Breaking News

कमलनाथ मंत्रिमंडल विस्तार के कयास तेज, कई मंत्री हो सकते हैं बाहर*

*कमलनाथ मंत्रिमंडल विस्तार के कयास तेज, कई मंत्री हो सकते हैं बाहर*




भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार करके सपा, बसपा और निर्दलीय विधायकों को शामिल कर सकते हैं। कुछ मंत्रियों के इस्तीफे भी लिए जाने के संकेत सीएम कमलनाथ ने यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी को एक पत्र लिखकर दिए हैं। फिलहाल प्रदेश मंत्रिमंडल में अभी मुख्यमंत्री सहित 29 सदस्य हैं। छह मंत्री पद रिक्त हैं। विधानसभा सत्र से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ के मंत्रिमंडल विस्तार में खास बात यह है कि इस बार निर्दलीय विधायकों को भी मौका मिल सकता है तो कुछ मंत्रियों से इस्तीफे भी लिए जा सकते हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी को एक पत्र लिखा है जिसमें कहा गया है कि प्रदेश के बड़े नेता (कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया) अपने कोटे से दो-दो मंत्रियों की संख्या कम कर दें तो 6 पद खाली हो जाएंगे। 


इनके बदले में निर्दलियों को मंत्री बना दिया जाए। इससे भाजपा द्वारा सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिशों पर रोक लगाई जा सकती है। बीते कई दिनों से कमलनाथ दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं और लगातार बड़े नेताओं के संपर्क में हैं।हाल ही में दिल्ली में उन्होंने डिनर के लिए भी कई नेताओं को बुलाया था, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि विधानसभा सत्र से पहले कमलनाथ मंत्रिमंडल का विस्तार कर बीजेपी के आरोपों से बच सकते हैं। इसके पहले विधायक भी कई बार नाराजगी जता चुके हैं जिनमें सुरेंद्र सिंह ठाकुर, केदार डाबर और विक्रम सिंह राणा, सपा के इकलौते विधायक राजेश शुक्ला और बसपा से संजीव कुशवाह और रामबाई शामिल हैं। इनमें से पांच को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है। संभावना जताई जा रही है कि अब तक अपने अच्छा प्रदर्शन न करने वाले मंत्रियों से इस्तीफे लेकर सरकार नए चेहरों को मौका दे सकती है। 


 *संवाददाता कमलेश सिंह चौहान सिहावल सीधी भारत न्यूज़ लाइव 24 हर खबर आप तक*

No comments