Breaking News

जिलाधिकारी ने की नगर निगम के कार्यों की समीक्षा*

*जिलाधिकारी ने की नगर निगम के कार्यों की समीक्षा*

गया, 15 जून, 2019,

रिपोर्टः


दिनेश कुमार पंडित 

बिहार  

 बिहार के जिला गया में जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में बैठक आहूत कि गई। बैठक में जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम प्लास्टिक बैन पर चर्चा किया। उपस्थित समाज सेवक बृजनंदन पाठक ने बताया कि प्लास्टिक का इस्तेमाल अभी भी धड़ल्ले से किया जा रहा है, जिसके कारण शहर में प्रदूषण, गंदगी एवं अन्य प्रकार की समस्याएं लगातार बढ़ रही हैं। ज्यादातर दुंकानों में दुकानदार सामग्री देने के लिए प्लास्टिक का इस्तेमाल कर रहे हैं, साथ ही विक्रेता भी उसे संतुष्टपूर्ण उपयोग कर रहे हैं। जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त नगर निगम को आदेश दिया कि सप्ताह में दो-तीन बार जगह जगह पर रेड करना होगा। रेड के दौरान ठेले वालों को न पकड़कर उसके पीछे जो बड़े व्यापारी हैं, जहां प्लास्टिक का निर्माण किया जा रहा है या जो प्लास्टिक सप्लाई कर रहे हैं उन तक पहुंचना होगा, उन्हें पकड़ना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक के कारण विभिन्न प्रकार की बीमारी होती है, इसे जलाने पर इससे खतरनाक प्रकार के गैस निकलती हैं, जो जानलेवा साबित हो सकता है। ज़िलाधिकारी ने नगर निगम को कहा कि प्लास्टिक एवं कचरा रोड पर न मिले इसके लिए लगातार डोर टू डोर कचरा का उठाओ कराना सुनिश्चित करें एवं सड़कों के किनारे जो डस्टबिन लगी हुई है उनमें जो कचरा फेका जाता है उसका भी उठाओ प्रतिदिन किया जाना आवश्यक है। साथ ही प्लास्टिक का रीसाइक्लिंग करने की जरूरत है। प्रदूषण का प्रमुख कारण कचरा को जलाना भी है। इस पर रोक लगाना होगा। जिलाधिकारी ने उपस्थित पदाधिकारी एवं कर्मियों को निर्देशित किया कि आगामी पितृपक्ष मेला के पहले गया शहर में पूर्ण रूप से प्लास्टिक पर प्रतिबंध हो जाना चाहिए, ताकि पितृपक्ष में आने वाले श्रद्धालु के समक्ष गया जिला की अच्छी तस्वीर बन सके और इसमें हमारा और हमारे समाज की भी भलाई है। 

जिलाधिकारी ने कहा कि शहर के सभी बॉटम नालों की सफाई करने का निर्देश पूर्व में भी दिया था, जो अभी तक पूर्ण नहीं हो सका है। जिलाधिकारी ने 15 दिनों के अंदर गया शहर में जितने भी बॉटम नाले हैं सभी की सफाई करने का निर्देश दिया, साथ ही बताया कि इस बार गया शहर यदि बारिश के मौसम में पानी में डूबा तो संबंधित पदाधिकारी/कर्मी पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी एवं जिलाधिकारी स्वयं इस माह के अंतिम सप्ताह में विभिन्न नालों का निरीक्षण करेंगे। ज़िलाधिकारी ने नालों की सफाई के बाद निकलने वाले कचरा का तुरंत उठाव करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बारिश के समय में विभिन्न जगहों पर पोर्टेबल पंप के इस्तेमाल करना होता है, इसके लिए अभी से ही सभी पंप को चालू अवस्था में रखें, साथ ही वैसे स्थानों को चिन्हित करें जहां पानी काफी जमाव होता है। 

बैठक में नगर आयुक्त, नगर निगम, गया श्री कंचन कपूर, मेयर श्री गणेश पासवान, उप मेयर श्री मोहन श्रीवास्तव, पदाधिकारीगण एवं कर्मी उपस्थित थे।

No comments