़ियों की मांग का समर्थन करते हुए मंत्री ने पीसीटीसी और जिला क्रिकेट एसोसिएशन को एक मसौदा तैयार करने को कहा है. उन्होंने केंद्र सरकार की खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने वाली पहलों का भी जिक्र किया.

No comments