Breaking News

कोषांगों के कार्यों की हुई समीक्षा

*कोषांगों के कार्यों की हुई समीक्षा
*
गया, 10 अप्रैल, 2020,
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
बिहार के जिला गया में 
 जिलाधिकारी, गया श्री अभिषेक सिंह व वरीय पुलिस अधीक्षक श्री राजीव मिश्रा की संयुक्त अध्यक्षता में Covid 19 वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव व सुरक्षा के लिए किए गए लॉक डाउन के दौरान गठित कोषांगों के कार्यों की समीक्षा की गयी। क्वॉरेंटाइन कोषांग के वरीय पदाधिकारी सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी श्री नरेश झा ने बताया कि कुल 115 संदिग्ध मामले आए हैं, 106 मामले अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में एवं 9 मामले अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, महकार के हैं। आज एक भी मामले अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में नहीं आए हैं। कुल 111 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है, जिनमें 07 अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, महकार एवं 104 अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल से किये गए हैं। अब तक कुल 05 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं। 
जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के निदेशक श्री संतोष कुमार ने बताया कि जिले में कुल क्वॉरेंटाइन सेंटर 333 हैं, जिनकी क्षमता 5084 लोगों की है। कुल संदिग्ध मामलों की संख्या 14654 है, जिनमें अब तक 11219 होम क्वॉरेंटाइन में रहे तथा वर्तमान में 2259 होम क्वॉरेंटाइन में तथा 1425 क्वॉरेंटाइन में रखा गया है।
बैठक में बताया गया कि आज भी 03 टीमों द्वारा असहाय एवं निर्धन लोगों के बीच 395 खाद्यान्न पैकेट का वितरण कराया गया है, आज किसी संस्था के द्वारा खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध नहीं कराया गया है। पूर्व का अवशेष 791 खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध हैं, जिनका वितरण कल कराया जाएगा। 
जिलाधिकारी ने कहा कि खाद्यान्न में पैकेट उपलब्ध कराने वाले संस्थाओं से चावल, दाल, आलू, नमक, तेल के साथ-साथ खाद्यान्न पैकेट में एक साबुन या सैनिटाइजर भी डालवय जाए साथ ही यदि कोई संस्था या व्यक्ति कोई पर्टिकुलर सामान देना चाहते हैं यथा साबुन, मास्क, सैनिटाइजर या दैनिक उपयोग की कोई भी वस्तु तो उसे प्राप्त कर उसका वितरण कराया जाए।
बैठक में सिविल सर्जन द्वारा बताया गया कि एएनएमएमसीएच कोविड-19 विशेष हॉस्पिटल की वर्तमान क्षमता 130 बेड को बढ़ाकर 300 बेड करने की कार्रवाई की जा रही है। जिलाधिकारी ने इसे जल्द से जल्द करने के निर्देश दिए।
अन्य राज्य से आए लोगों के करो ना सिमरन की जांच प्रतिवेदन के संबंध में डीपीएम हेल्थ ने बताया कि उन्हें पूर्व में बाहर से आए 2100 लोगों की सूची मिली थी, जिनकी जांच करा ली गई है और पुनः 5641 लोगों की सूची मिली है जिनमें से 3175 लोगों के कोरोना के सिमातम की जांच करा ली गई है,वे ठीक हैं। शेष की जांच की जा रही है।
अगलगी की घटना को देखते हुए गया जिला में कुल 22 अग्निशमन केंद्रों की स्थापना की गई है जिनमें गया, शेरघाटी, टिकारी, नीमचक बथानी अनुमंडल के साथ बोधगया, वजीरगंज थाना,बेलागंज थाना, मगध मेडिकल, मेन थाना, परैया थाना, गुरारू थाना, अतरी थाना, बथानी थाना, आमस थाना, बाराचट्टी थाना, गुरुआ थाना एवं इमामगंज थाना को अग्निशमन केंद्र बनाया गया है।
जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी मोहम्मद मुस्तफा हुसैन मंसूरी को गया के पुस्तक भंडार जफर डिपो एवं न्यू पुस्तक भंडार से संपर्क करने का निर्देश दिया,कहा कि यदि वे 9वां 10 वां,11 वां व 12वां के सीबीएसई की किताब मंगवाना चाहते हैं तो उन्हें परिवहन की व्यवस्था मुहैया कराई जाएगी।
बैठक में नगर आयुक्त श्री सावन कुमार, सहायक समाहर्ता श्री के एम अशोक, उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी, अपर समाहर्ता सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी श्री नरेश झा, एएनएमएमसीएच के अधीक्षक व प्राचार्य, सिविल सर्जन गया एवं सभी कोषांगों के नोडल पदाधिकारी उपस्थित थे।

No comments