Breaking News

दलित परिवार के विकास के नाम पर लूट बिहार के अंतरराष्ट्रीय ज्ञान स्थल बोधगया

दलित परिवार के विकास के नाम पर लूट 
बिहार के अंतरराष्ट्रीय ज्ञान स्थल बोधगया
नगरपंचायत की वार्ड नंबर 17 विकास योजना का बंदरबांट कर शिविर का पैसा लूट कर निकल गया लेकिन आज तक विकास का नाम नहीं हुआ पहला शौचालय सही नहीं बना इंदिरा आवास नहीं बना नल जल योजना नहीं मिला शिक्षा नहीं मिलता और रोड तो बना ही नहीं या बिहार के सुशासन की राजनीत शपथ और समाज की विकास की ओर शराबबंदी का योजना पर हमारा गांव में नहीं बंद हुआ मस्तीपुर अन्य गांव में क्या बंद होगा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री माननीय जीतनराम मांझी जी  ने इस बात को चुनौती देते हुए कहा कि बिहार में अभी तक शौचालय बन नहीं है इस पर जांच की विषय बनता है हमारे बिहार की डी जे पी साहब ने औरंगाबाद और नवादा में भी इस बात को पर फोक्स किया कि हमारी शेर और हमारी वर्दी एक सेवक सिपाही का महत्व होता है सुरक्षा देना इस पर कर्तव्य बनता है लेकिन. आज. दुख व्यक्त करते हुए मैं कहता हूं इस गांव में आज तक विकास का नाम सुन्य है लेकिन इसी से 200 बड़े-बड़े बिल्डिंग बने हुए हैं लेकिन इसके पीछे दलित परिवार के जमीन पर को लूट कर मकान बना लिया लेकिन आज तक गांव में विकास नहीं हुआ।

No comments