बिहार में मोहनपुर के लांगुराकला में आयोजित हुआ शिविर - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 31 August 2019

बिहार में मोहनपुर के लांगुराकला में आयोजित हुआ शिविर

*बिहार में मोहनपुर के लांगुराकला में आयोजित हुआ शिविर
*
*आजादी के बाद पहली बार किसी जिलाधिकारी ने लांगुराकला में कदम रखा*
गया, 31 अगस्त 2019, 
रिपोर्टः दिनेश कुमार पंडित
बिहार से
बिहार के जिला गया में योजना एवं विकास विभाग बिहार सरकार एवं केंद्र सरकार द्वारा संचालित विशेष केंद्रीय सहायता योजना के अंतर्गत जिले के सुदूरवर्ती मोहनपुर प्रखंड के केवला पंचायत के लंगुराकला ग्राम में मेगा प्रशासनिक सह स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया। इस मेगा कैंप में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के लगभग सभी विभागों ने अपने-अपने स्टॉल लगाया तथा हजारों आवेदन पर ऑन द स्पॉट कार्रवाई की गई। जिसमें मनरेगा के 20, सामाजिक सुरक्षा के 160, बाल विकास परियोजना के 8, सीआरपीएफ 159 वीं बटालियन मेडिसिन पंजीकरण काउंटर के 115, आपूर्ति विभाग के 400, आरटीपीएस काउंटर के 318, आधार कार्ड के 22, लोक शिकायत निवारण अधिनियम के 15, शराबबंदी, बाल विवाह, दहेज प्रथा के 105, शिक्षा विभाग के 11, कृषि विभाग 15, बागवानी विभाग 8, आत्मा 125, गव्य विकास विभाग 15, पशुपालन विभाग 125, मत्स्य पालन विभाग 100, विद्युत विभाग 10, आर्थिक हल युवाओं को बल 95, युवाओं को रोजगार हेतु काउंसलिंग की व्यवस्था एवं रोजगार मेला 85, श्रम संसाधन विभाग 300, ओडीएफ 10, सहकारिता विभाग 2, अंचल कार्यालय मोहनपुर काउंटर 8, प्रखंड कार्यालय मोहनपुर का काउंटर 38 एवं गैस कनेक्शन के 10 मामले का निष्पादन *ऑन द स्पॉट* किया गया। इसके अतिरिक्त अन्य विभागों द्वारा भी सैकड़ों आवेदनों का निष्पादन ऑन द स्पॉट किया गया। इस कैंप में लगभग 4000 लोगों ने भाग लिया। इस अवसर पर सर्वप्रथम जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह को अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी ने पुष्पगुच्छ देकर उनका हार्दिक अभिनंदन किया गया। उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी को प्रखंड विकास पदाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुरुष गुच्छ प्रदान किया गया, नगर पुलिस अधीक्षक को प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा पुष्प गुच्छ प्रदान किया गया, एएसपी अभियान, एसएसबी के असिस्टेंट कमांडेंट को अंचलाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान किया गया। बाराचट्टी के माननीय विधायक श्रीमती समता देवी को बाल विकास परियोजना पदाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान कर उनका हार्दिक स्वागत किया गया। इस अवसर पर कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के छात्राओं ने स्वागत गान गाया।
कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी, एएसपी अभियान द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर आपदा के तहत वज्रपात से मृतक के आश्रित परिजन श्रीमती रिंकू देवी को चार लाख रुपया का चेक जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के कर कमलों द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर कुशल युवा कार्यक्रम के तहत नाजिया परवीन, चिंकी कुमारी, रोहित कुमार एवं धीरज कुमार को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के द्वारा सर्टिफिकेट प्रदान किया गया। उज्ज्वला योजना गैस कनेक्शन के तहत गीता देवी, शोभा देवी, संजू देवी, रेखा देवी को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, माननीय विधायक श्रीमती समता देवी एवं उप विकास आयुक्त द्वारा गैस चूल्हा प्रदान किया गया। बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत कपिल रंजन को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह द्वारा स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड प्रदान किया गया। प्रखंड आपूर्ति कार्यालय मोहनपुर द्वारा श्रीमती दौलती देवी, सोनवा देवी, लीला देवी, बेबी देवी, कैली देवी एवं राधा देवी को राशन कार्ड प्रदान किया गया। आयुष्मान भारत योजना के तहत संजू कुमारी, नेहा कुमारी, रेखा कुमारी, विभा देवी, सोनी देवी, अमित कुमार, विकास कुमार, जोगिंदर कुमार को जिलाधिकारी द्वारा गोल्डन कार्ड प्रदान किया गया। इसके उपरांत कस्तूरबा गांधी विद्यालय के छात्राओं को स्वच्छता किट प्रदान किया गया।
