कानून व्यवस्था बनाये रखनें हेतु चप्पे-चप्पे में रही पुलिस एवं प्रशासन की नजर,जिले में रही शांति व्यवस्था कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक करते रहे सतत मानीटरिंग…* - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 9 November 2019

कानून व्यवस्था बनाये रखनें हेतु चप्पे-चप्पे में रही पुलिस एवं प्रशासन की नजर,जिले में रही शांति व्यवस्था कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक करते रहे सतत मानीटरिंग…*

*कानून व्यवस्था बनाये रखनें हेतु चप्पे-चप्पे में रही पुलिस एवं प्रशासन की नजर,जिले में रही शांति व्यवस्था कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक करते रहे सतत मानीटरिंग…*


भारत न्यूज लाइव 24

सीधी! आयोध्या मामले में माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसले को देखते हुए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन पूरी तरह सतर्क रहा। कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु जिला दण्डाधिकारी द्वारा सभी सेक्टरों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों की संयुक्त तैनातगी की गई थी, जो दिन भर पेट्रोलिंग कर कानून व्यवस्था की मानीटरिंग करते नजर आए। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी रवीन्द्र कुमार चौधरी तथा पुलिस अधीक्षक आर एस बेलवंशी सतत रूप से कानून व्यवस्था की मानीटरिंग करते रहे तथा भ्रमण कर कानून व्यवस्था का जायजा लिया। पूरे जिले में शांति व्यवस्था बनी रही। जिले में स्थिति सामान्य है।
जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा पूर्व से ही तैयारियां शुरू की गई थी। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों द्वारा विभिन्न समुदायों के लोगों के साथ बैठकर जिले में अमन चैन कायम रखने के लिए आपसी सौहार्द एवं भाई चारे का वातावरण बनाये रखने की अपील की गई थी, जिसका लोगों पर व्यापक असर देखने को मिला। इसके साथ ही जिला प्रशासन द्वारा कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु सीधी जिले की राजस्व सीमा में निषेधाज्ञा लागू की गई थी। सोशल मीडिया में बिना जानकारी के समाचारों का आदान प्रदान नही करने, आपसी सौहार्द एवं भाईचारे को ठेस पहुचाने वाले चैटिंग नही करने, लोगों को संयम बरतने आदि के संबंध में सलाह जारी की गई है। साथ ही सोशल मीडिया की मानीटरिंग की व्यवस्था तथा निषेधाज्ञा आदेश भी जारी किए गए थे। लोगों में सुरक्षा का विश्वास बनाने हेतु प्रमुख जगहों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा संयुक्त रूप से फ्लैग मार्च निकाले गये , इसके अतिरिक्त प्रातः काल से प्रमुख जगहो में पुलिस तैनात की गई थी। कार्यपालिक दण्डाधिकारी तथा पुलिस द्वारा प्रातः 6 बजे से ही पेट्रोलिंग करना प्रारंभ कर दिया गया था। सार्वजनिक स्थानां बस स्टैण्ड, धार्मिक स्थानों सहित प्रमुख स्थलों पर भी पुलिस की कड़ी चौकसी देखी गई।
आयोध्या मामले के फैसले को देखते हुए शिक्षण संस्थानों स्कूल एवं महाविद्यालयों में प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार अवकाश घोषित किया गया था। सामान्य दिनों की तरह आज भी जन जीवन सामान्य रहा। लोग आसानी से अपने काम काज के लिए रोजाना की तरह निकले। सभी समाज के लोगों ने आयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय का सम्मान करने तथा लोगों से आपसी भाई चारा बनाये रखने की अपील की है।

Home  आपका शहर  सीधी
आपका शहरसीधी
कानून व्यवस्था बनाये रखनें हेतु चप्पे-चप्पे में रही पुलिस एवं प्रशासन की नजर,जिले में रही शांति व्यवस्था कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक करते रहे सतत मानीटरिंग…
By राजु गुप्ता - 9th November 201972

 लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

 
 🔊 Listen to this

राजु गुप्ता
सीधी 09 नवम्बर 2019
आयोध्या मामले में माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसले को देखते हुए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन पूरी तरह सतर्क रहा। कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु जिला दण्डाधिकारी द्वारा सभी सेक्टरों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों की संयुक्त तैनातगी की गई थी, जो दिन भर पेट्रोलिंग कर कानून व्यवस्था की मानीटरिंग करते नजर आए। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी रवीन्द्र कुमार चौधरी तथा पुलिस अधीक्षक आर एस बेलवंशी सतत रूप से कानून व्यवस्था की मानीटरिंग करते रहे तथा भ्रमण कर कानून व्यवस्था का जायजा लिया। पूरे जिले में शांति व्यवस्था बनी रही। जिले में स्थिति सामान्य है।



जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा पूर्व से ही तैयारियां शुरू की गई थी। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों द्वारा विभिन्न समुदायों के लोगों के साथ बैठकर जिले में अमन चैन कायम रखने के लिए आपसी सौहार्द एवं भाई चारे का वातावरण बनाये रखने की अपील की गई थी, जिसका लोगों पर व्यापक असर देखने को मिला। इसके साथ ही जिला प्रशासन द्वारा कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु सीधी जिले की राजस्व सीमा में निषेधाज्ञा लागू की गई थी। सोशल मीडिया में बिना जानकारी के समाचारों का आदान प्रदान नही करने, आपसी सौहार्द एवं भाईचारे को ठेस पहुचाने वाले चैटिंग नही करने, लोगों को संयम बरतने आदि के संबंध में सलाह जारी की गई है। साथ ही सोशल मीडिया की मानीटरिंग की व्यवस्था तथा निषेधाज्ञा आदेश भी जारी किए गए थे। लोगों में सुरक्षा का विश्वास बनाने हेतु प्रमुख जगहों में कार्यपालिक दण्डाधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा संयुक्त रूप से फ्लैग मार्च निकाले गये , इसके अतिरिक्त प्रातः काल से प्रमुख जगहो में पुलिस तैनात की गई थी। कार्यपालिक दण्डाधिकारी तथा पुलिस द्वारा प्रातः 6 बजे से ही पेट्रोलिंग करना प्रारंभ कर दिया गया था। सार्वजनिक स्थानां बस स्टैण्ड, धार्मिक स्थानों सहित प्रमुख स्थलों पर भी पुलिस की कड़ी चौकसी देखी गई।




 
आयोध्या मामले के फैसले को देखते हुए शिक्षण संस्थानों स्कूल एवं महाविद्यालयों में प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार अवकाश घोषित किया गया था। सामान्य दिनों की तरह आज भी जन जीवन सामान्य रहा। लोग आसानी से अपने काम काज के लिए रोजाना की तरह निकले। सभी समाज के लोगों ने आयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय का सम्मान करने तथा लोगों से आपसी भाई चारा बनाये रखने की अपील की है।

कलेक्टर श्री चौधरी ने की शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील

कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी ने लोगों से शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की है। उन्होने कहा कि सीधी जिले का इतिहास गौरवपूर्ण रहा है। जिलावासी सदैव आपसी भाई चारे के साथ रहते है । इस परंपरा को हमें हर स्थिति में बनाये रखना चाहिए। सभी लोग एक दूसरे की मदद करें तथा दूसरों को आघात या ठेस पहुचाने वाली बातें नही करें । सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में या किसी अन्य ग्रुप में कोई ऐसी न्यूज, खबर, संदेश, फॉरवर्ड संदेश या सचित्र संदेश को फॉरवर्ड न करे जिसके सत्यता के बारे में आप शत-प्रतिशत सुनिश्चित न हो। खास कर धार्मिक, राजनीतिक, सामाजिक तरह के घृणा या नफरत फैलाने वाले संदेशों का आप सब भी खुल के विरोध करें और अपने आस पास के लोगों को भी ऐसा करने से रोके। जिले/थाना या बाहर की कोई भी खबर को बिना सत्यता जांच और पुलिस की पुष्टि के संभावना के आधार पर ग्रुप में न चलाएं। जिले में शांति व्यवस्था बनाये रखने में आप सभी का सहयोग अपेक्षित है।

*संबाददाता राजीव तिवारी(राजू) भारत न्यूज़ लाइव 24 हर खबर आप तक सीधी*

No comments:

Post a Comment