Breaking News

चल कांवरिया मनकामेश्वर धाम शिव भक्तों की अपार भीड़ से नही पहुँच पाए परगनाधिकारी बारा बैरंग लौटे तहसील

👉🏻 *चल कांवरिया मनकामेश्वर धाम शिव भक्तों की अपार भीड़ से नही पहुँच पाए परगनाधिकारी बारा बैरंग लौटे तहसील
*

*डी जे के धुन पर कावड़ लेके शिव भक्त पहुँचे मनकामेश्वर धाम,हस मत पगली कावड़ गिर जाएगी*

*हर खबर आप तक* 
*भारत न्यूज लाइव*
           *24*
*पी सी पाण्डेय की*
        *रिपोर्ट*

💫लालापुर( प्रयागराज) मनकामेश्वर महादेव धाम मन्दिर में जलाभिषेक करने के लिए नागपंचमी और श्रावण महीने का तीसरा सोमवार दोनों का एक साथ हो जाने से जलाभिषेक के लिए शिव भक्तों का रात से आने का तांता लगा हुआ है जलाभिषेक करने के लिए ,कोई भक्त टोली के साथ तो कोई भक्त डीजे के साथ भक्ति के गाने के धुन पर नाचते गाते हुए पूरी रात अपनी कावड़ लेकर यात्रा करते हुए जलाभिषेक के लिए मन्दिर पहुँचते है, यहाँ तक भक्त अपनी मोटर साइकिल में पूरा साउंड बॉक्स बाँधकर शिव भक्ति के गाना बजाते हुए, *मां पतित पावनी संगम से गंगा  जल*अपने अपने कावड़ में भरकर शिव भक्त टोली के साथ डीजे की धुन पर नाचते गाते किसी भक्त के डीजे में हस मत पगली कावड़ गिर जाएगी तो किसी ने चल चल रे कांवरिया* *शिव के धाम 40 किलो मीटर की यात्रा करते हुए पहुँचते हैं मनकामेश्वर* धाम लालापुर,वहाँ का मनमोहक हिमालय रूपी   गुफा में नाग पत्थर के नीचे धूनी रमाये नील कंठ धारी देवो के देव महादेव शिव लिंग के रूप में बिराज मान हैं,पौराणिक कथाओं में *लालापुर मनकामेश्वर धाम में भगवान राम बनबास जाते समय मनकामेश्वर महादेव का पूजन करके आगे चित्रकूट के लिए प्रस्थान किये थे ,आज का दिन सोमवार और नागपंचमी एक साथ होने के कारण भोर तीन बजे से ही शिव भक्त कावड़ लेके आना सुरु हो गए थे* ,ए सिलसिला लगभग 11बजे तक चला, उसके बाद शिव भक्तों की अपार भीड़ लालापुर अमिलिया रोड नहर से लेकर मन्दिर मुख्य द्वार तक दो किलोमीटर तक भक्तों की लाइन लगी रही,मन्दिर की जायजा लेने के लिए दोपहर *परगनाधिकारी बारा इन्द्रभान तिवारी भीड़ के आगे नही जा पाए वापस बैरंग उनको लौटना पड़ा*,दोपहर दो बजे तक राजस्व टीम के द्वारा आकलन आंकड़ा एक लाख से ज्यादा भक्त मन्दिर में भोले नाथ का दर्शन कर चुके थे,थानाध्यक्ष लालापुर शन्तोष कुमार अपनी पुलिस बल टीम के साथ स्वम मन्दिर की प्रथम सीढ़ी से लेकर शिव लिंग गुफा तक बड़े मुस्तैदी से दिखाई पड़े,सभी भक्तों को मुख्य द्वार पर उप निरीक्षक उमेश खरवार, अपनी टीम के साथ मन्दिर में दर्शन करने के लिए पुरुष वर्ग के तरफ उप निरीक्षक उमेश यादव अपने सहयोगी कांस्टेबल के साथ डटे रहे, महिलाओं को दर्शन कराने के लिए महिला कांस्टेबल रूबी पटेल बारी बारी से सभी को दर्शन कराती रही,उच्च अधिकारी के आदेश से जो भी बाहर की पुलिस एवम पी ए सी बल आई हुई थी,मन्दिर डियूटी के लिए उतनी सक्रिय नही दिखाई पड़ी ,नहर रास्ता से लेकर मन्दिर तक लालापुर के सक्रिय उपनिरीक्षक और कांस्टेबल ही दिखाई पड़े,पी ए सी के जवान डेढ़ सेक्सन और नजदीकी थाना से आए हुए पुलिस बल अगर थाना लालापुर की तरह इस मेला में सक्रिय रहते तो शायद परगनाधिकारी बारा को वापस न लौटना पड़ता,मेला में *जायजा लेने के लिए सुबह से क्षेत्राधिकारी बारा सही राम आर्य खण्ड बिकास अधिकारी शंकरगढ़/जसरा देवेन्द्र कुमार ओझा,अपने टीम के साथ मौजूद रहे,*
तहसील बारा की राजस्व टीम से आर आई तेज नारायण शुक्ला, लेखपाल शन्तोष कुमार मिश्रा, लेखपाल राम शिरोमणि मिश्रा, उपस्थित रहे , *आपको बताते चले कि स्वास्थ्य विभाग का एक भी डॉक्टर नही दिखाई पड़ा न ही उनकी एम्बुलेंस सब भक्त भोले नाथ के सहारे पर रहे,अगर किसी भी कर्मचारी व यात्री के साथ घटना व दुर्घटना हो जाती तो उसका उपचार कहा होता, बहुत बड़ी लापरवाही सामने आई ब्लाक शंकरगढ़ समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की,फारमिस्ट से लेकर डॉक्टर तक नदारद दिखाई पड़े।*

*✍ पी सी पाण्डेय*

Editor prajapati

No comments