Breaking News

जिलाधिकारी ने कई परीक्षा केंद्रों का किया औचक निरीक्षण

*जिलाधिकारी ने कई परीक्षा केंद्रों का किया औचक निरीक्षण
*
*आकाश टेक्निकल क्लासेस के केंद्राधीक्षक के विरुद्ध प्राथमिकी का आदेश*
गया, 20 फरवरी 2020, बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना द्वारा आयोजित वार्षिक माध्यमिक( मैट्रिक) परीक्षा 2020 के अवसर पर स्वच्छ एवं कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन हेतु जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह ने कई परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम आकाश टेक्निकल क्लासेस में चल रही परीक्षा का जायजा लिया। उन्होंने कमरा संख्या- 1, कमरा संख्या -2, कमरा संख्या -3, कमरा संख्या- 4 का औचक निरीक्षण किया। कमरा संख्या-5 के निरीक्षण के दौरान उन्होंने वीक्षक को आईकार्ड में नहीं रहने पर आई कार्ड पहनकर ड्यूटी करने का निर्देश दिया। कमरा संख्या- 6 के निरीक्षण के दौरान परीक्षार्थी रोशनी कुमारी कदाचार में लिप्त पाई गई। जिलाधिकारी ने वीक्षक मिशन स्कूल गया के शिक्षक अनुराधा कुमारी, करियारपुर मध्य विद्यालय के प्रतिभा कुमारी, मध्य विद्यालय नीमा के टोला सेवक मिथिलेश कुमार से स्पष्टीकरण पूछते हुए उन पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। कमरा संख्या-12 के निरीक्षण के दौरान खिड़की के समीप काफी सारे चिट पुर्जे फेंके हुए पाए गए। उन्होंने वीक्षक मध्य विद्यालय, सूरजपुरा, बोधगया के सुशील कुमार एवं मध्य विद्यालय कोसमा के हेमलता कुमारी से स्पष्टीकरण पूछते हुए उन पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया साथ ही *जिलाधिकारी ने आकाश टेक्निकल क्लासेस के रवैया खराब देखते हुए केन्द्राधीक्षक सतीश चंद्र के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया।* उन्होंने कहा कि आकाश टेक्निकल क्लासेज में केन्द्राधीक्षक द्वारा घोर लापरवाही की जा रही है। परीक्षा को सीरियसली नहीं लिया जा रहा है।
इसके उपरांत जिलाधिकारी ने जगजीवन कॉलेज का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने सर्वप्रथम टॉयलेट रूम का निरीक्षण करवाया। निरीक्षण के क्रम में टॉयलेट रूम में काफी सारे गेसपेपर एवं चिट पुर्जे फेंके हुए पाए गए हैं। जिलाधिकारी ने केन्द्राधीक्षक को फटकार लगाया। इसके उपरांत उन्होंने कमरा संख्या 6 का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान परीक्षार्थी पंकज कुमार कदाचार में लिप्त पाए गए। जिलाधिकारी ने वीक्षक हिंदी मध्य विद्यालय, गेवालबिगहा के सालनी कुमारी, प्राथमिक विद्यालय शोहैपुर टनकुप्पा के नीतू कुमारी से स्पष्टीकरण पूछते हुए उन पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया साथ ही कमरा संख्या-3 के निरीक्षण के दौरान परीक्षार्थी रॉकी कुमार कदाचार में लिप्त पाया गया। कमरा संख्या- 2 के निरीक्षण के दौरान परीक्षार्थी रंजीत कुमार कदाचार में लिप्त पाए गए। कमरा संख्या 1 के निरीक्षण के दौरान परीक्षार्थी आदर्श राज कदाचार में लिप्त पाए गए। जिलाधिकारी ने वीक्षक चंद्रदेव यादव एवं जिन-जिन कमरों में चिट पुर्जे पकड़े गए हैं उन सभी कमरों के वीक्षक से स्पष्टीकरण पूछते हुए उन पर कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया साथ ही केन्द्राधीक्षक उमा शंकर कुमार के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया। इसके उपरांत उन्होंने दया प्रकाश सरस्वती विद्या मंदिर विद्यालय का निरीक्षण किया वहां भी कई परीक्षार्थी कदाचार में लिप्त पाए गए। जिलाधिकारी ने संबंधित वीक्षक एवं केन्द्राधीक्षक पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

No comments