Breaking News

 रीवा पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधायक श्री राजेंद्र शुक्ल ने कन्या महाविद्यालय में नवनिर्वाचित छात्रावास भवन का किया लोकार्पण 




*पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कन्या महाविद्यालय में नवनिर्मित छात्रावास भवन का किया लोकार्पण*

*महाविद्यालय की छात्राओं को 390.80 लाख रूपये की लागत से निर्मित 150 सीटेड छात्रावास में मिलेगी आवासीय सुविधा*

रीवा 12 सितम्बर 2020. शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय रीवा के परिसर में 390.80 लाख रूपये की लागत से बनाये गये 150 सीटेड छात्रावास भवन का पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल ने लोकार्पण किया। इस दौरान कमिश्नर रीवा संभाग राजेश कुमार जैन, कलेक्टर इलैयाराजा टी सहित अधिकारीगण व प्राध्यापक उपस्थित रहे। लोकार्पण के पश्चात अतिथियों ने नवनिर्मित छात्रावास भवन का निरीक्षण भी किया। 
इस अवसर पर विधायक श्री शुक्ल ने कहा कि रीवा को शिक्षा के क्षेत्र में उन्नत शिखर तक ले जाने के लिये कार्ययोजना बनाकर कार्य किया जायेगा ताकि रीवा शिक्षा का हब बन सके। उन्होंने कहा कि रीवा में अधोसंरचना विकास के साथ स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम हुआ है। शिक्षा के क्षेत्र में महाविद्यालयों व शैक्षणिक संस्थानों में उच्च स्तरीय शिक्षा व्यवस्था देकर इसे एजुकेशनल हब के तौर पर विकसित किया जायेगा ताकि रीवा की शिक्षा के क्षेत्र में विशिष्ट पहचान बन सके। श्री शुक्ल ने कन्या महाविद्यालय में छात्रावास सुविधा के लिये बधाई देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वर्ण जयंती समारोह में छात्राओं को विकास की जो सौगातें दी थी अब सभी पूरी हो गई है जरूरत इस बात की है कि इसका उपयोग हो तथा यह महाविद्यालय आदर्श संस्थान बने। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में छात्राओं की संख्या अधिक है अत: इसका समानान्तर विकास हो। पूर्व मंत्री ने समाज से नशे की प्रवृत्ति को दूर करने में सभी से सहयोग का आह्वान करते हुए कहा कि युवाओं को इस दुव्र्यशन से दूर रखने के लिये कार्य करना होगा। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कमिश्नर रीवा संभाग राजेश कुमार जैन ने कहा कि छात्राओं के लिये छात्रावास की सुविधा महाविद्यालय के लिये सौगात है। कोरोना संक्रमणकाल में शिक्षक विद्यार्थियों को डिजिटल माध्यम से शिक्षा दें तथा रूचिकर व गुणवत्तापूर्ण शैक्षिक कार्यक्रम बनायें। उन्होंने कहा कि इस संक्रमणकाल में जो छात्र विदेश अध्ययन के लिये जाते थे अब उनका लाभ हमारे देश के संस्थानों को मिलेगा। अपने उद्बोधन में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने कहा कि अधोसंरचना विकास के साथ शैक्षणिक गुणवत्ता पर ध्यान देना आवश्यक है। शिक्षक एक-एक छात्रा से संपर्क कर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने का कार्य करें तभी यह संस्थान उत्कृष्ट शिक्षा संस्थान बनेगा। उन्होंने छात्रावास में सभी सुविधाओं की पूर्ति के निर्देश दिये। कार्यक्रम को अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा डॉ. पंकज श्रीवास्तव ने भी संबोधित किया। महाविद्यालय की प्राचार्य श्रीमती नीता सिंह ने महाविद्यालय के विकास के लिये पूर्व मंत्री श्री शुक्ल को साधुवाद देते हुए कहा कि उनके प्रयासों से ही यह महाविद्यालय ऊंचाइयों को पा सका है। उन्होंने महाविद्यालय में खेल मैदान के विषय में अतिथियों का ध्यान आकृष्ट किया। इस अवसर पर कार्यपालन यंत्री पीआईयू लोक निर्माण विभाग एन.के. जैन ने प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में  महाविद्यालय के प्राध्यापकगण सहित विधायक प्रतिनिधि विवेक दुबे, पीआईयू के संजीव कालरा व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।
भारत न्यूज़ लाइव 24 हर खबर आप तक (m.p. क्राइम हेड  धीरेंद्र पांडेय सीधी🔷💎🔷💎🔷💎👇👇👇

No comments