Breaking News

✍️✍️प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना घोटाला के आरोपियों पर एफ आई आर दर्ज करने को लेकर माले का प्रखंड पर प्रदर्शन🔷🔷👇👇






* प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना घोटाला के आरोपियों पर एफआईआर दर्ज करने को लेकर माले का प्रखंड पर प्रदर्शन
* फर्जीवाड़ा में कार्यपालक सहायक, डाटा इंट्री आपरेटर, प्रखंड एवं सीडीपीओ कार्यालय कर्मी का हाथ- आशिफ होदा
* आईसीडीएस का पेमेंट लींक हैक कर किया गया फर्जीवाड़ा- ब्रहमदेव प्रसाद सिंह
* एफआईआर दर्ज नहीं तो अधिकारियों को स्मार-पत्र देकर जिलाधिकारी के समक्ष होगा अनशन आंदोलन- नौशाद तौहीदी
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
ताजपुर 31 अगस्त '20
 बिहार के जिला समस्तीपुर के ताजपुर में आईसीडीएस द्वारा संचालित प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में अरबों रू० के घोटाला के खिलाफ घोटाले की जांच कर एफआईआर दर्ज कर दोषियों को जेल भेजने की मांग पर सोमवार को भाकपा माले के कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया. अपने-अपने हाथों में कार्यकर्ताओं ने झंडे, बैनर एवं मांगों से संबंधित तख्तियां लेकर बाढ़ पीड़ित परिवार को 25 हजार रूपये सहायता राशि देने, 20 हजार रूपये प्रति एकड़ फसल क्षति मुआवजा किसानों को देने, जीविका कर्मी एवं आशा को 16 हजार रूपये मानदेय देने, बंचितों को राशनकार्ड एवं राशन देने, बकाया शौचालय,आवास, पेंशन राशि देने, नलजल योजना में व्याप्त धांधली पर रोक लगाने, रामापुर महेशपुर के जल जीवन हरियाली पोखर के सौदर्यीकरण में लूट की जांच करने आदि से संबंधित नारेबाजी कर रहे थे. मौके पर एक सभा का आयोजन किया गया. प्रभात रंजन गुप्ता, शंकर सिंह, ब्रहमदेव प्रसाद सिंह, आशिफ होदा, नौशाद तौहीदी,मो० एजाज, राजदेव सिंह, बासुदेव राय, संजय शर्मा, विजय कुमार, मुकेश कुमार गुप्ता, संजीव राय, सोनिया देवी, अनीता देवी, रजिया देवी, रजनी देवी, साहिल निगम, मो० मकसुद,नीलम देवी, अरशद कमाल बबलू समेत दर्जनों माले कार्यकर्ताओं ने सभा को संबोधित किया.
अपने अध्यक्षीय भाषण में माले प्रखंड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि अरबों रूपये के प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना घोटाला का मुख्य सूत्रधार जानकारी के अनुसार ताजपुर के ही है. यह ताजपुर के माथे पर कलंक है. भाकपा माले अन्य दलों एवं संगठनों को साथ लेकर आंदोलन को मुकाम तक पहुंचाकर आरोपियों को सजा दिलाएगी. माले नेता ने कहा कि प्रखंड कार्यपालक सहायक, कर्मी, डाटा इंट्री आपरेटर, सीडीपीओ के कम्प्यूटर आपरेटर आदि की मिलीभगत से आईसीडीएस का पेमेंट लिंक हैक कर अरबों रूपये लूट लिया गया है. इसी तरह से बाढ़ सहायता राशि का भी बैंक खाता नंबर, आधारकार्ड एवं 3000 रू० लेकर 6 हजार रूपये फर्जीवाड़ा के तहत भेजने का खेल भी शुरू हो चुका है. सभा के उपरांत 5 सदस्यीय माले एवं खेग्रामस के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल बीडीओ मनोज कुमार से मिलकर उक्त मांगों पर त्वरित कारबाई करने अन्यथा अधिकरियों को स्मार-पत्र देकर घोटाला के आरोपियों पर एफआईआर दर्ज कर जेल भेजने की मांग को लेकर जिलाधिकारी के समक्ष अगले सप्ताह से अनशन आंदोलन शुरू करने की घोषणा की.

No comments