Breaking News

तुलसी महाविद्यालय प्राचार्य के कुशल नेतृत्व में ई शिक्षा को मिल रहा बढ़ावा एवं कार्यालयीन कार्य संचालित

तुलसी महाविद्यालय प्राचार्य के कुशल नेतृत्व में ई शिक्षा को मिल रहा बढ़ावा एवं कार्यालयीन कार्य संचालित


अनुपपुर [जनकल्याण मेल]/कोरोना वायरस महामारी और पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति के कारण स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी पिछले कई दिनों से बंद है। अधिकांश जगह परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। नए सत्र में समय पर  स्कूल-कॉलेज शुरू होने की भी कोई  संभावनाएं नहीं दिख रही है , लंबे समय से महाविद्यालय बंद होने की वजह से   छात्र-छात्राओं की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। जिसके लिए  सरकार भी चिंतित है वही। जिला मुख्यालय स्थित शासकीय महाविद्यालय में शासन की निर्देशानुसार 33% कर्मचारियों के साथ महाविद्यालय में कार्यालयीन कार्य प्रारंभ कर दिया गया है  शासकीय तुलसी महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. परमानंद तिवारी से  जानकारी के अनुसार कलेक्टर अनूपपुर के आदेशानुसार महाविद्यालय में छात्रों के छात्रवृत्ति, तथा  विभिन्न योजनाओं का कार्य उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशों के अनुसार  प्रारंभ कर दिया गया है जहाँ पर वहां के पदस्थ कर्मचारियों द्वारा शोसल डिस्टनसिंग के साथ महा विद्यालय में कार्य कर रहे है।
महा विद्यालय के प्राचार्य श्री तिवारी ने बताया कि मौजूदा स्थिति काफी चुनौतीपूर्ण है। छात्र-छात्राएं, शिक्षक, कॉलेज-यूनिवर्सिटी प्रबंधन सभी संभवत: पहली बार इस तरह की स्थिति से गुजर रहे हैं। ऐसे में छात्र-छात्राओं की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। छात्र अपनी परीक्षा को लेकर चिंतित हैं। लेकिन हम उनकी पूरी देखभाल कर रहे हैं। पढ़ाई की कमी को पूरा करने के लिए शासन के निर्देशों के अनुसार  छात्र छात्राओं को  ऑनलाइन   प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराए गए हैं जिसके जरिए शिक्षक से स्टूडेंट्स पढ़ाई कर सकते हैं। समय की जरुरत यही है कि हम ऑनलाइन शिक्षा और ई-शिक्षा को बढ़ावा दें। हम अपनी ओर से सभी प्रयास कर रहे हैं ताकि बच्चों का नुकसान ना हो।

No comments