Breaking News

औरंगाबाद को आदर्श जिला बनाने की अपील जिला वासियों से कीःडीजीपी

औरंगाबाद को आदर्श जिला बनाने की अपील  जिला वासियों से कीःडीजीपी
 बिहार के औरंगाबाद जिला मुख्यालय के अनुग्रह नारायण नगर भवन में दीप प्रज्वलित करते हुए उद्घाटन किया एवं शांति सह निगरानी समिति जिला स्तरीय कार्यक्रम में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने जिला वासियों से शराब नशा मुक्त जिला बनाकर औरंगाबाद जिला को आदर्श जिला बनाने की अपील जिला वासियों से किया है l इस अवसर पर जिले भर के तमाम पुलिस  पदाधिकारियों के अलावा जिला पदाधिकारी राहुल रंजन महिवाल भी उपस्थित थे l पुलिस विभाग  शांति निगरानी समिति से लेकर चौकीदार दफादार महिला पुरुष बच्चे भी कार्यक्रम में उपस्थित होकर डीजीपी श्री पांडे की भाषण सुनने के लिए उत्साहित दिखे l जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीजीपी  गुप्तेश्वर पांडे ने जिला वासियों से नशा मुक्त होकर एक दूसरे के बीच मिलजुल कर शांति कायम कर भाईचारा का संदेश देने की अपील किया l श्री पांडे ने  आगे कहा कि भ्रष्टाचार में संलिप्त पदाधिकारियों नेताओं एवं किसी भी व्यक्ति को  शराब नशा मुक्त अभियान में संरक्षण नहीं दिया जाएगा l  और बक्सा नहीं जाएगा l  श्री पांडे ने संबोधन के दौरान आगे कहा कि छोटे-छोटे  जमीन विवाद मारपीट की घटना से संबंधित मामलों को अंचलाधिकारी एवं जिला पदाधिकारी अपने स्तर से निष्पादन करते हैं तो समाज में फैल रही  मारपीट की घटना मे कमी आएगी l शराब नशा मुक्त  जिला बनाने के लिए चौकीदार, दफादार थाना प्रभारी से लेकर आम नागरिकों से सहयोग करने की अपील करते दिखे l श्री पांडे ने आगे कहां कि नशा जीवन के लिए जानलेवा साबित हुआ है l नशा मुक्त होकर ही नए समाज एवं युवा पीढ़ियों को नया संदेश जीने की कला  स्थापित किया जा सकता है lउपस्थित नागरिकों ने भी डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे को तालियों के  गड़गड़ाहट  एवं फूल मालाओं  को पहना कर स्वागत किया l कार्यक्रम की अंतिम वेला में  श्री पांडे ने कहा कि अपने  नौकरी के दौरान कई जिलों में  पुलिस अधीक्षक का कमान संभाला आज मैं डीजीपी के पद पर आसीन हूं l  औरंगाबाद के जिलावासियों ने जो मुझे प्रेम स्नेह समर्थन और सहयोग जो प्रदान किया है जिसे भुलाया नहीं जा सकता l कार्यक्रम की समाप्ति के  दौरान डीजीपी ने सबको धन्यवाद देते हुए कार्यक्रम की समाप्ति करते हुए जिला वासियों से सप्ताह के अंदर  परिणाम लाने पर बल दिया l

No comments