Breaking News

विभाग के वरीय पदाधिकारी ने चौकीदार को किया निलंबित )


BHARAT NEWS LIVE24    बाध्य होकर रफीगंज चौकीदार का किया गया निलंबन             ( रफीगंज विभागीय पदाधिकारी द्वारा *चौकीदार रामप्रवेश पासवान* को बचाने के लिए काफी किया गया प्रयास, परंतु *ऑल इंडिया एंटी करप्शन मूवमेंट सचिव रंजीत कुमार चौरसिया ने भी कभी नहीं मानी विभागीय  हार*, अंततः बाध्य होकर विभाग के वरीय पदाधिकारी ने चौकीदार को किया निलंबित  )                        अजय कुमार पाण्डेय    औरंगाबाद: ( बिहार  )  कहावत सच ही है की सत्य परेशान हो सकता है? पराजित नहीं? इसी कहावत को चरितार्थ कर दिखाया ऑल इंडिया एंटी करप्शन मूवमेंट सचिव रंजीत कुमार चौरसिया ने! मामला था रफीगंज राजा बिगहा निवासी चौकीदार रामप्रवेश पासवान से जुड़ा हुआ! चौकीदार पर रफीगंज थाने में विभिन्न धाराओं के अंतर्गत कांड संख्या 89/ 2018 दर्ज था! लेकिन रंजीत कुमार चौरसिया के मुताबिक स्थानीय पदाधिकारी ने भी चौकीदार को काफी बचाने का प्रयास किया परंतु नियमानुकूल विभागीय लड़ाई लड़ रहे रंजीत कुमार चौरसिया ने भी कभी अपनी हार नहीं मानी और बाध्य होकर वरीय अधिकारी द्वारा 12 सितंबर 2020 को चौकीदार को निलंबित करना ही पड़ा! चौकीदार को निलंबित किए जाने के बाद इस बात की जानकारी खुद ऑल इंडिया एंटी करप्शन मूवमेंट सचिव ने ही संवाददाता को दिया! ज्ञात हो कि चौकीदार दर्ज इसी केस में जेल भी जा चुका था और ऑल इंडिया एंटी करप्शन मूवमेंट सचिव के मुताबिक उक्त चौकीदार पर कई गंभीर आरोप भी दर्ज कराया जा चुका था! ताज्जुब की बात तो है कि रंजीत कुमार चौरसिया के मुताबिक चौकीदार को जेल जाने के बावजूद भी स्थानीय पदाधिकारी द्वारा छुट्टी मंजूर किया गया और उस माह का विभागीय वेतन भी चौकीदार को दिया गया था? एवं निलंबन भी नहीं किया गया था? जो विभाग पर कई सवाल खड़ा करता है? अब देखना है कि विभाग उक्त नामजद चौकीदार पर नियमानुकूल आगे की कार्रवाई क्या करता है? इसी बात पर टिकी है अब रफीगंज वासियों की नजर!

No comments