Breaking News

✍️✍️✍️✍️सशक्त स्थाई समिति की बैठक में स्वच्छता सर्वेक्षण सर्वे में लापरवाही बरतने वाले सिटी मैनेजर के वेतन पर रोक सहित निलंबन का निर्णय🔷🔷🔷👇👇




सशक्त स्थाई समिति की बैठक में स्वच्छता सर्वेक्षण सर्वे में लापरवाही बरतने वाले सिटी मैनेजर के वेतन पर रोक सहित निलंबन का निर्णय


गया। गया शहर स्वच्छता सर्वेक्षण सर्वे के रिपोर्ट में लापरवाही बरतने वाले गया नगर निगम के सिटी विष्णु प्रभाकर को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए वेतन पर रोक लगा दी गई है। यह निर्णय गया नगर निगम सभागार में गुरूवार को हुई मेयर वीरेन्द्र कुमार उर्फ गणेश पासवान की अध्यक्षता में सशक्त स्थायी समिति में सदस्यों ने सामुहिक रूप से एक स्वर में लिया है।

 बैठक का संचालन डिप्टी मेयर अखौरी ओंकारनाथ उर्फ मोहन श्रीवास्तव ने किया। बैठक में नगर आयुक्त सावन कुमार, वार्ड पार्षद सह सशक्त स्थाई समिति के सदस्य विनोद यादव, मनोज कुमार, उषा देवी, संतोष कुमार, चुन्नू खां, अबरार अहमद,सफाई प्रभारी शैलेन्द्र कुमार सिन्हा,उप नोडल पदाधिकारी सफाई दिनकर प्रसाद, सहायक अभियंता विनोद कुमार,जेई सुबोध सिंह,जलपार्षद राकेश कुमार उर्फ दीपक, लेखाधिकारी गौतम कुमार, राजस्व पदाधिकारी मो.इम्तेयाज अली सहित अन्य मौजूद थे। 

सशक्त स्थाई समिति की बैठक में डिप्टी मेयर ने शहर के जलापूर्ति व्यवस्था पर चर्चा करते हुए कहा कि बुडको के दो संवेदक रेमकी व श्रीराम के प्रोजेक्ट मैनेजर के लापरवाही के कारण जलाआपूर्ति बेहतर के बजाय चौपट कर दिया है। उनके लापरवाही का आलम यह है कि पाइप बिछाने के नाम पर जगह-जगह रोड कटिंग कर दिया गया। नियम यह कहता है कि एक सप्ताह के अंदर रोड कटिंग ढलाई कर देना है। लेकिन एक भी जगह ढलाई का काम नहीं हुआ है। जिसके कारण कई मोहल्ला जल जमाव से नारकीय स्थिति बनी हुई है। खरखुरा, धनिया बगीचा पूरी तरह नारकीय स्थिति में लोग आवागमन कर रहे है। कई लोगों के पैर हाथ तक टूटने की शिकायत हमेशा मिलती रहती है। दोनों संवेदक को बार-बार कई बार निर्देश देने के बाद काम को धीमी गति किए हुए हैं। मेयर-डिप्टी मेयर ने कहा कि पहले रोड कटिंग वाले जगहों पर ढलाई करें, तब काम को आगे करेंगे। 

वहीं बुडको के कार्यपालक अभियंता सहयोग के बदले आरोप-प्रत्यारोप का बयान बाजी करते हैं। इस पर समिति के सदस्यों ने सामूहिक रूप से निर्णय लेते हुए कानून सम्मत कार्रवाई के लिए निगम से एमओयू रद्द करना निर्णय लिया। अवैध करोड़ो के निकासी के विरुद्ध कार्यपालक अभियंता पर निलंबन के लिए कानून सम्पत निर्णय लिया है।

बैठक में इसके अलावा कोविड-19 को देखते हुए निगम एक पखवारे तक शुक्रवार से विशेष अभियान चलाकर वार्डवार अंदर-बाहर स्वच्छता के लिए चुना गाढ़ा ब्लीचिंग का छिड़काव एवं फागिंग एवं सैनिटाइजेशन कार्य किया जाएगा।

वहीं बैठक में सरकार के निर्देशो के आलोक में लाल रंग के एक लाख बाल्टी डस्टबिन खरीदने का निर्णय हुआ। डोर टू डोर ठेला का डब्बा दो हजार खरीदने का निर्णय लिया गया है।

No comments