Breaking News

नही होगी ईद एवं रमज़ान की अलविदा पर सामूहिक नमाज़

*नही होगी ईद एवं रमज़ान की अलविदा पर सामूहिक नमाज़*

*ज़िला शांति समिति की बैठक में आम सहमति से लिया गया निर्णय*

*अब तक के सहयोग के लिए कलेक्टर ने सभी धर्मों के अनुयायियों का व्यक्त किया आभार*

*शाम 7 बजे के बाद नही होगा ईद के दिन भी किसी प्रकार का आवागमन*
अनूपपुर: मई 21, 2020

              रमज़ान के पवित्र महीने के समापन पर सामूहिक तौर से अलविदा नमाज़ एवं ईद पर सामूहिक नमाज़ का आयोजन नही किया जाएगा। ज़िला शांति समिति की बैठक में आम सहमति से यह निर्णय लिया गया। कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में पुलिस अधीक्षक किरणलता केरकेट्टा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, सदर अंजुमन इस्लामियाँ समिति अनूपपुर मो सलीम सहित ज़िला शांति समिति के अन्य सदस्य, अनुविभागीय दंडाधिकारी, एसडीओपी तथा नगरपालिका अधिकारी उपस्थित थे।

              बैठक में इस बात पर सहमति बनी की अलविदा नमाज़ एवं ईद के अवसर पर मस्जिदों, ईदगाह आदि में नियमित रूप से नमाज़ अदा करने वाले अधिकतम 5 व्यक्ति ही नमाज़ अदा कर सकेंगे। आमजनो को उक्त स्थलो में जाकर नमाज़ अदा करने की अनुमति नहीं होगी। मुस्लिम समाज के प्रतिनिधियों द्वारा सभी मुस्लिम जनो से अपील की गयी है कि वे अलविदा नमाज़ एवं ईद के अवसर पर नमाज़ की अदायगी घर पर ही करें।

             इस दौरान कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा यह भी स्पष्ट किया गया कि गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार ज़िले में शाम 7 बजे से प्रातः 7 बजे तक कर्फ़्यू प्रभावी है। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति का आवागमन चिकित्सकीय, अत्यावश्यक कारणों के अतिरिक्त प्रतिबंधित है। 

              आपने सभी धर्म के अनुयायियों को विगत लगभग 2 महीने की अवधि में आने वाले विभिन्न त्योहारों हनुमान जयंती, बैशाखी, शब-ए-बारात, रमज़ान, ईस्टर, गुड फ़्राइडे आदि में शासन एवं प्रशासन को लॉकडाउन के प्रतिबंधों का पालन कर सहयोग प्रदान करने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया है। आपने यह भी कहा कि कोरोना संक्रमण से सुरक्षा हेतु सभी उपायों को अपने आचरण में ढालकर उन्हें जीवन का अभिन्न अंग बनाना होगा। यह लड़ाई किसी एक व्यक्ति की नही वरन पूरे समाज की है। इसमें हर वर्ग, हर समुदाय, हर धर्म के लोगों को अपनी ज़िम्मेदारी निभानी होगी।

            कलेक्टर द्वारा सभी कार्यपालिक मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारियों को अनुभाग स्तर एवं थाने स्तर शांति समिति की बैठक आयोजित कर उक्त निर्देशों को स्पष्ट करने के निर्देश दिए गए हैं।

No comments