इस अवसर पर स्वागत भाषण अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी द्वारा किया गया। *अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी ने बताया कि आजादी के बाद आज पहली बार किसी जिलाधिकारी ने इस पंचायत में कदम रखा है।*
उन्होंने कहा कि आपका प्रशासन आपका द्वार कार्यक्रम शेरघाटी अनुमंडल के अंतर्गत यह 9वां कैंप है। यह जिन जिन प्रखंडों में कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं और वहा आम जनों के द्वारा योजनाओं से संबंधित लाभ उठाए गए हैं। यहां पर 40 काउंटर लगाए गए हैं। जिसमें विभाग से संबंधित योजनाओं की जानकारी आप प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि सरकार द्वारा जो भी योजनाएं चलाई जा रही है उसके बारे में जानकारी लें एवं उसका भरपूर लाभ उठाएं। देश के विकास में अपनी भूमिका अवश्य निभाएं।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह ने कहा कि आपका प्रशासन आपका द्वार पिछले 1 साल से सुदूरवर्ती नक्सल क्षेत्रों के पंचायत में कैंप का आयोजन कराया जा रहा है। भारत सरकार एवं माननीय मुख्यमंत्री जी का यह संकल्प है कि अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों को सरकार की मुख्य धाराओं से जोड़ना है। इसलिए इन सुदूरवर्ती इलाको में कैंप का आयोजन कर मुख्यधारा में जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं के लिए महिलाओं, बालिकाओं एवं माताओं के लिए जो योजनाएं चलाई गई है वह योजनाएं पूरे देश में बहुत कम ही प्रदेशों में है। खासकर कन्या उत्थान योजना का मामला हो या मुख्यमंत्री सात निश्चय का हो। सात निश्चय अभी भी गुजरात जैसे विकसित प्रदेश में अभी भी हर घर मे हर घर नल का जल नहीं दे पाई है वहां की सरकार और बिहार में 4 साल पूर्व ही इसे लिया गया है और हर घर तक पहुंचाया जा रहा है। इसमें भी हमारे महादलित और दलित बस्तियों को प्राथमिकता दी गयी है, क्योंकि ये वो लोग हैं जो हमारे समाज में समय के साथ पिछड़ गए हैं और सरकार कि यह प्राथमिकता है कि इनको आगे ले करके आएंगे। इसलिए हर दलित, महादलित, अल्पसंख्यक, पिछड़ा, अति पिछड़ा व्यक्ति की आवाज उतनी ही महत्वपूर्ण है जितना किसीअन्य की। और इसी वजह से विभिन्न योजनाओं में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं का क्रियान्वयन भी आपके बीच आपके द्वारा चुने गए जनप्रतिनिधियों के द्वारा ही किया जाता है। उन्होंने कहा कि अभी भी कई सारे प्रदेश में अब तक हर घर तक बिजली नहीं पहुंची है। उन्होंने कहा कि कुछ वक्ताओं द्वारा बताया गया कि इस पंचायत में बिजली की आपूर्ति कम होती है। उन्होंने कहा कि आज हमारे प्रदेश में स्कूलों में स्मार्ट क्लास होने की बात कही जा रही है। और अगर बिजली नहीं होता तो स्मार्ट क्लास आज संभव नहीं होता। उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति अपना उद्यम चलाना चाहता है उनको उधम के लिए भी सरकार ने 10 लाख रुपए तक का ऋण दे रहा है। जिसमें 50% का अनुदान भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार के माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि 1 अप्रैल 2020 से हर पंचायत में एक उच्च विद्यालय होगा। उन्होंने कहा कि बिजली और सड़क के बाद सबसे बड़ा परिवर्तन सभी पंचायतों में उच्च विद्यालय का निर्माण कराना होगा और उस इलाके के सभी बच्चे एवं बच्चियों को अपने ही पंचायत में उच्च विद्यालय से शिक्षा ग्रहण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारे सारे जनप्रतिनिधियों एवं नागरिकों का कर्तव्य बनता है कि हर एक योजनाओं को गांव तक और अपने गांव के हर एक व्यक्ति तक पहुंचाएं और इसी कारण से आज पूरा प्रशासन आप लोगों के बीच पहुंचा है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य के लिए हम बहुत परेशान रहते हैं। कई ऐसे गरीब परिवार हैं जिनका 1 महीने का जो आय हैं उसमें से 50 से 60% बीमारी के इलाज में खपत हो जाता है और कभी कभी कर्ज ले करके भी इलाज कराना पड़ता है। परंतु वे सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का इलाज करवा सकते हैं। उन्होंने उपस्थित लोगों को शौचालय बनाने के लिए प्रेरित किया। