Breaking News

श्री मंगल पाण्डेय, मंत्री स्वास्थ्य विभाग, बिहार ने किया अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का निरीक्षण*


*श्री मंगल पाण्डेय, मंत्री स्वास्थ्य विभाग, बिहार ने किया अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का निरीक्षण*

गया, 17 जून, 2019,

रिपोर्टः

दिनेश कुमार पंडित

बिहार से.

 बिहार के गया ज़िला में भीषण गर्मी/लू के कारण काफी ज़्यादा संख्या में लोग इसके चपेट में आ रहे हैं एवं कई लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। इसकी जांच एवं मरीजों से उनकी हालत के बारे में विस्तृत जानकारी लेने माननीय मंत्री, स्वास्थ्य विभाग, श्री मंगल पाण्डेय जी ने आज आयुक्त, मगध प्रमंडल श्री पंकज कुमार पाल, जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, सिविल सर्जन श्री राजेन्द्र प्रसाद के साथ निरीक्षण किया। मंत्री महोदय ने सभी मरीजों से बारी बारी उनकी तबीयत के बारे में पूछा एवं अस्पताल में किसी प्रकार की कमी तो नहीं है, इसकी जानकारी ली। चिकित्सकों ने बताया कि अभी तक गया ज़िला में 28 की मृत्यु हुई है एवं 106 मरीज अभी अस्पताल में इलाज करा रहे हैं, जबकि 9 मरीजों की ठीक करके डिस्चार्ज किया गया है। मरीजों से मिलने के क्रम में जानकारी मिली कि ये बुखार ज़्यादातर 55-60 वर्षों के व्यक्तियों को हो रही है एवं दोपहर के समय 1-2 बजे इसका असर दिखता है। मंत्री जी ने संबंधित मरीजों के परिजनों को क्या इस्तेमाल करें क्या ना करें इसकी जानकारी दी एवं उन्हें बताया की आपकी सेवा में अस्पताल प्रशासन एवं ज़िला प्रशासन हर समय तैयार है। मरीजों ने बताया कि यहां इलाज अच्छे ढंग से किया जा रहा है एवं समय समय पर दवाई दी जा रही है। लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है इसके लिए मंत्री महोदय ने जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन को ANMCH में 25 बेड और सदर अस्पताल में 50 बेड बढ़ाने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि *Earth and science Department* भारत सरकार के पास एक ऐसी तकनीक है जिससे आने वाले मौसम की जानकारी मिलती है कि उस मौसम तापमान कितना है, इत्यादि। इस तकनीक कि सुविधा के लिए मंत्री जी भारत सरकार से आग्रह करेंगे की आने वाले मौसम में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होता दिखे तो बिहार राज्य को इसके जानकारी उपलब्ध करायी जाए ताकि हम सब उससे लड़ने के लिए पहले से खुद को तैयार कर सके। ज़िला प्रशासन के स्तर से एक टीम का गठन किया गया है जिसमें अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी और एम०ओ० शामिल किया गया है। वे सभी वैसे परिवार की समीक्षा करेंगे जहां भीषण गर्मी/लू के कारण मृत्यु हुई हो, उन्हें सरकार द्वारा मुआवजा दिया जाना है। अभी तक ज़िला प्रशासन ने कुल 12 मृतक के परिजन को मुआवजा की राशि उपलब्ध कराई है। अंत में मंत्री जी ने अस्पताल के सभी डॉक्टर एवं कर्मियों की छुट्टियां रद्द करने का आदेश दिया।

No comments