Breaking News

उत्तर प्रदेश मेरठ सालाना 20 करोड का राशन घोटाला 8400000 का गेहूं और 8400000 के चावल का हर महा घोटाला

उत्तर प्रदेश मेरठ सालाना 20 करोड का राशन घोटाला 8400000 का गेहूं और 8400000 के चावल का हर महा घोटाला

मेरठ भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेई ने माननीय मुख्यमंत्री से राशन घोटाले की शिकायत की थी जिसकी जांच अभी एसआईटी कर रही है

मेरठ राशन कार्ड ओं में फर्जी लोगों के नाम जोड़कर हर साल 20 करोड़ से ज्यादा का राशन घोटाला हो रहा है इसमें राशन डीलरों के साथ आपूर्ति विभाग की भी मिलीभगत सामने आ रही है
जनपद में 470000 राशन कार्ड है गरीब परिवार को मिलने वाले राशन कार्ड की कालाबाजारी बंद करने और जनता तक राशन पहुंचाने के लिए सरकार ने बायोमेट्रिक मशीनों की व्यवस्था की सभी राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक किया परिवार के सदस्यों के आधार लिंक किए ताकि परिवार का कोई भी सदस्य राशन की दुकान पर पहुंचकर मशीन पर अंगूठा लगाकर राशन ले सके लेकिन राशन माफियाओं ने इस व्यवस्था में भी छेद कर दिया ठीक है राशन घोटाले के लिए राशन डीलरों ने विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से नया रास्ता निकाल लिया है राशन कार्ड में फर्जी नाम शामिल कराकर उनके नाम से राशन निकाला जा रहा है

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई का कहना है राशन घोटाले में आपूर्ति विभाग ही नहीं बल्कि जिला प्रशासन की भी मिलीभगत है पूर्व में उजागर हुए राशन घोटाले के बाद भी जिला प्रशासन गंभीर नहीं है अधिकारी सरकार को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं जिसको हम किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे पूरी रिपोर्ट उत्तर प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपी जाएगी

मेरठ मंडल ब्यूरो सुशील रस्तोगी

No comments