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में जो लोग छतविहीन है उन सभी को 2022 तक सभी परिवारों को छत दिया जाएगा। उन्होंने उपस्थित ग्रामीणों से अनुरोध किया कि अपने बच्चों को पढ़ाएं, उनके स्वास्थ्य पर ध्यान रखें और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं तथा आसपास के लोगों को प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि आपकी समस्या को सुनने के लिए बिहार सरकार द्वारा लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम लागू किया गया है जहां आपकी समस्याओं को सक्षम पदाधिकारी द्वारा सुना जाएगा और अपेक्षित कार्रवाई किया जाएगा। उन्होंने जल, जीवन, हरियाली योजना के तहत आहर, पाइन, कुएं का जीर्णोद्धार करने को कहा एवं पेड़ पौधों को संरक्षित रखने का अनुरोध किया।
इसके उपरांत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रखंड प्रमुख श्री अजय कुमार अकेला ने कहा कि सरकार की योजनाएं आपका प्रशासन आपके द्वार के माध्यम से हर घर तक पहुंच रहा है। पहले लोग किसी शिकायत को लेकर जिला मुख्यालय में जाया करते थे। परंतु आज पूरा प्रशासन पंचायत में आया हुआ है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्थानीय मुखिया जी ने जिला पदाधिकारी से अनुरोध किया कि यहां एक हाई स्कूल का निर्माण कराया जाए।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एएसपी अभियान ने कहा कि यहां जितने भी काउंटर लगाए गए हैं। वह सभी आप लोगों से जुड़े हुए हैं। इसलिए आप सब लोग संबंधित काउंटर पर जाकर अपनी समस्याओं का निराकरण कराएं। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी ने कहा कि गया जिले के अंतर्गत 121 पंचायत को नक्सल प्रभावित पंचायतों में क्रमांकित किया है। और जिलाधिकारी का प्रयास है कि उन सभी 121 पंचायतों में जाकर कैंप का आयोजन करें। उन्होंने उपस्थित लोगों से अनुरोध किया कि अपने-अपने घरों में शौचालय का निर्माण अवश्य रूप से करें। आवास योजना के लिए बिचौलियों के चुंगुल में न फंसे। उन्होंने सात निश्चय योजना के तहत सभी मुखिया को निर्देश दिया कि अपने-अपने क्षेत्र में हर गली नली के अंतिम पॉइंट पर सॉकपिट का निर्माण कराएं। जिससे पानी संचय किया जा सके। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय विधायक श्रीमती समता देवी ने कहा कि यहां बिजली की समस्या है, यहां महिला कॉलेज निर्माण कराया जाय। इस क्षेत्र में पानी की समस्या काफी ज्यादा है यहां पानी का लेयर काफी नीचे है। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नगर पुलिस अधीक्षक श्री मंजीत कुमार ने कहा कि पुलिस प्रशासन आपके द्वार आया है। अगर कोई पुलिस से संबंधित शिकायत है तो आप हमें कहें। उन्होंने कहा कि हमारा नंबर थाने से, प्रखंड विकास पदाधिकारी से प्राप्त कर सकते हैं। आप किसी समय भी हमसे संपर्क कर सकते हैं।
उप निदेशक, जन सम्पर्क,
मगध प्रमंडल, गया।
गया, 31 अगस्त 2019, योजना एवं विकास विभाग बिहार सरकार एवं केंद्र सरकार द्वारा संचालित विशेष केंद्रीय सहायता योजना के अंतर्गत जिले के सुदूरवर्ती मोहनपुर प्रखंड के केवला पंचायत के लंगुराकला ग्राम में मेगा प्रशासनिक सह स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया। इस मेगा कैंप में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के लगभग सभी विभागों ने अपने-अपने स्टॉल लगाया तथा हजारों आवेदन पर ऑन द स्पॉट कार्रवाई की गई। जिसमें मनरेगा के 20, सामाजिक सुरक्षा के 160, बाल विकास परियोजना के 8, सीआरपीएफ 159 वीं बटालियन मेडिसिन पंजीकरण काउंटर के 115, आपूर्ति विभाग के 400, आरटीपीएस काउंटर के 318, आधार कार्ड के 22, लोक शिकायत निवारण अधिनियम के 15, शराबबंदी, बाल विवाह, दहेज प्रथा के 105, शिक्षा विभाग के 11, कृषि विभाग 15, बागवानी विभाग 8, आत्मा 125, गव्य विकास विभाग 15, पशुपालन विभाग 125, मत्स्य पालन विभाग 100, विद्युत विभाग 10, आर्थिक हल युवाओं को बल 95, युवाओं को रोजगार हेतु काउंसलिंग की व्यवस्था