Breaking News

आयुक्त महोदय ने की नगर निगम की समीक्षा

*आयुक्त महोदय ने की नगर निगम की समीक्षा
*
गया, 24 जनवरी 2020, आयुक्त मगध प्रमंडल श्री असंगबा चुबा आओ की अध्यक्षता में गया नगर निगम की कार्यरत योजनाओं की समीक्षा बैठक की गई। बैठक में सर्वप्रथम नगर आयुक्त श्री सावन कुमार द्वारा बताया गया कि गया नगर निगम 50 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला है। जिसमें 53 वार्ड हैं। उन्होंने बताया कि स्वीकृत पद 1285 के विरुद्ध 455 कर्मी अभी कार्यरत हैं जबकि जीआरडीए के स्टाफ को भी नगर निगम में मर्ज कर दिया गया है। आयुक्त महोदय ने इस संबंध में विभाग से मार्गदर्शन प्राप्त कर नियुक्ति की अग्रेतर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। 
*हाउसिंग फॉर ऑल* योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि फेज-1 से फेज-4 तक के लिए लाभुकों का चयन सरयुग एंड कंपनी के द्वारा किया गया है। अभी तक फेज-1 के लिए निर्धारित लक्ष्य 727 के विरूद्ध 583 लाभुकों को आवास उपलब्ध कराया जा चुका है। उन्होंने कहा कि इसके लिए लाभुकों को ₹200000 प्रदान किया जाता है जिसमें ₹50000 नीव डालने के उपरांत, ₹100000 लिंटर तक बनाने पर, ₹20000 छत ढालने के बाद एवं ₹30000 प्लास्टर एवं शौचालय बना लेने के बाद दिया जाता है। उन्होंने कहा कि फेज 5 के लिए 5095 लाभुकों को आवास देने का लक्ष्य निर्धारित है। आयुक्त महोदय ने कहा कि आवास की सूची का क्रॉस वेरिफिकेशन करा लिया जाए जिसमे यह देख लिया जाए की सूची में जिसका नाम है वह व्यक्ति सही में है या नहीं तथा आवास योजना के लाभ के लिए योग्य है या नहीं तथा डुप्लीकेसी तो नहीं हो रहा है। यदि इसमें अनियमितता पाई जाती है तो संबंधित एजेंसी के विरुद्ध कार्रवाई की जाए। 
नगर आयुक्त ने कहा कि अप्रैल 2020 तक फेज 5 का लक्ष्य पूरा कर लिया जाएगा। आयुक्त महोदय ने आवास निर्माण होने के उपरांत उसका जियो टैगिंग कराने का निर्देश दिया।
कंडी नवादा के पास बन रहे चिल्ड्रन पार्क के संबंध में बताया कि 2.28 करोड़ रुपये की यह योजना है। 400 मीटर में पार्क बनाया जाना है। 250 मीटर में कार्य किया जा चुका है शेष जमीन के लिए अंचलाधिकारी नगर को पत्र भेजा गया है। यह कार्य गजानन कंस्ट्रक्शन द्वारा किया जा रहा है। आयुक्त महोदय ने जमीन की समस्या का निराकरण कराते हुए मार्च 2020 तक इसे पूर्ण कराने का निर्देश दिया। गैवाल बिगहा मोड़ के समीप खलीस पार्क के संबंध में बताया गया कि डीपीआर बनाकर भेजा गया है। आयुक्त महोदय ने कहा कि शहर के प्रवेश स्थल पर कोई आकर्षक कार्य कराया जाए जिससे लगे कि गया शहर में प्रवेश कर रहे हैं। इसके लिए डिस्प्ले बोर्ड या गया से जुड़े हुए महत्वपूर्ण स्टैचू बनाने का सुझाव दिया। 
हृदय योजना के तहत किये जा रहे योजनाओं में सिंगरा स्थान में किए जा रहे कार्य के संबंध में बताया गया कि वन विभाग द्वारा उक्त कार्य पर रोक लगा दी गई है। आयुक्त महोदय ने आज ही जिला वन पदाधिकारी से मिलकर इस मसला को सुलझाने और कार्य प्रारंभ कराने का निर्देश दिया। हृदय योजना के तहत ही विष्णुपद, देवघाट एवं करसिल्ली में कार्य पूर्ण होने की जानकारी दी गई तथा तुलसी उद्यान के पाथवे में थोड़ा काम बाकी होने की जानकारी दी। आयुक्त महोदय ने 28 फरवरी 2020 तक हर हाल में कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया। गोदावरी में कार्य नहीं होने की जानकारी दी गई जबकि सीपीडब्ल्यूडी के कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि 85% कार्य पूर्ण हो चुका है और इसे फरवरी के अंत तक पूर्ण कर लिया जाएगा। अक्षयवट में आकर्षक लाइट का कार्य बाकी होने की जानकारी दी गई। ब्रह्मसत तालाब के पास विष्णुपद थाना के द्वारा वाहन नहीं हटाए जाने के कारण उसके समीप गेट का निर्माण नहीं होने की जानकारी दी गई। आयुक्त महोदय ने आज ही विष्णुपद थाना प्रभारी से मिलकर मसले को सुलझाने का निर्देश नगर आयुक्त को दिया। डुंगेश्वरी के संबंध में बताया गया कि वहां पाथवे का निर्माण कराया जा चुका है। नन सिड्यूल वर्क फरवरी तक हो जाएगा।
एडीबी के तहत किए जा रहे जलापूर्ति योजना के कार्य के संबंध में बताया गया कि वाटर सोर्स का कार्य अप्रैल 2020 तक कर लिया जाएगा जबकि डिस्ट्रीब्यूशन का कार्य मई तक पूर्ण हो सकेगा। आयुक्त महोदय ने अधिक मेन पावर लगाकर मार्च तक कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया साथ ही जल संकट क्षेत्र को प्राथमिकता देते हुए कार्य कराने का निर्देश दिया। संबंधित पदाधिकारी द्वारा असमर्थता व्यक्त करने पर उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र में 50% से ऊपर कार्य हो चुके हैं उसे 31 मार्च तक तथा जिस क्षेत्र में 30 से 50% तक कार्य हुआ है उसे अप्रैल तक पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि 1 दिन भी कार्य नहीं रुकना चाहिए। 
वुडको के कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि मानपुर बस स्टैंड के लिए चार करोड़ रूपये प्राप्त हुए थे जिससे कार्य कराया जा चुका है। द्वितीय आवंटन की प्रतीक्षा हो रही है जिससे कार्य कराया जा सके।
दिग्घी तालाब सौंदर्यीकरण योजना में संवेदक द्वारा कार्य नहीं कराए जाने की जानकारी दी गई और बताया गया कि अब तक तीन बार उसे नोटिस दिया जा चुका है। आयुक्त महोदय ने एक बार और नोटिस देने को कहा और उसके बाद अगर कार्य नहीं करता है तो ब्लैक लिस्ट करने एवं वर्क का रिसाईण्ड करने का निर्देश दिया। 
बॉटम नाला के संबंध में नगर आयुक्त ने कहा कि मार्च 2020 तक कार्य पूरा कर लिया जाएगा। बैठक में जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, आयुक्त के सचिव, क्षेत्रीय विकास पदाधिकारी, उप निदेशक जनसंपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, कार्यपालक अभियंता जलापूर्ति, कार्यपालक अभियंता बुडको, उप नगर आयुक्त एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

No comments