Breaking News

✍️✍️✍️नाबालिक के साथ गैंगरेप जैसी आपराधिक घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त गिरफ्तार🔷👇




नाबालिग के साथ गैंगरेप जैसी आपराधिक घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त गिरफ्तार,
     आज दिनांक
गया 02-09-2020
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
 *पॉक्सो एक्ट अनुसार जल भेजे गए ज बोधगया थाना में आयोजित हुआ डी.एस. पी.साहब ने प्रेसवार्ता में जानकारी दी है।
बिहार के जिला गया में थाना मोहनपुर  के क्षेत्रों गांव जनकपुर  में लड़कों ने  नाबालिग  युवती के साथ तीन युवकों के द्वारा गैंगरेप का घटना को अंजाम दिया थाl घटना के बाद नाबालिग ने बदनामी के डर से किसी को भी इस घटना के बारे में नहीं बताया l  घटना के दौरान एक अभियुक्त मनीष कुमार द्वारा आपत्तिजनक फोटो खींच लिया गया और इसे फेसबुक और व्हाट्सएप पर वायरल कर दिया गया l  वायरल फोटो पीड़िता के घरवालों तक पहुंचा l पीड़िता ने सारी बात परिजनों को बताई l जिसके बाद पीड़िता अपने  पिता व अन्य परिजनों के साथ मोहनपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई l इस संबंध में बोधगया एसडीपीओ अजय प्रसाद ने आज दिन बुधवार को बोधगया थाना परिसर मैं प्रेस को संबोधित करते हुए घटना की जानकारी देते हुए कहा कि वरीय पुलिस अधीक्षक गया एवं नगर पुलिस अधीक्षक गया के द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुए गिरफ्तारी का आदेश दिया गया एवं उनके  निर्देशानुसार अजय प्रसाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बोधगया के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई l  जिसमें रवि भूषण थाना अध्यक्ष मोहनपुर थाना , राजेंद्र प्रसाद अनुसंधानकर्ता मोहनपुर थाना , कुमार सौरभ थानाध्यक्ष बाराचट्टी, प्रदीप कुमार एवं मृत्युंजय कुमार साइबर सेल के नेतृत्व में त्वरित छापामारी करते हुए 12 घंटे के अंदर घटना में शामिल तीनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया l  उन्होंने कहा कि घटना में प्रयुक्त दोनों मोबाइल को जब्त  कर लिया है
अभियुक्त मनीष कुमार पहले भी लड़की अपहरण में जा चुका है जेल
 पुलिस की पूछताछ में तीनों अभियुक्तों ने अपना अपराध स्वीकार किया l  प्राथमिक पूछताछ में जानकारी दी  कि एक अभियुक्त मनीष कुमार पहले भी लड़की अपहरण के मामले में एक बार कानपुर के किसी थाने में जेल जा चुका है l  जिसका सत्यापन किया जा रहा है l  अभियुक्त अरविंद कुमार और विनय कुमार का अपराधिक इतिहास तलाशा जा रहा है l  
सभी अभियुक्त पॉक्सो एक्ट के तहत  भेजे गए जेल
मोहनपुर थाना काण्ड संख्या 534/20  धारा 376 डी /506/34 भा0 द0 वि0 धारा 3(i)(r)(w)/3(2)(V) अनुसूचित जाति जनजाति (अत्याचार ) अधिनियम ,1989 धारा पॉक्सो एक्ट एवं धारा 66 (E)/67(B) के तहत तीनों पकडे गए अभियुक्त को जेल भेजा गया l  
पीड़िता का वायरल फोटो,नाम और पता  डिलीट करें नहीं तो गिरफ्तारी की जाएगी 
बोधगया एसडीपीओ अजय प्रसाद ने बताया कि इस मामले में कुछ लोगों ने पीड़िता का फोटो नाम पता आदि व्हाट्सएप और फेसबुक जैसे वायरल किया गया था l उसमें लिखा गया है कि अभियुक्तों  को सजा दिलाना है इसलिए इसे वायरल करें l उन्होंने वायरल करने वाले लोगों को अगाह करते हुए कहा कि पीड़िता का नाम पता किसी भी कारण से सार्वजनिक करना कानूनन अपराध है l उन्होंने कहा कि ऐसे फोटो और पोस्ट को डिलीट करने की कार्रवाई की जा रही है दूसरी ओर से ऐसा करने वाले लोगों की पहचान की जा रही है और उनकी भी गिरफ्तारी की जाएगी l सभी अभियुक्तों के खिलाफ जल्द ही चार्जशीट दाखिल कराया गया है

No comments