एवं रोजगार मेला 85, श्रम संसाधन विभाग 300, ओडीएफ 10, सहकारिता विभाग 2, अंचल कार्यालय मोहनपुर काउंटर 8, प्रखंड कार्यालय मोहनपुर का काउंटर 38 एवं गैस कनेक्शन के 10 मामले का निष्पादन *ऑन द स्पॉट* किया गया। इसके अतिरिक्त अन्य विभागों द्वारा भी सैकड़ों आवेदनों का निष्पादन ऑन द स्पॉट किया गया। इस कैंप में लगभग 4000 लोगों ने भाग लिया। इस अवसर पर सर्वप्रथम जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह को अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी ने पुष्पगुच्छ देकर उनका हार्दिक अभिनंदन किया गया। उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी को प्रखंड विकास पदाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुरुष गुच्छ प्रदान किया गया, नगर पुलिस अधीक्षक को प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा पुष्प गुच्छ प्रदान किया गया, एएसपी अभियान, एसएसबी के असिस्टेंट कमांडेंट को अंचलाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान किया गया। बाराचट्टी के माननीय विधायक श्रीमती समता देवी को बाल विकास परियोजना पदाधिकारी मोहनपुर द्वारा पुष्पगुच्छ प्रदान कर उनका हार्दिक स्वागत किया गया। इस अवसर पर कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के छात्राओं ने स्वागत गान गाया।
कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी, एएसपी अभियान द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर आपदा के तहत वज्रपात से मृतक के आश्रित परिजन श्रीमती रिंकू देवी को चार लाख रुपया का चेक जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के कर कमलों द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर कुशल युवा कार्यक्रम के तहत नाजिया परवीन, चिंकी कुमारी, रोहित कुमार एवं धीरज कुमार को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह के द्वारा सर्टिफिकेट प्रदान किया गया। उज्ज्वला योजना गैस कनेक्शन के तहत गीता देवी, शोभा देवी, संजू देवी, रेखा देवी को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह, माननीय विधायक श्रीमती समता देवी एवं उप विकास आयुक्त द्वारा गैस चूल्हा प्रदान किया गया। बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत कपिल रंजन को जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह द्वारा स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड प्रदान किया गया। प्रखंड आपूर्ति कार्यालय मोहनपुर द्वारा श्रीमती दौलती देवी, सोनवा देवी, लीला देवी, बेबी देवी, कैली देवी एवं राधा देवी को राशन कार्ड प्रदान किया गया। आयुष्मान भारत योजना के तहत संजू कुमारी, नेहा कुमारी, रेखा कुमारी, विभा देवी, सोनी देवी, अमित कुमार, विकास कुमार, जोगिंदर कुमार को जिलाधिकारी द्वारा गोल्डन कार्ड प्रदान किया गया। इसके उपरांत कस्तूरबा गांधी विद्यालय के छात्राओं को स्वच्छता किट प्रदान किया गया।
इस अवसर पर स्वागत भाषण अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी द्वारा किया गया। *अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी ने बताया कि आजादी के बाद आज पहली बार किसी जिलाधिकारी ने इस पंचायत में कदम रखा है।*
उन्होंने कहा कि आपका प्रशासन आपका द्वार कार्यक्रम शेरघाटी अनुमंडल के अंतर्गत यह 9वां कैंप है। यह जिन जिन प्रखंडों में कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं और वहा आम जनों के द्वारा योजनाओं से संबंधित लाभ उठाए गए हैं। यहां पर 40 काउंटर लगाए गए हैं। जिसमें विभाग से संबंधित योजनाओं की जानकारी आप प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि सरकार द्वारा जो भी योजनाएं चलाई जा रही है उसके बारे में जानकारी लें एवं उसका भरपूर लाभ उठाएं। देश के विकास में अपनी भूमिका अवश्य निभाएं।