Breaking News

 सीधी✍️ मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों के खातों में अंतरित की सम्मान निधि👇👇👇



भारत न्यूज़ लाइव 24 हर खबर आप तक संवाददाता धीरेंद्र पांडेय                       (m.p.  क्राइम हेड)  सीधी
------------
सीधी जिले के एक लाख 11 हजार से अधिक कृषकों को मिलेगा लाभ
-----------
प्रत्येक किसान को उसका सम्मान दिलाने वाले प्रधानमंत्री हैं श्री नरेन्द्र मोदी - विधायक सीधी श्री शुक्ल
-------
प्रत्येक किसान को करें योजना से लाभान्वित - विधायक धौहनी श्री टेकाम
-------

   गरीब कल्याण पखवाड़े के अंतर्गत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा भोपाल से “मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना“ के हितग्राही किसानों के बैंक खातों में सम्मान निधि की राशि अंतरित की गई और हितग्राही किसानों से संवाद किया गया। इस योजना से सीधी जिले के एक लाख 11 हजार 40 कृषक परिवारों सहित प्रदेश के 77 लाख कृषक परिवार लाभान्वित होंगे। इस योजना में पीएम किसान योजना के पात्र कृषक परिवारों को चार हजार रुपये की राशि प्रतिवर्ष दो समान किश्तों में प्रदाय की जाएगी।

  संजय गांधी स्मृति महाविद्यालय के ऑडोटोरियम में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक सीधी केदारनाथ शुक्ल ने कहा कि हमारा किसान विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए अन्न उपजाता है और इस देश के हर व्यक्ति का पेट भरता है। लेकिन किसानों का एक बड़ा हिस्सा आज भी गरीब है, इन सब किसानों को सम्मान देने का कार्य देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। प्रधानमंत्री जी ने किसानों की स्थिति में सुधार के लिए निरंतर प्रयास किये है। उन्होंने किसानों को सम्मान प्रदान करने के लिए तथा उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करने के लिए प्रधानमंत्री किसान योजना प्रारम्भ की है, जिसके अंतर्गत कृषक परिवारों को तीन समान किश्तों में 6 हजार रुपये प्रतिवर्ष प्रदाय किये जा रहे हैं। इस राशि का उपयोग किसान अपनी सुविधानुसार कृषि कार्य में सुधार के लिए कर सकते हैं। विधायक श्री शुक्ल ने कहा कि कोरोना महामारी के इस संकट के समय में किसानों को राहत देने के लिए किसान हितैषी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ किया है, जिसके अंतर्गत किसानों को प्रतिवर्ष दो समान किश्तों में अतिरिक्त 4 हजार रुपये प्रदाय किये जायेंगे। विधायक श्री शुक्ल ने कहा कि यह हम सब की जिम्मेदारी है कि प्रत्येक पात्र कृषक परिवार को योजना का लाभ मिले। इसके लिए राजस्व के पूरे अमले को पूरी पारदर्शिता एवं संवेदनशीलता के साथ कार्य करने की आवश्यकता है। विधायक श्री शुक्ला ने वनाधिकार पट्टों के संबंध में चर्चा करते हुए कहा कि ऐसे सभी आदिवासी जो वर्षों से वन भूमि पर खेती कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे हैं, उन्हें भी इस योजना का लाभ मिलना चाहिए। इसके लिए आवश्यक है कि सभी पात्र आदिवासी परिवारों को वनाधिकार हक प्रमाण पत्र मिले, जिससे उन्हें भी इस योजना का लाभ प्राप्त हो सके। 

  विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम ने इस योजना से अधिक से अधिक कृषकों को लाभांवित करने के लिए राजस्व विभाग को अभियान चलाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि राजस्व रिकार्डों में सुधार नहीं होने के कारण अभी भी कुछ पात्र लोग इस लाभ से वंचित है। इन विसंगतियों को दूर करने के लिए राजस्व शिविरों का आयोजन किया जाए तथा राजस्व रिकार्ड में आवश्यक सुधार कर सभी पात्रों को लाभान्वित किया जाए। विधायक धौहनी श्री टेकाम ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सीधी एवं सिंगरौली जिले को प्रधानमंत्री ग्रामीण सिंचाई योजना के माध्यम से 12 सौ करोड़ रुपये की गौड़ सिंचाई परियोजना की सौगात दी है। इससे दोनों जिलों में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार होगा तथा कृषकों को लाभ प्राप्त होगा। इसके साथ ही किसान सम्मान निधि, संबल योजना आदि प्रारम्भ कर गरीब एवं वंचित वर्गों को राहत देने का कार्य किया है। कृषकों की कृषि कार्य करते हुए दुर्घटना से मृत्यु होने पर उसके परिवार को 4 लाख रुपये की राहत राशि का प्रावधान किया गया है तथा पशुपालन, उद्यानिकी एवं मछली पालन के माध्यम से कृषकों की आय में वृद्धि के निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। आने वाले समय में उक्त योजनाओं का लाभ प्राप्त कर प्रत्येक कृषक लखपति होगा।

  कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी ने बताया कि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में पंजीकृत सभी किसानों को 4 हजार रूपये प्रतिवर्ष किसानों के खातों में दो किस्तों में दिया जायेगा। इस योजना से जिले के एक लाख 11 हजार 40 कृषक परिवारों को लाभ प्राप्त होगा। ग्रामीण क्षेत्रों के एक लाख 9 हजार 130 कृषक जिनमें से कुसमी के 9296, मझौली के 20715, रामपुर नैकिन के 22900, सीधी के 27449 तथा सिहावल के 28770 कृषक लाभान्वित होंगे। इसी प्रकार शहरी क्षेत्रों के एक हजार 910 जिनमें से चुरहट के 559, मझौली के 815, रामपुर नैकिन के 402 और सीधी के 134 कृषक लाभान्वित होंगे। उक्त योजना का लाभ वनाधिकार पट्टा प्राप्त कृषकों को भी होगा। कलेक्टर श्री चौधरी ने बताया  कि  विगतबेक सप्ताह में जिले में 31 हजार से अधिक किसानों का सत्यापन किया गया है।  उन्होने बताया कि सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया गया है  कि सभी किसानों के जमीनों का बटवारा, नामान्तरण एवं वारिसाना किया जाये जिससे अधिक से अधिक किसानों को लाभान्वित किया जा सके।

इस अवसर पर पूर्व जनभागीदारी अध्यक्ष गुरुदत्त शरण शुक्ल ने ऑडोटोरियम का नाम पूर्व प्रधानमंत्री पंडित अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से करने के लिए विधायक सीधी और विधायक धौहनी से आग्रह किया गया और जानकारी दी गयी कि जनभागीदारी समित ने इस बात का अनुमोदन कर दिया था। विधायक द्वय द्वारा उक्त का समर्थन करते हुए आगामी 25 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल जी के जन्म जयंती के अवसर पर एक कार्यक्रम करके ऑडोटोरियम का नाम अटल बिहारी वाजपेयी सभागार करने लिए कलेक्टर श्री चौधरी को कहा है

  कार्यक्रम में जनपद पंचायत  सीधी की प्रधान शकुंतला सिंह परिहार, अपर कलेक्टर हर्षल पंचोली, उपखंड अधिकारी गोपद बनास नीलांबर मिश्रा, तहसीलदार लक्ष्मीकांत मिश्र सहित जनप्रतिनिधि, विभागीय अधिकारी एवं हितग्राही कृषक उपस्थित रहे।

No comments