Breaking News

बच्चों की मौत पर राजद का गंभीर आरोप, रामचंद्र पूर्वे बरसे - कहा यह हत्या है


बच्चों की मौत पर राजद का गंभीर आरोप, रामचंद्र पूर्वे  बरसे -  कहा यह हत्या है             अजय कुमार पांडेय / अनुभव रंजन

पटना: बिहार में चमकी बुखार (AES) का कहर जारी है!  इस गंभीर बीमारी की वजह से मुजफ्फरपुर में अब तक 87 बच्चों की मौत हो गई है !  मासूम बच्चों की मौत को लेकर विपक्ष ने राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार पर हमला बोल दिया है !  इंसेफेलाइटिस से हो रही बच्चों की मौत पर राजद ने एक गंभीर आरोप लगाया है ! राजद (RJD) के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा है कि अस्पताल में एक ही आई0सी0यू0 के बेड पर कई बच्चों का इलाज किया जा रहा है ! उन्होंने कहा कि किसी भी अस्पताल में समुचित व्यवस्था नहीं है ! देश के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा है !  यह बीमारी से मौत नहीं हुई है बल्कि हत्या है. पूर्वे ने कहा कि राजद नेता और कार्यकर्ता सरकार के सभी मुद्दों पर 24 जून को प्रखंड स्तर पर धरना देंगे !  जिला अध्यक्ष को निर्देश दिया गया है ! 

राजद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जिसमें हत्या लूट और पानी की समस्या को लेकर तीन महीने का मेमोरेंडम लेकर राज्यपाल को सौपेंगे !  पूर्वे ने कहा कि 2013-14 में ही राज्य सरकार का निर्देश था कि लैब बनाकर रिसर्च किया जाएगा ! भवन बना. लेकिन अब तक लैब नहीं ! वही दूसरी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने  मुजफ्फरपुर का दौरा कर मासूमों की मौत की जानकारी लेने के पश्चात प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. उन्होंने कहा कि एस0के0एम0सी0एच0 जो आई0सी0यू0 बनी हुई है ! यह व्यवस्था पर्याप्त नहीं है ! .यहां पर कम से कम 100 बेड का नया आई0सी0यू0 बनना चाहिए ! 


उन्होंने नया आईसीयू बनाने के लिए सरकार से आग्रह किया है. डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि अगले साल मई जून से पहले आईसीयू तैयार हो जाएगा, क्योंकि अप्रैल मई से इस तरह का केस आने लगते है. यहां पर एक रिसर्च सेंटर की भी जरूरत है. जिससे इस बीमारी पर रिसर्च किया जा सके.

No comments