Breaking News

बिहार - विधानसभा चुनाव के पहले प्रधानमंत्री एवम् मुख्यमंत्री द्वारा जुमलों की वर्षात - कांग्रेस


 अजय कुमार पाण्डेय।            गया: ( बिहार ) अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी सदस्य सह मगध प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता प्रो0 विजय कुमार मिठू, इंटक प्रदेश सचिव अशोक सिंह, युवा कांग्रेस अध्यक्ष कुंदन कुमार, कांग्रेस सेवादल  प्रदेश महासचिव अमरजीत कुमार, मुख्य संगठक टिंकू गिरी, विद्या शर्मा, अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ अध्यक्ष प्रदीप शर्मा,व्यवसायिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष बबलू कुमार, प्रो0 अमरेन्द्र सिंह मंटू, धरम भवानी सिंह, आदि ने कहा कि सन् 2015 विधानसभा चुनाव के तर्ज पर फिर प्रधानमंत्री बिहार में जुमलों की सौगात देने में मशगूल है तथा उनके साथ हामी भरने में मुख्यमंत्री भी साथ है। कांग्रेस नेताओ ने कहा की पूर्व की घोषणाएं जैसे 1.25 लाख करोड़ का बिहार के लिए विशेष पैकेज की बाते आर0टी0आई0 के जवाब से पूरी तरह जुमला सिद्ध हो चुका है!  बिहार को विशेष राज्य का दर्जा, पटना विश्वविद्यालय को सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाने, गंगा की सफाई आदि कोई भी काम बिहार में नहीं हुआ! अब फिर विधानसभा चुनाव को देखते हुए प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी एवम् मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार विगत कई दिनों से घोषणाएं पर घोषणाएं कर राज्य की जनता को पूर्व की भांति ठगने का काम कर रहे हैं! जिसे दूध का जला मठ्ठा भी फुक - फुक कर पीने की आदत हो जाती है! ठीक उसी प्रकार राज्य की महान जनता इस बार चुनाव में भी जवाब देने के लिए तैयार बैठी हुई है। कांग्रेस नेताओ ने कहा की कल संसद में जब सरकार से कोरोना वायरस महामारी संकट में लॉक डाउन के दौरान देश में कुल मारे गए प्रवासी भारतीयों कि संख्या पूछी गई?  तो सरकार ने संख्या बताने से इंकार कर दिया!  जबकि मरने वालो में सबसे ज्यादा बिहार के लोग ही शामिल है तथा देश में सबसे ज्यादा प्रवासी बिहार से ही है। कांग्रेस नेताओ ने कहा की कोरोनावायरस महामारी संकट के लिए केंद्र - सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ का भी कोई अता -  पता नहीं है? तो दूसरी ओर बिहार के सत्रह जिलों में बाढ़ पीड़ितो का हाल बेहाल है? मध्य -  दक्षिण बिहार के किसान सुखाड़ से त्राहि, - त्राहि कर रहे है? कांग्रेस नेताओ ने कहा की बिहार की महान मतदाता इस बार के विधानसभा चुनाव में " बोले - बिहार, बदले सरकार" के नारो को बुलंद करते हुए, नीतीश सरकार को हटाने का मन बना चुकी है।

No comments