बिहार में जलजमाव की अनियमितता की हो सीबीआई जांच:- माझी - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Friday, 11 October 2019

बिहार में जलजमाव की अनियमितता की हो सीबीआई जांच:- माझी

बिहार में जलजमाव की अनियमितता की हो सीबीआई जांच:- माझी
          पटना 11 अक्टूबर 2019 
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पंडित
बिहार से 
        बिहार के राजधानी पटना में हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से०) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी ने नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा का वक्तव्य के अनुसार 3 सदस्य समिति का गठन किया गया है, जिसमें नगर विकास सचिव नगर निगम अध्यक्ष एवं गुड को का प्रबंध निदेशक सदस्य होंगे ।3 सदस्य समिति का गठन किया गया नगर सचिव, नगर निगम के आयुक्त के अलावे बुडको के प्रबंध निदेशक सदस्य होंगे ।
‌       मांझी ने कहा कि प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से नगर विकास मंत्री श्री सुरेश शर्मा के द्वारा सूचना दी गई थी की पटना का जल संकट नगर निगम एवं बुडको के आपसी तालमेल के अभाव के कारण था।
‌       मांझी ने कहा कि यदि माननीय मंत्री का ऊपर अंकित कथन को देखा जाए, तब फिर जिस पर स्पष्ट जवाबदेही तय होने की बात कही गई थी, उन्हीं को या उसी विभाग को जांच का जिम्मा कैसे दिया जा सकता है ?
         मांझी ने कहा कि इससे स्पष्ट दिखता है कि पटना में गत दिनों का जल प्लावन की घटना को रफा-दफा करने की साजिश की गई है।
      मांझी ने कहा की फिर एक दिलचस्प बात यह है कि माननीय उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने यह कह कर चौंका दिया कि कोई किसी प्रकार की जांच कमेटी नहीं बनी है।
         मांझी ने कहा कि इस तरह से प्रलक्षित होता है कि सरकार एवं विभाग में सामंजस्य की कमी है जिसका खामियाजा पटना के निवासियों को भोगना पड़ रहा है। इससे यह भी स्पष्ट होता है कि सरकार दोषियों को  बचाने के फिराक में है एवं पटना में महामारी का खतरा से सरकार बेखबर है ।
      मांझी ने कहा कि आज भी जलजमाव क्षेत्र के अधिकांश परिवारों को डेंगू का दंश ने उनके परिवार की चिंता बढ़ा दी है। जिससे काफी लोग परेशान हैं। सरकार के द्वारा इस समस्या को लेकर युद्ध स्तर पर जो मदद मिलनी चाहिए थी वैसा नहीं हो रहा । यह भी हमारे लिए काफी दुखद और चिंता का विषय है। पटना में हुए जलजमाव के लिए विभाग दोषी है ।
       मांझी ने कहा कि अपेक्षा है कि मुख्यमंत्री इसे गंभीरता से लेकर पटना को जल संकट की घटना को सीबीआई से जांच कराने हेतु अनुशंसा करे।

No comments:

Post a Comment