Breaking News

6 फरवरी को मधेपुरा के झिटकिया में आम सभा को संबोधित करेंगे कन्हैया कुमार

6 फरवरी को मधेपुरा के झिटकिया में आम सभा को संबोधित करेंगे कन्हैया कुमार

मधेपुरा बिहार 

हर खबर आप तक 

भारत न्यूज़ लाइव 24

रिपोर्टर अमीर आजाद

एनपीआर, एन आर सी और सीएए के विरोध में जन संघर्ष मोर्चा द्वारा आयोजित जन गण मन यात्रा के दौरान आगामी 6 फ़रवरी को जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के मधेपुरा आगमन पर सिंहेश्वर के झिटकिया में पुर्व मुखिया सह मुखिया पति परवेज आलम की अध्यक्षता में एक बैठक की गई । 

कन्हैया कुमार के कार्यक्रम को सफल बनाने पर विस्तार से चर्चा की गई । बैठक में निर्णय लिया गया कि कन्हैया की सभा झिटकिया में बीएन मंडल विश्वविद्यालय के नए परिसर से आगे एनएच 106 के किनारे किसानों के निजी जमीन पर आयोजित होगी । बैठक को संबोधित करते हुए भाकपा नेता रमण कुमार ने कहा कि आज समय आ गया है हम देशविरोधी ताकतों को जो धर्म और सम्रदाय के नाम पर एक बार फिर देश को खंड खंड करना चाहता है उसे मुहतोड़ जबाब दें । इसके लिए उन्होंने लाखों लाख की संख्या में लोगों को कन्हैया की सभा में शामिल होने की अपील की । 

वहीं मुखिया परवेज आलम ने कहा कि आज हमारा हमारा संविधान खतरे में है इसलिए समय आगया है कि हम अपने देश और संविधान की रक्षा के लिए आगे आएं और बिहार की जनता में जन जागृति लाने के लिए यात्रा पर निकले कन्हैया कुमार की सभा में शामिल हों । वही अधिवक्ता और बुधमा पंचायत के मुखिया पति पवन कुमार ने कहा कि आज देश में गोडसे के पुजारी भगत सिंह और असफाक उल्ला के पुजारी को देशद्रोही बता रहा है । आज देश की गंगा-जमुनी तहजीब खतरे में है । सीपीआई नेता शैलेन्द्र यादव कहा कि जिला प्रशासन सरकार के दबाब में मधेपुरा जिला मुख्यालय में परीक्षा का बहाना बना कर सभा करने की अनुमति नहीं दिया । विश्वविद्यालय ने नया परिसर नहीं नहीं दिया लिहाजा हम झिटकिया के किसानों के आभारी है जन्होने अपनी खड़ी फसल की बलि देकर कन्हैया की सभा कराने की हिम्मत दिखाई है । 

बैठक में माकपा नेता गणेश मानव, सीपीआई जिला सचिव विद्याधर मुखिया, सामाजिक कार्यकर्त्ता मो. शौकत अली, दिलीप पटेल, एआईएसएफ जिला अध्यक्ष मो. वसीम उद्दीन, नौजवान नेता शम्भू क्रांति, एनएसयुआई जिला अध्यक्ष निशांत कुमार, भीम आर्मी मधेपुरा चीफ मुन्ना पासवान, मो. जहाँगीर, कांग्रेस नेता मो. नशिम खान आदि उपस्थित थे ।

No comments