Breaking News

*माननीय मंत्री, डा॰ प्रेम कुमार ने भूमि संरक्षण के 10 करोड़ 14 लाख की 311 योजनाओं और 58 टेलीमैट्रिक आधारित मौसम केन्द्रों का रिमोट से किया उद्घाटन*



(दिनांक 16.09.2020)
रिपोर्टःडीके पंडित
बिहार में 
डाॅ॰ प्रेम कुमार, माननीय मंत्री, कृषि, पशुपालन एवं मत्स्य संसाधन विभाग, बिहार गया ने वर्षा जल संचय में बढ़ोŸारी और ग्राउण्ड वाटर रिर्चाज के उद्देष्य के साथ लगभग 7000 एकड़ में अतिरिक्त सिंचाई की सुविधा बढ़ाने हेतु भूमि संरक्षण निदेषालय द्वारा कार्यान्वित कुल 311 योजनाओं, जिसकी कुल विŸाीय लागत 1014.47 लाख रूपये है का आॅनलाईन रिमोट से उद्घाटन किया। इन योजनाओं में 18 पक्का चेक डैम, 113 साद अवरोधक बाॅध, 41 आहर पईन जीर्णोद्धार, 1 सामुदायिक बोरिंग, 10 फार्म पौण्ड, 78 जल संग्रहण तालाब, 37 सिंचाई कुआँ एवं 13 शुष्क बागवानी की योजनाएॅं सम्मिलित हैं। पटना मुख्यालय से कार्यक्रम में डा॰ सरवन कुमार, सचिव, कृषि विभाग, बिहार, डा॰ गणेष कुमार, निदेषक, भूमि संरक्षण, बिहार, डा॰ जितेन्द्र प्रसाद निदेषक, बामेती, बिहार पटना माननीय मंत्री के साथ आॅनलाईन जुड़कर कार्यक्रम में अपनी बातों को रखे। 
साथ ही साथ मेद्यदूत योजना अंतर्गत संस्थागत टेलीमेट्रिक मौसम केन्द्र एवं टेलीमेट्रिक वर्षामापी यंत्र का लोकार्पण और मौसम आधारित कृषि परामर्ष का शुभारंभ भी किया गया। मौसम में होने वाले परिवर्तन का पूर्वानुमान कर समय पर किसानों को मौसम के बारे में चेतावनी/परामर्ष निर्गत करने के लिए टेलीमेट्रिक आधारित हाइड्रोमेट्रोलाॅजिकल नेटवर्क का विकास करने हेतु राज्य के 5 जिलों गया, अरवल, नालांदा, सुपौल एवं पूर्वी चम्पारण के सभी ग्राम-पंचायतों में कुल 1150 टेलीमेट्रिक आधारित वर्षामापी यंत्र की स्थापना की गयी है। पंचायतों एवं प्रखंड़ों में स्थापित इन वर्षामापी संयंत्रों से प्राप्त आॅकड़ों के आधार पर भारतीय मौसम विज्ञान विभाग एवं कृषि विज्ञान केन्द्र के समन्वय से किसानों के लिए प्रत्येक तीन दिन के अंतराल पर फसलों से संबंधित सामायिकी सलाह किसानों को एस॰एम॰एस॰ के माघ्यम से उपलब्ध कराई जायेगी। इस प्रकार, किसान अपने मोबाईल पर अपने जिला के लिए प्राप्त कृषि परामर्ष संदेष का लाभ उठाकर अपने फसल सुरक्षा-तंत्र को और मजबूती प्रदान कर पायेंगे।  
आज आयोजित कार्यक्रम में गया जिला के भूमि एवं जल संरक्षण की 35 योजनाओं जिसमें 11 पक्का चेक डैम, 19 सामुदायिक सिंचाई कुआँ, 05 जल संचयन तालाब सम्मिलित हैं और जिनकी कुल लागत 01 करोड़ 86 लाख 16 हजार है का उद्घाटन माननीय मंत्री के द्वारा आॅनलाईन रिमोट से किया गया। गया जिला से संयुक्त कृषि भवन के सभाकक्ष में आयोजित कार्यक्रम में श्री सुदामा महतो, जिला कृषि पदाधिकारी, गया, ई॰ बालेष्वर प्रसाद सिंह, उप निदेषक (कृषि अभियंत्रण), भूमि संरक्षण, गया, श्री बिपिन बिहारी सिन्हा, सहायक निदेषक (षष्य), भूमि संरक्षण, गया, श्री नीरज कुमार वर्मा, उप परियोजना निदेषक, आत्मा, श्री अरविन्द कुमार सिंह, सहायक निदेषक, भूमि संरक्षण सर्वे पदाधिकारी, श्री मिथलेष कुमार श्री चंदन कुमार, रूपेष कुमार, डब्ल्यू॰डी॰टी॰ अभियंत्रण विषेषज्ञ, श्री सतीष कुमार, वित्तीय विषेषज्ञ, श्री अषोक कुमार, कृषि विषेषज्ञ, प्रतिमा कुमारी, समाजिक उत्प्रेरक आदि भाग लिये। उप निदेषक (कृषि अभियंत्रण) इ0 बालेष्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि इन संरचनाओं के निर्माण से कुल -238 हेक्टेयर क्षेत्र में अतिरिक्त सिंचाई क्षमता का सृजन हुआ है और 525 किसान लाभान्वित हुये है।

No comments