Breaking News

देश को धर्म के नाम पर लड़ाकर एवं गुमराह कर देश की संपत्ति बेची जा रही है: डॉ कन्हैया कुमार

देश को धर्म के नाम पर लड़ाकर एवं गुमराह कर देश की संपत्ति बेची जा रही है: डॉ कन्हैया कुमार



मधेपुरा बिहार 

हर खबर आप तक 

भारत न्यूज़ लाइव 24

रिपोर्टर अमीर आजाद

बिहार: मधेपुरा जिला के सिंहेश्वर प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत जजहट सबैला पंचायत के झिटकिया मदरसा कैंपस में जन गण मन यात्रा में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा, इस दौरान मुख्य वक्ता के रूप में आये जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष सह सीपीआई नेता डॉ कन्हैया कुमार एवं वली रहमानी को सुनने के लोग काफी उत्साहित थे।
सभा को संबोधित करते हुए डॉ कन्हैया कुमार वर्तमान सरकार पर जम कर बरसे और सरकार की कमियां लोगों को बताया. इस दौरान कहा कि हमलोग जन गण मन यात्रा पर निकले हैं, 30 जनवरी से चंपारण से शुरू यह यात्रा मधेपुरा पहुंची है, 29 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में यात्रा समाप्त होगी. देश की जनता एकजुट हो रही है. बाबा साहब के संविधान और तिरंगे को बचाने के लिए संविधान पर हमला किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं करेंगे. लोगों से इस लड़ाई में सहयोग करने की अपील है. 

मौके पर कांग्रेस विधायक शकील अहमद ने कहा कि कन्हैया पर अब तक तीन बार हमला हो चुका है, लेकिन हमलोग मुहब्बत का पैगाम बांटने वाले हैं, जो लोग संविधान और हिंदुस्तान में विश्वास करते हैं, वे यहां है। हमारे पुरखे ने अंग्रेजों को भगाया था, अब अंग्रेजों के जो हिमायती हैं, उन्हें भी खदेरेंगे, यह सरकार धीरे-धीरे सरकारी कंपनियां बेच रही है और अम्बानी जैसे चंद लोगों के पास अकूत संपत्ति बन रही है, इसे हमलोग नहीं बर्दास्त करेंगे, कट्टर सोच, कट्टर मुहावरे कहीं से आए, इस देश ले लिए ठीक नहीं है. पूरे देश मे देखने को मिल रहा है, कुछ लोगों की कट्टर जुबान से परेशानी हो रही है, पांच साल पूर्व भाजपा की सरकार ने कन्हैया को जेल में डाल दिया था, आखिर कन्हैया का कसूर क्या था।

जामिया के छात्र वली रहमानी ने कहा कि हमें यह जानना जरूरी है कि हम गौतम बुद्ध की जमीन पर पैदा हुए हैं, नरेंद्र मोदी से झूठा कोई नहीं है और गृहमंत्री अमित शाह तड़ीपार को भी सत्ता से उखाड़ फेंकना है, हमलोग महात्मा गांधी को मानने वाले हैं, हिंदुस्तान की आवाम हिटलर साई सरकार को कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि यह मुसलमानों की लड़ाई है. लेकिन जब तुम तीन तलाक बिल लाते हो, कश्मीर को लहूलुहान किए, हमलोग चुप रहे, लेकिन अब संविधान बदलने नहीं देंगे। दिल्ली के शाहीन बाग में जिस दिन से महिलाएं धरना में आने लगी, उसी दिन से हमलोग जीतने लगे, इस चौकीदार को 2024 में भगाएंगे। दोबारा वे चाय बेचें, देश को बेचने नहीं देंगे, दिल्ली, गुजरात में जबरन मुसलमानों से जय श्री राम कहलवाया जा रहा है, राम तो हमारे दिलो में बसते हैं, वो तो सच्च के प्रतीक हैं, राम सत्ता छोड़कर वनवास चले गए, मोदी सत्ता पर बैठा है, मोदी दुकानदार है, दुकान चला रहा है, वे कहते हैं पाकिस्तान जाओ, पर हमलोग वे हैं, जो मरने के बाद इसी मिट्टी में मिल जाएंगे, मोदी पाकिस्तान गया तो नवाज शरीफ जेल चला गया । योगी आदित्यनाथ और उसके नुमाइंदे हिंदू-मुस्लिम बांटने की बात करती है, लेकिन महा ग्रंथ भागवत गीता कहती है, की पूरी दुनिया एक परिवार है, मोदी को धन्यवाद कहेंगे कि पहले संविधान वकील और जज पढ़ते थे, लेकिन अब 10 साल का बच्चा भी संविधान पढ़ रहा है, अमेरिका में पासपोर्ट देखकर कहा जाता है भारतीय है, लेकिन यहां कहा जाएगा साबित करो। बिहार में हर साल बाढ़ आती है, घर बह जाता है, नागरिकता कैसे साबित करे, डिटेंशन सेंटर में कई हिन्दू मर गए, अप्रैल से एनपीआर का डिटेल मांगा जाएगा, उन्हें कोई कागज नहीं दिखाया जाएगा, कोर्ट में सिर्फ तारीख पर तारीख - तारीख पर तारीख पड़ेगी, चार साल की लंबी लड़ाई लड़नी है, मोदी और शाह तुम्हारा वक्त आया है, हमारा तो दौर आएगा।
मंच की अध्यक्षता सीपीआई के जिला अध्यक्ष एवं राष्ट्रीय सदस्य प्रमोद प्रभाकर कर रहे थे, वही स्वागत मुखिया पति मोहम्मद परवेज आलम ने किया, इस दौरान ओम प्रकाश नारायण, सत्येंद्र सिंह, मुश्फिक आलम, मोहम्मद आलम, विद्याधर मुखिया, गणेश मानव, भाकपा रामचंद्र दास, चंद्रशेखर यादव, मोहम्मद अहद, कौशल यादव, कौशर आलम, मोहम्मद लुकमान, वसी उद्दीन, नन्हे, मनोरंजन सिंह, इसरार अहमद, मोहम्मद अजीम, फुरकान आलम, शाहनवाज उर्फ सदाकत, सबील आलम, इस्तखार आलम, वशीमउद्दीन, मोहम्मद मकबूल, मोहम्मद अरमान,  मोहम्मद मिन्नतुल्लाह एवं सभी सहयोगी जन गण मन समारोह में मौजूद रहे।

No comments