Breaking News

तहसील अधिकारी व कर्मचारियों ने जाना राहत बचाव का तरीका

तहसील अधिकारी व कर्मचारियों ने जाना राहत बचाव का तरीका

जनपद में फेमेक्स के लिए वाराणसी से आयीं 11वीं एनडीआरएफ़ की टीम सोमवार को तहसील महोबा के अधिकारी व  कार्मिकों से  यहाँ की संभावित आपदा तथा आपदा के लिहाज से महत्वपूर्ण विषयों के बारे में विचार विमर्श की और तहसील के  कर्मिकों को आपदा के दौरान राहत व बचाव कार्य के बारे में प्रशिक्षण दिया ताकि जरूरत पड़ने पर आपदा के समय जरूरत मंद लोगों को त्वरित सहायता मिल सके साथ ही लोग आपदा की स्थिति में स्वयं को सुरक्षित रख सके ।टीम ने बताया कि आपदा के समय स्थानीय लोगों की भागीदारी बहुत महत्वपूर्ण होती है ।और अगर स्थानीय लोग प्रशिक्षित हो तो कई जानें  बचाई जा सकती है ।  एक सजग नागरिक ही प्रदेश व देश के विकाश में अहम भूमिका निभा सकती है । यह तभी संभव है जब हम सब किसी जरूरतमंद की मदद के लिए हाथ बढ़ाएं । प्रशिक्षण के दौरान टीम के द्वारा इमरजेंसी मूव, हार्ट अटैक होने पर सीपीआर की  कार्रवाई कट जाने पर खून रोकने के तरीके, गले मे कांचा या कुछ अटक जाने पर की जाने वाली कार्रवाई  कोई अंग  फ्रैक्चर होने पर कार्रवाई स्थानीय साधनों से स्ट्रैचर तथा तैरनेवाली सामग्री बनाने का तरीके बताया इस दौरान टीम के उत्साह वर्धन में तालियों से स्वागत भी किया ।जिसमें तहसीलदार श्री राकेश कुमार, आरआई बालकृष्ण सिंह व लेखपाल व अधिवक्ताओं तथा अन्य कर्मचारियों ने भाग लिया,प्रशिक्षक टीम में टीम कमाण्डर अमोल कुमार के साथ ASI मुकेश चौहान, ASI  शिवलाल तथा रेस्क्यूअर अजय राय, राजेन्द्र नेगी,राजेन्द्र प्रसाद, प्रमोद, विजय, अमित दुबे, अरविंद, नाथू, जयशंकर ने प्रशिक्षण दिया
महोबा से सुभाष अग्रवाल की रिपोर्ट

No comments