Breaking News

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल में मनायी गयी सुभाष चंद्र बोस की जयंती।

*सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल में मनायी गयी सुभाष चंद्र बोस की जयंती।

मधेपुरा बिहार 

हर खबर आप तक 

भारत न्यूज़ लाइव 24

रिपोर्टर अमीर आजाद

सुभाष चंद्र बोस के जयंती के अवसर पर सावित्री नंदा पब्लिक स्कूल के छात्र एवं शिक्षकों के द्वारा कार्यक्रम में भाषण, वाद - विवाद, परिचर्चा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को संचालित कर रहे विद्यालय के निदेशक आमोद कुमार ने कहा कि सुभाष चन्द्र बोस का जन्म 23 जनवरी सन.1897 में उड़ीसा के कटक नामक शहर में हुआ था। सुभाष चन्द्र बोस भारतीय हिन्द फ़ौज के नेता और स्वतंत्रता सेनानी थे। उनके पिता का नाम जानकीनाथ बोस तथा माता का नाम प्रभावती था। उनके पिता जानकीनाथ बोस एक मशहूर वकील थे। जानकीनाथ बोस की 14 संताने थीं, जिसमें 6 बेटियाँ और 8 बेटे थे। सुभाष चन्द्र बोस अपने माता-पिता की 9वीं संतान और पांचवे बेटे थे। सुभाष चन्द्र बोस को नेता जी के नाम से भी जाने जाते हैं। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान, अंग्रजों से लड़ने के लिये सुभाष चन्द्र बोस ने जापान के साथ मिलकर "आज़ाद हिन्द फ़ौज" का गठन किया था। सुभाष चन्द्र बोस का "जय हिंद" का नारा राष्ट्रीय नारा बन गया और उनके द्वारा बोला गया "तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा" का नारा उस समय बहुत प्रचलन में आया। साथ ही उन्होंने कहा हमें उनके जीवन चरित्र से सीख लेनी चाहिए।
   विद्यालय की सह निदेशिका शोभा मैडम तथा ई नीरज ने कहा कि  भारत की आजादी में सुभाष चंद्र बोस की अहम भूमिका रही जिसे आज भी हमलोग याद करते हैं। दीपक, रिशु, राजा, काजल, दिलखुश, राखी  सर्वेश, विजयालक्ष्मी, गुड़िया, आलोक, राहुल सिंह, बिनोद, राजू, मोहम्मद अलिमुद्दीन, संजय एवं छात्र-छात्राएँ तथा शिक्षकगण ने सुभाष चन्द्र बोस की बात की।

No comments