Breaking News

लावारिस मासूम की चीख सुन भावुक हुए विनोद कापड़ी, अब गूंजेगी उनके आँगन में यह किलकारी

*लावारिस मासूम की चीख सुन भावुक हुए विनोद कापड़ी, अब गूंजेगी उनके आँगन में यह किलकारी

*



 एक तरफ तपता सूरज जान लेने को तत्पर था तो दूसरी और कुढ़े ढेर के आसपास घूम रहे आवारा जानवर लेकी भगवान को तो कुछ और ही मंजूर था. कहते है मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है. आज इसकी मिशाल तब देखने को मिली जब कोई समाज की लोकलाज के कारण जन्मते ही एक मासूम सी गुडिया को कुढ़े के ढेर में फेंक गया. लेकिन जिसकी जिंदगी होती है उसका कोई भी बाल बांका नहीं कर सकता है. इस तरह का एक मामला आज राजस्थान के नागौर में देखने को मिला. जिस तापमान में आदमी जल रहा हो उस तापमान में भी मासूम की चीख ने सबका ध्यान अपनी और आकर्षित कर लिया और बच गई जिन्दगी. एक तरफ तपता सूरज जान लेने को तत्पर था तो दूसरी और कुढ़े ढेर के आसपास घूम रहे आवारा जानवर लेकी भगवान को तो कुछ और ही मंजूर था.इमरान खान की चालाबाजियों से नरेन्द्र मोदी को सावधान रहना चाहिए! राजस्थान के नागौर जिले के बरनेल में कचरे ढेर में मिली नवजात का मामला अब एक बड़ी खबर बन चुकी है. नवजात का नागौर के जेएलएन अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. डॉक्टर्स की टीम की निगरानी में नवजात की हालत स्थिर बताई गई है. इस बच्ची को कोई समाज की लाज शर्म के कारण अपनी इज्जत के चलते इस मासूम को दांव पर लगा गया. अगर इस मासूम को कुछ देर और नहीं कोई देखता तो इसके प्राण पखेरू उड़ जाते लेकिन इस पीहू के इंतजार में एक ऐसा जोड़ा राह देख रहा था.



*संवाददाता राजीव तिवारी सीधी भारत न्यूज़ लाइव 24 हर खबर आप  तक*

No comments