Breaking News

सिंघेश्वर महोत्सव में पुरे नौ दिनों तक चलने वाली रामलीला मंचन की हुई बेहतरीन शुरुआत

सिंघेश्वर महोत्सव में पुरे नौ दिनों तक चलने वाली रामलीला मंचन की हुई बेहतरीन शुरुआत

मधेपुरा बिहार 

हर खबर आप तक 

भारत न्यूज़ लाइव 24

रिपोर्टर  अमीर आजाद

मधेपुरा:-सिंघेश्वर महोत्सव में 28.02.2020 से शुरू होने वाले रामलीला मंचन का शुरुआत बहुत ही बेहतर ढंग से हुआ, इस रामलीला का मंचन पूरे 9 दिनों तक चलेगी जो प्रत्येक रोज शाम के 6:00 बजे से रात के 9:00 बजे तक चलेगी, इसमें आए हुए रामलीला मंचन टीम जो उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद शहर से आए हैं, बेहतरीन कलाकारों द्वारा पहले रोज के मंचन से बेहतर समा बांधा, पहले रोज का नारद मोह का मंचन देखने योग्य था,श्रोताओं से पूरा भंडार भरा रहा जो आखिरी मंचन तक सभी श्रोता मौजूद रहे और झूमते रहे खासकर रामलीला टीम के उद्घोषक वाचक श्री राजकुमार गोस्वामी द्वारा चौपाई में अवाज देना सभी को भावविभोर कर दिया, इस रामलीला मंचन की खास बात यह भी है कि इसमें प्रस्तुति देते कलाकार की आवाज नहीं होती है बल्कि पीछे से सपोर्टिंग आवाज दिया जाता है जो इस मंचन को और भी भव्य और दर्शनीय बना देता है, लोगों द्वारा जानकारी के अनुसार इस तरह का रामलीला मंचन इससे पहले तक कभी नहीं हुआ था यह बेहतर से भी बेहतरीन है, इस रामलीला मंचन के सभी कलाकार और उनके प्रस्तुति उत्कृष्ट और अतुलनीय है, कुछ लोगों ने तो यहां तक कहा कि हम लोग मंचन नहीं बल्कि सिनेमा देख रहे हैं। 
आज के रामलीला मंचन में नारद मोह से संबंधित कहानियां दिखाए गए जिसके मुख्य कलाकार थे श्री विष्णु के रोल में "शिव कांत गुप्ता" व श्री लक्ष्मी के रोल में "कुमारी मीनाक्षी",व शंकर भगवान के रोल में "हिमांशु तिलकधारी" थे, व मां पार्वती के रोल में "जारा" थी,ब्रह्मा के रोल में "ऋषि पाल" थे, व मुख्य पात्र आज के कहानी के अनुसार नारद के रोल में "प्रमोद कुमार" थे, इन सभी कलाकारों के साथ बहुत सारे सपोर्टिँग कलाकार थे,इनके द्वारा सिंघेश्वर महोत्सव को राममय बना दिया गया।

यह रामलीला मंचन टीम जो मुरादाबाद से आयी है जिसका नाम शिव कला लोक कल्याण समिति है इसके टीम निर्देशक "श्री आलोक राठौर" हैं व सह निदेशक "नरेंद्र कुमार" हैं, इस टीम में पूरे 45 कलाकार हैं जिसमें 35 लड़का और 10 लड़की कलाकार हैं जो उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद व आसपास से आए हैं इनके कुछ कलाकार टीवी पर भी आते हैं जिसके कारण यह रामलीला मंचन टीम को बेहतर बनाती है।

No comments