Breaking News

रामेश्वर मध्य विद्यालय सलेमपुर को उत्क्रमित उच्च विद्यालय में परिणत करने के लिए सलेमपुर

रामेश्वर मध्य विद्यालय सलेमपुर को उत्क्रमित उच्च विद्यालय में परिणत करने के लिए सलेमपुर
ग्राम वासियों ने औरंगाबाद सांसद को लिखा पत्र l टेकारी गया बिहार से विश्वनाथ आनंद का रिपोर्ट:-टेकारी अनुमंडल के सलेमपुर के ग्रामीणों ने रामेश्वर मध्य विद्यालय को उत्क्रमित उच्च विद्यालय में परिणत करने के लिए औरंगाबाद के सांसद सुशील कुमार सिंह को पत्र लिखा है l उक्त बातों की जानकारी देते हुए सलेमपुर ग्राम निवासी सह सामाजिक कार्यकर्ता बाल्मीकि प्रसाद ने दी l श्री बाल्मीकि प्रसाद ने कहा कि रामेश्वर मध्य विद्यालय की स्थापना सन 1940 में की गई थीl यह विद्यालय सभी उच्च विद्यालय मे परिणत करने के लिए सभी मापदंडों को पूरा करता है इसके बावजूद भी उत्क्रमित उच्च विद्यालय का दर्जा नहीं प्राप्त कर सका l ग्रामीणों ने विवश होकर सांसद को पत्र लिखा है l श्री प्रसाद ने आगे कहा कि ग्राम पंचायत बेल हड़िया के रामेश्वर मध्य विद्यालय पूर्णरूपेण से पक्का भवन में अवस्थित है इस विद्यालय में वर्तमान में 400 से 500 छात्राएं आठवीं कक्षा तक नियमित रूप से शिक्षा प्राप्त कर रही हैं इस विद्यालय में अति पिछड़ा अनुसूचित जाति छात्राओं की संख्या बहुतायत है इस स्कूल टिकारी शहर में एक से डेढ़ किलोमीटर पर पक्की सड़क के नजदीक में है जहां से छात्र-छात्राओं के आवागमन में किसी प्रकार की असुविधा नहीं है इस विद्यालय में सलेमपुर एवं आसपास के गांव के छात्र-छात्राएं शिक्षा प्राप्त करती है विद्यालय परिसर चारदीवारी के अंदर 15 से 20 कमरों सहित उपलब्ध है साथ ही बच्चों के खेल कूद के लिए छोटा मैदान भी उपलब्ध है विद्यालय परिसर के बगल में विद्यालय का एक बड़ा तालाब अवस्थित है जिसमें पानी रहने से जल स्रोत एवं पर्यावरण के दृष्टिकोण से उपयुक्त है साथ ही विद्यालय की सौंदर्यता को सौजन्यता प्रदान करता है l यद्यपि तालाब को विशेष सौंदर्य ता प्रदान कर सुंदर बनाने जाने की आवश्यकता है विद्यालय परिसर में शौचालय चापाकल उपलब्ध है जिससे छात्र छात्राओं को पीने का पानी एवं प्राकृतिक क्रिया संसाधन सहज रूप से उपलब्ध है l रामेश्वर मध्य विद्यालय सलेमपुर का लगभग 0.70-0.80 डिसमिल सरकारी भूमि उपलब्ध हैl विद्यालय की भौगोलिक स्थिति पेड़ पौधों तालाबों मैदान से सुसज्जित है जो पर्यावरण के दृष्टिकोण से उपयुक्त है l विद्यालय परिसर में विद्यालय निर्माता"स्वर्गीय रामेश्वर प्रसाद"की सुंदरता प्रतिमा स्थापित है जो विद्यालय की सौंदर्यता एवं सौजन्यता को प्रभावित करता है l श्री प्रसाद ने आगे कहा कि औरंगाबाद का सांसद माननीय सुशील कुमार सिंह ने उत्क्रमित उच्च विद्यालय में परिणत का करने का आश्वासन दिया l सांसद को पत्र लिखे जाने में अपनी भूमिका निभाने वालों में नंद कुमार प्रसाद संजय कुमार वर्मा उदय कुमार वर्मा काजल कुमारी बरखा कुमारी रूपा कुमारी गौतम प्रियदर्शी प्रेरणा प्रियदर्शी,  सुनील कुमार सोनी सहित 105 ग्रामीणों ने हस्ताक्षर युक्त पत्र को पत्र को समर्पित किया l अब देखना दिलचस्प होगा कि औरंगाबाद के माननीय सांसद सुशील कुमार सिंह की घोषणा धरातल पर उतर पाता है या छलावा साबित होगा l यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा लेकिन जिस प्रकार से माननीय सांसद ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है उस पर ग्रामीणों का ध्यान टिका है l

No comments