Breaking News

*✍️रीवा रायपुर कर्चू तहसील अन्तर्गत बधवा पंचायत में भ्रष्टाचार चरम पर सहायक सचिव अंकित शुक्ला राशन कार्ड बनवाने के लिए एक गरीब से कि 5000(पांच हजार) कि माग*






*भारत न्यूज लाइव 24 हर खबर आप तक जिला रीवा ,सम्भागीय ब्यूरो चीफ विनोद कुमार ,सम्भाग रीवा*



इस वक़्त कि सनसनी खबर आ रही है रीवा रायपुर कर्चू अन्तर्गत ग्राम पंचायत बधवा से जहा रोजगार सहायक के भ्रष्टाचार का मामला प्रकाश में आया है। बधवा पंचायत के निवासी संतोष पांडे द्वारा बताया गया कि आज ४ वर्षों से मै सहायक सचिव अंकित सुक्ला के पास अपनी समग्र आइडी बनवाने के लिए भटक रहा हू। जबकि आज से १ बर्ष पहले रोजगार सहायक अंकित शुक्ला ने ५००० रुपए की माग कि और कहा कि आपकी आइडी अलग कर के राशन कार्ड बनवा देगे किन्तु आज ४ वर्षों से संतोष पांडे भटक रहे है। आज तक कोई राशन कार्ड नहीं बनाया गया अंकित शुक्ला ने गरीब संतोष पांडे से कहा की इसमें ५००० हजार रुपया लगेगा आपकी आइडी अलग कर के राशनकार्ड बनवा दुगा किन्तु गरीब संतोष पांडे ने कहा कि मैं ठहरा गरीब मेरे पास ३०० रुपए है आप अभी ले लो और बाद में करवा दुगा किन्तु जब आज मै और भारतीय सर्व सेवा संघटन के अध्यछ सुशील मिश्रा के साथ पंचायत में अंकित शुक्ला के पास आइडी लेकर गया और पूछा कि अब तक हमारा राशन कार्ड नहीं बना तो उनका कहना कि नहीं बनेगा जहा बने बनवा लो जब संतोष पांडे ने कहा कि हम कलेक्टर के पास जायगे तो अंकित शुक्ला का जवाब भी क्या रोमांचक था। कि *जाओ कर दो हमारी कलेक्टर से शिकायत तुमको कलेक्टर आफ़िस जाना पड़ेगा हमारी डारेक्ट बात हो गई है हम नहीं डरते है* और अंकित शुक्ला ने कहा कि जाओ आप तहसील में लोकसेवा केंद्र में आवेदन करो हम नहीं करेगे वहीं भारतीय सर्व सेवा संगठन के अध्यक्ष सुशील मिश्रा ने रोजगार सहायक को उनकी ड्यूटी याद दिलाते हुए कहा कि आप लोगो को शासन किस कार्य का पैसा देती है । गरीबों को घुमाने के लिए उनका पैसा खाने के लिए उन पर अत्याचार करने के लिए तहसील तथा लोकसेवा केंद्र जब गरीब भटकेगा तो आप लोग किस कार्य का पैसा लेते है शासन से इस कथन को कहा वहीं बधवा पंचायत का निवासी गरीब संतोष पांडे ने शासन प्रशाशन से हाथ जोड़कर गुहार लगाई कि हम गरीबों का राशनकार्ड बनना चाहिए। तथा गरीबों का खून चूसने वाले अंकित शुक्ला जैसे कर्मचारियों को निरस्त किया जाय। तथा उन्होंने शासन से कहा कि ना जाने कितने मेरे जैसे गरीब है जिनका अंकित शुक्ला ने इसी प्रकार कर के उनसे रिश्वत आइठी हो बिनिती करते हुए कहा कि पंचायतों में सी.बी.आई. जांच एक बार बैठाई जानी चाहिए।

No comments