Breaking News

शोभा देवी सामाजिक समिति द्वारा आज ग्राम उमरई तेहसील कुलपहाड़ में सराहनीय कार्य किया गया

शोभा देवी सामाजिक समिति द्वारा आज ग्राम उमरई तेहसील कुलपहाड़ में फिर सराहनीय कार्य किया गया।
चुरवारी गांव के शासकीय जूनियर हाई स्कूल में पढ़ रही तीन सगी बहिनों के माता पिता की मृत्यु के बाद उनका पालन पोषण उन बच्चियों के नाना नानी मामा के द्वारा किया जा रहा था। ये बात जब शोभा देवी सामाजिक समिति के संचालक संदीप सत्या जी को पता चली तो उन्होंने तुरंत ही अपनी समिति के सभी सदस्यों के साथ उस गांव में जाकर बच्चियों से मुलाकात की और उनकी जिम्मेदारी उठाने का फैसला समिति ने लिया। बच्चियों के पिता का 10 वर्ष पहले गांव की ही लड़ाई में मर्डर हो गया ओर उसके बाद 6 वर्ष पहले माँ की मृत्यु एक रोड दुर्घटना में हो गई थी। बच्चियों का जीवन यापन उनके नाना हलकाई राजपूत और मामा अशोक राजपूत द्वारा किया जा रहा है । जिस स्कूल में बच्चियां पढ़ती है उसी स्कूल की प्राचार्य श्रीमती ममता गुप्ता और शम्भूदयाल गुप्ता ने आगे आकर यह बात शोभा देवी समिति संस्था को बताई और संस्था ने तभी से तीनों बेटियों के नाम से 300रु माह की RD भा.स्टेट बैंक में जमा करना शुरू कर दिया । आज 3 वर्ष पूर्ण होने के बाद तीनों बहिनों की राशि (36000रुपये) और कुछ उपहार उनके घर पर देने संस्था के संचालक संदीप सत्या अपनी समिति के अध्यक्ष तृप्ति कठैल, उपाध्यक्ष नीतेश सिंघल, सक्रिय सदस्य कैलाश वर्मा , और प्रखर समाज सेवी राहुल साहू जी को लेकर पहुचे
उपहार में तीनो बेटियों के लिये सलवार सूट, साड़ी, कॉपी पेन, माक्स, सिनेटाइजर, ग्लूकोज, थाल, ओर कुछ नगद राशि दी गई
गांव के प्रधान श्री कमलेश तिवारी जी ने खुशी जाहिर करते हुए समिति का आभार जताया और आगे खुद भी समिति से जुड़ने का निर्णय लिया।
समाजसेवी राहुल साहू ने कहा कि समिति की में जुड़ी 44 बच्चियों के लिए में हमेशा उनकी मदद के लिए आगे रहूंगा।

अध्यक्ष तृप्ति कठैल जी ने गांव वालो को उन बच्चियों की छोटी छोटी मदद करने के लिए कहा।
अंत मे उपाध्यक्ष नीतेश सिंघल ने समिति के संचालक श्री संदीप सत्या जी का आभार जताया।
ये पूरा कार्यक्रम कोरोना को देखते हुए और लोकडाउन का पालन करते हुए किया गया जिसमें सभी लोग माक्स लगाकर ओर 1 मीटर की दूरी में बैठे।
महोबा से सुभाष अग्रवाल की रिपोर्ट

No comments