Breaking News

मरीजों क़े परिजनों से हर कार्य क़े बदले वसूले जाते हैं नाजायज राशि , बगैर नजराना लिए स्वास्थकर्मी सदर अस्पताल में नहीं करते ईलाज

*मरीजों क़े परिजनों से हर कार्य क़े बदले वसूले जाते हैं नाजायज राशि , बगैर नजराना लिए स्वास्थकर्मी सदर अस्पताल में नहीं करते ईलाज
*

*-नगर परिषद अध्यक्षा पूनम कुमारी के सामने ही पट्टी बदलने को लेकर 5 सौ रुपए का किया मांग*
 
संजय वर्मा
*नवादा :*  नवादा स्थित सदर अस्पताल में कुव्यवस्था और भ्रष्टाचार का आलम यह है कि स्वास्थ कर्मचारी बिना पैसा लिए कोई काम करने को तैयार नहीं होते है। अस्पताल में स्थिति यह है कि किसी अधिकारी या जनप्रतिनिधि से भी उन्हें कोई डर नहीं रह गया है। 
ताजा घटनाक्रम आज रविवार की है जब इमरजेंसी वार्ड में ड्रेसिंग के लिए एक मरीज से पैसे की मांग कर दी गई। इसमें  सबसे बड़ी बात यह है कि उस वक्त वहां जिले की नगर परिषद् अध्यक्षा पूनम कुमारी भी मौजूद थी। कर्मचारी द्वारा पैसे की मांग के बाद जब उन्होंने पूछा किस बात के पैसे मांग रहे है तो उन्हें चुप बैठे को रहने को कहा गया।
घटना के संबंध में बताया गया है कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कालो देवी मारपीट के मामले में घायल इमरजेंसी वार्ड में इलाज करा रही थी। उसी दौरान नगर परिषद के चेयरमैन पूनम कुमारी अपने ससुर को इलाज करवाने के लिए सदर अस्पताल पहुंची।
इलाज के दौरान कालो देवी को पट्टी बदलने के नाम पर अस्पताल के किसी स्टाफ के द्वारा 5 सौ रुपये मांगा गया। पैसे की बात सुनकर चेयरमैन ने सदर अस्पताल के स्टॉप से पूछ लिए कि आप किस बात का पैसा मांग रहे हैं। स्टाफ ने कहा आप चुपचाप बैठें। यह सुनकर नगर परिषद अध्यक्षा पूनम कुमारी आवाक रह गई। 
हालांकि बाद में वह काफी क्रोधित होते इस बात की शिकायत सिविल सर्जन व डीएम को करने की बात कही।
नगर परिषद चेयरमैन पूनम कुमारी ने बताया कि सदर अस्पताल में लोगों क़ो बिना पैसा का इलाज किया जाता है। ऐसे स्टाफ रहने के कारण सदर अस्पताल का नाम बदनाम हो रहा है। उन्होंने कहा कि मेरे सामने ही पट्टी बदलने के नाम पर गरीब महिला से 5 सौ रुपये मांगा गया।
इसकी शिकायत वरीय अधिकारी को करेंगे अगर ऐसे लोगों पर कार्रवाई नहीं किया जाएगा तो इसकी शिकायत सीएम नीतीश कुमार से भी करेंगे ।

No comments