Breaking News

ज़िला संकट प्रबंधन समूह की बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के साथ आगामी कार्ययोजना हेतु लिए गए निर्णय

*ज़िला संकट प्रबंधन समूह की बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के साथ आगामी कार्ययोजना हेतु लिए गए निर्णय*

*शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में आगामी दिवसों में विविध स्तर पर सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना के साथ गतिविधियों की रहेगी अनुमति*

*सार्वजनिक स्थलों में थूकने पर लगेगा 200 रुपए का जुर्माना*

*अनूपपुर : अप्रैल 19, 2020*

शासन के निर्देशानुसार कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव की गतिविधियों को प्रभावित किए बग़ैर पूर्ण सुरक्षा एवं एहतियात को ध्यान में रख आगामी दिवसों में विभिन्न गतिविधियाँ प्रारम्भ किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। उक्त के अनुक्रम में आगामी दिवसों में किस तरह एवं किस प्रकार की गतिविधियों को अनुमति दी जा सकती है, उक्त विषय में ज़िला संकट प्रबंधन समूह की बैठक कलेक्ट्रैट सभागार में आयोजित की गयी। बैठक में शासकीय अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधियों एवं समाजसेवियों ने अपने सुझाव दिए।

उक्त सुझाव पर विमर्श के पश्चात कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने बताया कि आगामी दिवसों में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों हेतु पृथक आदेश जारी किए जाएँगे। जिनमे किराना दुकानो, फल, सब्ज़ी , दूध डेरी एवं अन्य आवश्यक गतिविधियों हेतु विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए जाएँगे। इस दौरान यह भी निर्धारित किया गया कि सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की ज़िम्मेदारी सम्बंधित दुकानदार पर भी आरोपित की जाएगी एवं उल्लंघन पाए जाने पर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

बैठक में राहत कार्यों, बेसहारा वर्ग के लोगों को केंद्र एवं राज्य शासन की योजनाओं के माध्यम से खाद्यान्न उपलब्ध कराने के विषय पर भी चर्चा कर व्यवस्था को और सशक्त बनाने हेतु आवश्यक निर्देश दिए गए। 

ग्रामीण क्षेत्रों में जल संवर्धन एवं संरक्षण कार्यों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अनुमति प्रदान किए जाने पर सहमति बनी। इस दौरान कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा सार्वजनिक स्थलों पर थूकने को प्रतिबंधित करने एवं उल्लंघनकर्ताओं पर 200 रुपए का जुर्माना अधिरोपित करने के निर्देश दिए गए हैं। शीघ्र ही इस सम्बंध में अधिकारिक आदेश जारी किए जाएँगे। तब तक वर्तमान आदेश प्रभावशील रहेगा।

बैठक में वर्तमान स्वास्थ्य जाँच की प्रगति एवं अन्य संसाधनों की उपलब्धता पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गयी। इस दौरान पूर्व विधायक रामलाल रौतेल, दिलीप जायसवाल सहित पुलिस अधीक्षक किरणलता केरकेट्टा, सीईओ ज़िला पंचायत सरोधन सिंह, अपर कलेक्टर बी॰डी॰ सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन सहित ज़िला संकट प्रबंधन समूह के सदस्य अन्य जनप्रतिनिधि एवं शासकीय सेवक उपस्थित रहे।

No comments