Breaking News

साइकिलिंग के आइकॉन हो चुके हैं पवन उदय कुमार सिंह


साइकिलिंग के आइकॉन हो चुके है पवन--उदय कुमार सिंह।
विश्वनाथ आनंद
औरंगाबाद - जिले के युवा व्यवसायी पवन ने 100 दिनों में 11 हजार किमी के कड़े लक्ष्य को साइकिलिंग कर प्राप्त किया। उक्त बातों की जानकारी अनुग्रह मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह ने भेंट वार्ता के दौरान कहीं l उन्होंने आगे कहा  की औरंगाबाद एक और कीर्तिमान स्थापित किया है।मेरे बेहद प्यारे अनुज-शहर के युवा व बड़े व्यवसायी पवनजी(पोइवां गढ) ने लगातार 100 दिनों से(14 मई-21अगस्त) प्रतिदिन 100किमी साइकिलिंग कर 11हजार किमी की अत्यंत मुश्किल समझा जानेवाला लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल कर लिया है।इस क्रम में होटल वैष्णवी हाइट के पास दुर्घटनग्रस्त भी हुए,कॉलर बोन भी टूटे, लेकिन संकल्प पर अडिग रहना तो उनकी फितरत रही है।
उन्होंने इस रोमांचक व खुशी के इस पल को साइकिलिंग करते हुए अनुग्रह स्कूल के हेडमास्टर को वीडियो कॉल पर लेकर उनके शुभकामनाएं व  आशीर्वाद लिया।हेडमास्टर उदय कुमार सिंह ने कहा कि वह तो स्तब्ध व अभिभूत हो गए। प्रधानाध्यापक ने आगे कहा कि पवन जी महाकाल के  बड़े उपासक  है अतः उत्साही भी बहुत है।साइकिलिंग की अंतराष्ट्रीय स्पर्धा में पिछले वर्ष तो पेरिस(फ्रांस) भी जा चुके है।2.41 घंटे में 100 किमी का उनका अपना रिकॉर्ड है। उन्होंने आगे कहा कि
उत्तराखण्ड के प्रतिष्ठालब्ध घोड़ाखाल सैनिक स्कूल के अलमुनि रहे पवनजी ने जिस साइकिलिंग को वर्षो पूर्व अपना पैशन बना लिया था l आज कोरोनकल में पूरी दुनिया के लिए वह बड़ा बरदान साबित हुआ है। 
न्यूयॉर्क जैसे सिटी में लोगो ने पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कोरोनो एक्सपोज़र से बचने के लिए साइकिलिंग का ही सहारा लिया और चमत्कारिक रूप से कोरोना संक्रमण के दर को कम भी कर लिया है।
यह भी सर्वविदित है कि शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने में साइकिलिंग सबसे सशक्त व अमूल्य विधा है। उन्होंने आगे कहा  कि पवन जी औरंगाबाद के रोल मॉडल हो चुके है। प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह ने पवन को ऐसे कार्यों की सफलता के लिए  शुभकामनाएं एवं बधाई दिया है l

No comments