Breaking News

बिहार के बोधगया में जिलाधिकारी महोदय ने कालचक्र मैदान में तैयारी का लिया जायजा* गया,06,12,2018 रिपोर्टः दिनेश कुमार पंडित बि

*बिहार के बोधगया में जिलाधिकारी महोदय ने कालचक्र मैदान में तैयारी का लिया जायजा*
गया,06,12,2018
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित

बिहार के अन्तर्राष्ट्रीय ज्ञान भूमि बोधगया में महापावन दलाई लामा के आगमन एवं उनके बोधगया में प्रवास के मद्देनजर वांछित तैयारी एवं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कालचक्र मैदान, तिब्बती धर्मशाला, महाबोधि मंदिर का भ्रमण जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह द्वारा प्रभारी वरीय पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सिंह, बीटीएमसी के सचिव श्री एन दोरजे एवं संबंधित पदाधिकारी के साथ किया गया। कालचक्र मैदान में लगाए गए पंडाल, मुख्य मंच एवं बैरिकेडिंग का अवलोकन किया गया। कालचक्र मैदान का गेट नंबर 2, 3 एवं 4 का भ्रमण किया गया। गेट नंबर 2 एवं गेट नंबर 3 के समीप लगाए गए फुटकर के दुकानों को व्यवस्थित करने के लिए अनुमंडल पदाधिकारी सदर श्री सूरज कुमार सिन्हा को निदेश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा की दुकानों को सड़क किनारे कतार बद्ध लगवाया जाए। उन्होंने कालचक्र मैदान के गेट नंबर 4 के सामने आयोजकों द्वारा बनवाए जा रहे कैंटीन का अवलोकन किया तथा वहां निर्बाध पानी आपूर्ति की व्यवस्था के लिए पानी टंकी लगवाने का निर्देश कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत बोधगया को दिया। गेट नंबर 2, 3 एवं 4 के पास उबर खाबर धरातल को समतल करवाने का निर्देश भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को दिया गया, हालांकि इसका भुगतान आयोजकों द्वारा किया जाएगा। कालचक्र मैदान के धरातल को भी समतल कराने का निर्देश भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को दिया गया तथा नगर पंचायत बोधगया को साफ सफाई कराने का निर्देश दिया। कालचक्र मैदान के अंदर पड़े हुए मिट्टी के ढेर को आयोजकों को हटवाने का निर्देश दिया। गेट नंबर 4 के पास ई-रिक्शा न लगे इसे सुनिश्चित कराने का निर्देश पुलिस उपाधीक्षक बोधगया को दिया गया।
तिब्बती धर्मशाला के अंदर महापावन दलाई लामा को ठहरने एवं आगंतुकों से मिलने के कक्ष का अवलोकन किया गया। सीसीटीवी नियंत्रण कक्ष को हर हाल में 14 दिसंबर तक दुरुस्त कर लेने का निर्देश आयोजकों को दिया गया।
महाबोधि मंदिर के मुख्य द्वार से एक बार प्रवेश करने के उपरांत महाबोधि मंदिर का दर्शन करते हुए मुख्य निकास द्वार से ही श्रद्धालुओं के बाहर निकलने की व्यवस्था सुदृढ़ करने का निर्देश पुलिस उपाधीक्षक बोधगया को दिया गया। उल्लेखनीय है कि मुख्य प्रवेश द्वार के आगे टर्निंग पॉइंट पर जगन्नाथ मंदिर के समीप एक छोटा द्वार है, इस द्वार से भी श्रद्धालु निकलते एवं प्रवेश करते हैं, जिसके कारण सुरक्षा व्यवस्था में चूक होने की संभावना को देखते हुए जिलाधिकारी ने इस द्वार से निकास पर प्रतिबंध लगा दिया है।
निकास द्वार के गेट को आवश्यकतानुसार भीड़ को देखते हुए आधा खोलने एवं पूरा खोलने का निर्देश वहां पर प्रतिनियुक्त गार्ड को दिया गया। महाबोधि मंदिर प्रवेश द्वार के बाहर निकले हुए बिजली के तार को अविलंब कटवाने का निर्देश बिजली विभाग को दिया। बीटीएमसी कार्यालय के बाहर दाहिनी ओर के बैठने के स्थल की घेराबंदी करवाने तथा एक प्रवेश द्वार लगवाने का निर्देश बीटीएमसी को दिया गया ताकि अवांछित व्यक्ति उसमें प्रवेश न करें। भ्रमण के दौरान बिजली विभाग को बिजली के तारों की जांच कराने तथा कार्यक्रम के दौरान निर्बाध रुप से बिजली उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया, नगर पंचायत बोधगया के कार्यपालक पदाधिकारी को साफ सफाई करवाने की व्यवस्था तथा पुलिस उपाधीक्षक बोधगया को ट्रैफिक प्लान एवं सुरक्षा की व्यवस्था की समीक्षा कर लेने का निर्देश दिया। वही जनसंपर्क पदाधिकारी को आवश्यक साइंनेज इंग्लिश, हिंदी एवं तिब्बती भाषा में लगवाने का निर्देश दिया।

No comments