Breaking News

अनुग्रह नरायण मगध मेडिकल काँलेज (अस्पताल) में किया गया मॉक ड्रिल

*अनुग्रह नरायण मगध मेडिकल काँलेज (अस्पताल) में किया गया मॉक ड्रिल
*
*मानवता एवं सेवा भावना से करें काम-आयुक्त*
गया, 07 अप्रैल 2020,
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
बिहार से 
 बिहार  के जिला गया में  कोविड-19 वैश्विक म हामारी कोरोना के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल को मगध प्रमंडल के सभी जिलों के साथ कैमूर एवं रोहतास जिले के लिए कोविड-19 के लिए विशेष अस्पताल बनाए जाने को लेकर की जा रही तैयारी को देखने के लिए आयुक्त मगध प्रमंडल श्री असंगबा चुबा आओ की उपस्थिति में मॉक ड्रिल किया गया। मॉक ड्रिल में कोरोना के संदिग्ध मरीज को एंबुलेंस में पिकअप करके बैठाने, एएनएमएमसीएच में लाने तथा एंबुलेंस से उसे स्ट्रेचर पर उसे नीचे उतारने के उपरांत एंबुलेंस को सैनिटाइज करना, जिस रास्ते से मरीज को अस्पताल के विभिन्न कक्षाओं में लेकर जाया गया उन सभी रास्तों एवं कमरों को सैनिटाइज करना तथा मरीज को हॉस्पिटल में पहुंचाने के उपरांत वापस वार्ड बॉय को स्ट्रेचर सहित सैनिटाइज करने की प्रक्रिया को प्रदर्शित किया गया।
संदिग्ध मरीज के हॉस्पिटल में पहुंचने के उपरांत उसकी जांच की जाएगी उसके पता तथा पिछले दिनों के ट्रैवल हिस्ट्री की जानकारी लेनी है कि पिछले दिनों में वो कहाँ कहाँ ठहरा है, कहाँ कहाँ गया तथा किस किसके संपर्क में रहा है। पॉजिटिव मरीज को अलग आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। कोई भी चिकित्सक या कर्मी बिना पीपीई के आइसोलेशन वार्ड में नहीं जाएगा। इसके उपरांत पर्सन प्रोटेक्शन इक्विपमेंट(पीपीइ) पहनने का मॉक ड्रिल कराया गया। 
मॉक ड्रिल के उपरांत बताया गया कि पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट्स से बॉडी के हर पार्ट को कवर करने के पहले एवं कवर करने के बाद हैंड सैनिटाइज करते रहना अनिवार्य है। और बॉडी को पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट्स से पूरी तरह कवर करने के बाद ही आइसोलेशन वार्ड में जाना है। डॉ पी के सिन्हा एवं डब्लूएचओ के डॉक्टर विश्वास ने इस प्रोसेस को डेमोंस्ट्रेशन के द्वारा एक-एक इक्विपमेंट पहनने के तरीके को समझाया। 
मॉक ड्रिल के दौरान चिकित्सकों एवं नर्सों के द्वारा अपने संदेह को दूर करने के लिए किए गए सभी सवालों के संतोषजनक जवाब दिए गए तथा उन्हें संतुष्ट किया गया।
आयुक्त महोदय ने सभी चिकित्सक, नर्सों, उपस्थित कर्मियों तथा एनडीआरएफ की टीम को संबोधित करते हुए कहा कि आइसोलेशन वार्ड में बिना परसनल प्रोटेक्शन किट के कोई नहीं जाएगा। चाहे डॉक्टर हो, नर्स हो, सफाई कर्मी हो, चाहे खाना पहुंचाने वाला हो। उन्होंने कहा कि इस मॉक ड्रिल को अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल के सुपरिटेंडेंट एवं प्रिंसिपल को पुनः दोहराएंगे तथा इसके पहले रोस्टर बना लेंगे कि कौन कर्मी या डॉक्टर किस समय कहां उपस्थित रहेंगे। 
एंबुलेंस चालक के लिए अलग ब्रीफिंग होगी, वार्ड बॉय के लिए अलग ब्रीफिंग होगी, सैनिटाइजर करने वाले व्यक्ति के लिए अलग ब्रीफिंग होगी, मरीज को लाने वाले वार्ड ब्वॉय एवं नर्स के लिए अलग ब्रीफिंग एवं जांच करने वाले चिकित्सक के लिए अलग ब्रीफिंग होगी। सभी को अपने प्रोटोकॉल के अनुसार काम करने की जानकारी होनी चाहिए। 
उन्होंने कहा कि इस महामारी का सामना हम सभी मिलकर करेंगे और इस समय सारी जनता चिकित्सकों की ओर आस लगाए बैठी है। ऐसी स्थिति में एक भी व्यक्ति की शिथिलता या लापरवाही से इन लोगों का विश्वास कम हो जाएगा। जो इस पेशे के लिए भी ठीक नहीं होगा, नहीं इस अस्पताल के लिये ठीक होगा, न ही गया के लिए और न ही सरकार की छवि के लिए। इसलिए मानवता के दृष्टिकोण से और समय की पुकार को देखते हुए आप अपना सर्वश्रेष्ठ सेवा प्रदान करें। उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों के माध्यम से जानकारी मिली है कि आयरलैंड के माननीय प्रधानमंत्री जो एक डॉक्टर भी हैं, इस समय अस्पताल में जाकर स्वयं मरीजों का इलाज कर रहे हैं। किसी देश के प्रधानमंत्री को यह करने की क्या जरूरत है लेकिन मानवता की दृष्टिकोण और सेवा भावना से वे यह कर रहे हैं, उनसे हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि किसी सामग्री या उपकरण की आवश्यकता हो तो अपर समाहर्ता यहां प्रतिनियुक्त हैं आप बताएं सारी सामग्री एवं उपकरण उपलब्ध कराई जाएगी लेकिन आप सभी डॉक्टर एवं चिकित्साकर्मी पूरी निष्ठा के साथ कार्य करें। आज इस महामारी से समाज का हर व्यक्ति लड़ रहा है। आम जनता अपने घरों में रह कर लॉक डाउन का पालन कर रही है। सिपाही दिन रात सड़क पर ड्यूटी कर रहे हैं। सभी लोग इसमें अपना योगदान दे रहे हैं। इसलिए आप भी अपना योगदान दें। 
इस अवसर पर आयुक्त के सचिव श्री अफजारुल रहमान, अपर समाहर्ता सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी श्री नरेश झा, उप निदेशक जनसंपर्क, अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल के अधीक्षक एवं प्रचार्य, डब्ल्यूएचओ के डॉक्टर विश्वास, एनडीआरएफ के जवान, संबंधित चिकित्सक एवं कर्मी उपस्थित थे।

No comments