Breaking News

बोधगया के विकास/पर्यटकीय सीज़न को लेकर हुई बैठक

*बोधगया के विकास/पर्यटकीय सीज़न को लेकर हुई बैठक
*
*जिलाधिकारी ने किया स्थल भ्रमण*
गया, 07 नवंबर 2019,
रिपोर्ट
दिनेश कुमार पंडित

बिहार के जिला गया में.ज़िलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में बोधगया बीटीएमसी के सभागार में बोधगया के विकास एवं आगामी पर्यटकीय सीजन को लेकर समीक्षा बैठक की गई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जिस तरह पितृपक्ष मेला के दौरान मेला क्षेत्र से भिखारियों को हटाया गया था, उसी तरह बोधगया के मेला क्षेत्र से भिखारियों को कहीं दूसरे स्थान भेजवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र में एक भी भिखारी नहीं दिखना चाहिए। उन्होंने मुख्य पुजारी एवं बीटीएमसी को निर्देश दिया कि सभी बौद्ध भिक्षु को पहचान पत्र देना सुनिश्चित करें, जिससे सही भिक्षु की पुष्टि किया जा सके। बैठक में उपस्थित होटल एसोसिएशन के सदस्यों ने ज़िलाधिकारी से अनुरोध किया कि बोधगया में ई-रिक्शा का पड़ाव रोड पर कही भी मनमानी रुप से किया जाता है, जिससे जाम की समस्या उत्पन्न होता है। जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी, सदर को बोधगया में ई-रिक्शा पड़ाव स्टैंड के लिए उचित जगह खोजने का निर्देश दिया। उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया कि ई- रिक्शा एसोसिएशन के साथ बैठक कर तिथि निर्धारित करें एवं निर्धारण तिथि के बाद रोड पर ई-रिक्शा पड़ाव नहीं किया जाएगा एवं यात्रियों को ई- रिक्शा में बैठाने के लिए उचित जगह पर ई- रिक्शा रोका जाएगा, जहां से यात्री ई-रिक्शा पर सवार होंगे। उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी, सदर को निर्देश दिया कि सभी ई- रिक्शा पर रेट चार्ट लगवाएं। बैठक में मेला क्षेत्र में घूम रहे आवारा पशुओं के विषय में बताया गया कि जिस तरह नगर निगम द्वारा पशुओं को पकड़ने के लिए एक वाहन चलाया गया था, उसी तरह बोधगया नगर निकाय भी आवारा पशुओं को पकड़कर गौशाला में रखवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने जिला पशुपालन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि बोधगया मठ का निरीक्षण करेंगे। बोधगया मठ में पशुओं को पर्याप्त सुविधा नहीं मिल पा रहा है। बैठक में बोधगया नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी को निर्देश दिया कि बोधगया की मुख्य सड़कों पर लगे दुकानों का अनुज्ञप्ति जांच करेंगे, जिन दुकानों का अनुज्ञप्ति नहीं रहने पर उनकी दुकानों को बंद कराएंगे। उन्होंने रोड की साफ-सफाई, सभी सड़कों पर पर्याप्त रोशनी एवं कचड़ा उठाव लगातार करवाते रहने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बोधगया महत्वपूर्ण चौराहों सड़कों पर लगे सीसीटीवी की जांच कराने को कहा, जो सीसीटीवी बंद पाए जाते हैं उन्हें अविलंब मरम्मत कराकर चालू कराने का निर्देश दिया। उन्होंने सख्त निर्देश दिया उन्होंने कहा कि किसी भी स्थिति में एक भी सीसीटीवी कैमरा बंद नहीं रहना चाहिए। बैठक में उन्होंने उपस्थित होटल एवं रेस्टोरेंट के प्रतिनिधि को निर्देश दिया कि बोधगया में आने वाले टूरिस्ट के लिए पैकेज प्लान तैयार करें। पैकेज प्लान में मेडिटेशन एवं माया सरोवर को भी शामिल करें। इसके उपरांत उन्होंने मेडिटेशन कैसे कराया जाए, मेडिटेशन के लिये ट्रेनर, पर्यटको के लिए मेडिटेशन के समय पर्याप्त सुविधा, पर्याप्त स्थान इत्यादि के विषय पर विस्तृत जानकारी ली गई एवं होटल एसोसिएशन से इस विषय पर विचार विमर्श किया गया। उन्होंने पर्यटको को घुमाने के लिए लोकल गाइड को ड्रेस कोड में रहने का निर्देश दिया। बैठक में वुडको को सुजाता पुल के पास नाला क्षेत्र में 50 से 60 फीट पाइप जोड़कर नाले के पानी को साफ कराने का निर्देश दिया। उन्होंने नगर पंचायत बोधगया को निर्देश दिया कि मेला अवधि में टॉयलेट मेंटेनेंस अतिआवश्यक है। उन्होंने अंचलाधिकारी बोधगया को निर्देश दिया कि दोमुहान से बोधगया तक मेन रोड अतिक्रमण मुक्त रहनी चाहिए। मेला अवधि में मेन रोड के किनारे कोई भी ठेला आदि नहीं लगना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि बोधगया में जितने भी सरकारी जमीन हैं उन सभी का रिपोर्ट अगले 3 दिनों में उपलब्ध कराएं। बैठक में उन्होंने बिजली विभाग को निर्देश दिया कि बोधगया महारानी पेट्रोल टंकी के समीप 15 से 20 बिजली के पोल काफी नीचे है उन सभी बिजली के पोल को ऊंचा कराना सुनिश्चित करें। साथ ही बोधगया में बिजली के प्रोजेक्ट फेज वन को इसी माह तक पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने बिजली विभाग के कनीय अभियंता सुनील कुमार को निर्देश दिया कि डिज्नीलैंड के समीप 1 सप्ताह में अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगवाना सुनिश्चित करें। इसके उपरांत उन्होंने कालचक्र मैदान चिल्ड्रन पार्क नोड वन नोड 2 का स्थल निरीक्षण किया एवं संबंधित पदाधिकारी को कई महत्वपूर्ण निर्देश दिए।
भ्रमण के दौरान जिला वन पदाधिकारी श्री अभिषेक कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी सदर, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, नगर पंचायत बोधगया के कार्यपालक अभियंता, अंचलाधिकारी बोधगया एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

No comments