Breaking News

एक जले हुए विक्षिप्त को मरने के लिए बेसमेंट में फेंक दिया

✍ *रीवा बड़ी खबर*✍

*एसजीएमएच के डॉक्टर और प्रबंधन का अमानवीय चेहरा,*

 *एक जले हुए विक्षिप्त को मरने के लिए बेसमेंट में फेंक दिया
*




*भारत न्यूज लाइव 24 हर खबर आप तक जिला रीवा ब्यूरो चीफ विनोद कुमार पाठक*



संजय गांधी अस्पताल में कुछ दिन पहले युवाओं ने एक विक्षिप्त व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया था। विक्षिप्त युवक बुरी तरह से जला हुआ है। इसका इलाज तो किया गया, लेकिन बाद में उसे जानवरों की तरह अस्पताल के बेसमेंट में मरने के लिए फेंक दिया है। अस्पताल प्रबंधन और यहां काम करने वालों लोगों की आत्मा मर गई है। सभी उसे तड़पता हुआ हर समय देखते हैं। पास से ही गुजर जाते हैं, लेकिन उसके मुंह में पानी तक डालने नहीं जाते। आज अस्पताल जाने का मौका मिला तो उसकी हालत देख कर अंदर से ग्लानि से भर गया। चाह कर भी मैं इंसान होने का फर्ज नहीं निभा पाया। हम जानवर से भी बुरे हैं। करोड़ों का अस्पताल सरकार ने गरीबों और असहायों के लिए बनाया है, लेकिन प्रबंधन ने इलाज करने की जगह उसे मरने के लिए मर्च्युरी के पास ही फेंक दिया। विक्षिप्त युवक बुरी तरह से पीड़ित है। उसके शरीर से बदबू आ रही है। विक्षिप्त युवक बोलने में लाचार है। ऐसे में उसके भूख और प्यास की परवाह करने वाला भी कोई नहीं है। वह तड़प तड़प कर मर रहा है। प्रशासन यदि उसका इलाज नहीं करा सकता तो मौत दे तो दे ही सकता है। मैं आपकों बता दूं कि उस पीड़ित विक्षिप्त युवक को  अस्पताल के बेसमेंट में उप अधीक्षक के निर्देश पर ही मरने के लिए फेंका गया है।

No comments