Breaking News

उत्कृष्ट कार्यों के लिए मधेपुरा के एसपी सहित जिले के नौ पुलिस पदाधिकारी को डीजीपी करेंगे सम्मानित

उत्कृष्ट कार्यों के लिए मधेपुरा के एसपी सहित जिले के नौ पुलिस पदाधिकारी को डीजीपी करेंगे सम्मानित

हर खबर आप तक 

भारत न्यूज़ लाइव 24

रिपोर्टर आमिर आजाद 
 
मधेपुरा जिले में घटना का त्वरित उद्भेदन करने मामले मे एसपी संजय कुमार  सहित नौ  पुलिस पदाधिकारी और कमांडो व पुलिस बल को रविवार को डीजीपी विशेष  सम्मन से सम्मानित करेगे । सम्मानित  होने वाले पुलिस पदाधिकारी पटना कूच कर चुके हैं  ।

मालूम हो कि सदर थाना क्षेत्र में पिछड़ा आयोग के अध्यक्ष, पूर्व मुख्य मंत्री स्व॰वी ॰पी मंडल के पुत्र व  पूर्व विधायक मनीन्द्र कुमार मंडल के एक घर हुए भीषण चोरी हुई थी जिसमे चोर लाखों के जेवरात ले गये थे. मामला काफी हाई प्रोफाइल होने के कारण स्वयं एसपी ने घटना स्थल का मुआयना किया । चोरी के छह  घंटे के अन्दर सदर  थानाध्यक्ष, पुलिस पदाधिकारी, कमांडो ,पुलिस वल ने शहर के भीतरी मुहल्ला मे छापामारी कर चोरी के जेवरात सहित आघा दर्जन महिला- पुरूष चोर को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार चोर में आज की तारीख में चार महिला और एक पुरूष जेल में है ।

दूसरी घटना शहर के कॉलेज चौक की है जहाँ अज्ञात बदमाश ने एक युवक  का अपहरण  कर लिया था. घटना की जांच  मे पुलिस  को पता चला कि अपराधी अपहृत  युवक को गोपालगंज लेकर चले गए और  घटना को अंजाम देने में गोपालगंज  के अपराधी सहित  स्थानीय बदमाश भी शामिल हैं.  बदमाश अपहृत  युवक के घर फोन  कर पांच लाख की फिरौती मांगी. इसी आधार पर पुलिस  गोपालगंज फिरौती की कथित रकम लेकर अपहृत के घर वाले बनकर बदमाश के पास पंहुची । बदमाश ने अपहृत के घर वाले को दमकी दे रखा था कि पुलिस को सूचना या साथ लाओगे तो अपहृत की हत्या कर देगे । बदमाश ने फिरौती की रकम लेने फिल्मी स्टाइल में इंतजाम किया ।  बदमाश बार-बार फिरौती  की रकम  लेने के लिए स्थान बदलते रहे. आखिरकार पुलिस  ने गोपालगंज से तीन बदमाश को गिरफ्तार  कर उनके निशानदेही अपहृत और  दो और बदमाश को कब्जे में कर लिया  ।दोनो मामले में पुलिस को त्वरित कार्रवाई  कर एक बड़ी सफलता मिली थी । इसी मामले मे डीजीपी ने घटना मे शामिल पुलिस पदाधिकारी को सम्मानित करने की बात कही है।

सम्मानित होने वालों में एसपी संजय कुमार, तत्कालीन  थानाध्यक्ष मनोज महतो, सब  इंस्पेक्टर वर्तमान मे सिंहेश्वर के थानाध्यक्ष  महेश रजक , सअनि अरूण कुमार सिंह, कमांडो विपिन कुमार, टेक्नीकल सेल के सिपाही अमर कुमार, अभिषेक कुमार, सोनू कुमार व धीरेन्द्र कुमार  शामिल हैं  । इस  मौके पर डीजीपी ने मुख्य रूप से एसपी  को मौजूद रहने का निर्देश दिया है।

एसपी  ने कहा कि दोनों मामले पुलिस  के लिए चुनौती  थी, लेकिन  कम समय में दोनों मामले का उद्भेदन किया और अपराधियों को सलाखों के पीछे भेज दिया  गया । पूरी पुलिस टीम की कड़ी मेहनत रंग लाई वह प्रशंसनीय है।

No comments