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह ने कहा कि आपका प्रशासन आपका द्वार पिछले 1 साल से सुदूरवर्ती नक्सल क्षेत्रों के पंचायत में कैंप का आयोजन कराया जा रहा है। भारत सरकार एवं माननीय मुख्यमंत्री जी का यह संकल्प है कि अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों को सरकार की मुख्य धाराओं से जोड़ना है। इसलिए इन सुदूरवर्ती इलाको में कैंप का आयोजन कर मुख्यधारा में जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं के लिए महिलाओं, बालिकाओं एवं माताओं के लिए जो योजनाएं चलाई गई है वह योजनाएं पूरे देश में बहुत कम ही प्रदेशों में है। खासकर कन्या उत्थान योजना का मामला हो या मुख्यमंत्री सात निश्चय का हो। सात निश्चय अभी भी गुजरात जैसे विकसित प्रदेश में अभी भी हर घर मे हर घर नल का जल नहीं दे पाई है वहां की सरकार और बिहार में 4 साल पूर्व ही इसे लिया गया है और हर घर तक पहुंचाया जा रहा है। इसमें भी हमारे महादलित और दलित बस्तियों को प्राथमिकता दी गयी है, क्योंकि ये वो लोग हैं जो हमारे समाज में समय के साथ पिछड़ गए हैं और सरकार कि यह प्राथमिकता है कि इनको आगे ले करके आएंगे। इसलिए हर दलित, महादलित, अल्पसंख्यक, पिछड़ा, अति पिछड़ा व्यक्ति की आवाज उतनी ही महत्वपूर्ण है जितना किसीअन्य की। और इसी वजह से विभिन्न योजनाओं में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं का क्रियान्वयन भी आपके बीच आपके द्वारा चुने गए जनप्रतिनिधियों के द्वारा ही किया जाता है। उन्होंने कहा कि अभी भी कई सारे प्रदेश में अब तक हर घर तक बिजली नहीं पहुंची है। उन्होंने कहा कि कुछ वक्ताओं द्वारा बताया गया कि इस पंचायत में बिजली की आपूर्ति कम होती है। उन्होंने कहा कि आज हमारे प्रदेश में स्कूलों में स्मार्ट क्लास होने की बात कही जा रही है। और अगर बिजली नहीं होता तो स्मार्ट क्लास आज संभव नहीं होता। उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति अपना उद्यम चलाना चाहता है उनको उधम के लिए भी सरकार ने 10 लाख रुपए तक का ऋण दे रहा है। जिसमें 50% का अनुदान भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार के माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि 1 अप्रैल 2020 से हर पंचायत में एक उच्च विद्यालय होगा। उन्होंने कहा कि बिजली और सड़क के बाद सबसे बड़ा परिवर्तन सभी पंचायतों में उच्च विद्यालय का निर्माण कराना होगा और उस इलाके के सभी बच्चे एवं बच्चियों को अपने ही पंचायत में उच्च विद्यालय से शिक्षा ग्रहण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारे सारे जनप्रतिनिधियों एवं नागरिकों का कर्तव्य बनता है कि हर एक योजनाओं को गांव तक और अपने गांव के हर एक व्यक्ति तक पहुंचाएं और इसी कारण से आज पूरा प्रशासन आप लोगों के बीच पहुंचा है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य के लिए हम बहुत परेशान रहते हैं। कई ऐसे गरीब परिवार हैं जिनका 1 महीने का जो आय हैं उसमें से 50 से 60% बीमारी के इलाज में खपत हो जाता है और कभी कभी कर्ज ले करके भी इलाज कराना पड़ता है। परंतु वे सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का इलाज करवा सकते हैं। उन्होंने उपस्थित लोगों को शौचालय बनाने के लिए प्रेरित किया। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में जो लोग छतविहीन है उन सभी को 2022 तक सभी परिवारों को छत दिया जाएगा। उन्होंने उपस्थित ग्रामीणों से अनुरोध किया कि अपने बच्चों को पढ़ाएं, उनके स्वास्थ्य पर ध्यान रखें और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं तथा आसपास के लोगों को प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि आपकी समस्या को सुनने के लिए बिहार सरकार द्वारा लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम लागू किया गया है जहां आपकी समस्याओं को सक्षम पदाधिकारी द्वारा सुना जाएगा और अपेक्षित कार्रवाई किया जाएगा। उन्होंने जल, जीवन, हरियाली योजना के तहत आहर, पाइन, कुएं का जीर्णोद्धार करने को कहा एवं पेड़ पौधों को संरक्षित रखने का अनुरोध किया।
इसके उपरांत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रखंड प्रमुख श्री अजय कुमार अकेला ने कहा कि सरकार की योजनाएं आपका प्रशासन आपके द्वार के माध्यम से हर घर तक पहुंच रहा है। पहले लोग किसी शिकायत को लेकर जिला मुख्यालय में जाया करते थे। परंतु आज पूरा प्रशासन पंचायत में आया हुआ है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्थानीय मुखिया जी ने जिला पदाधिकारी से अनुरोध किया कि यहां एक हाई स्कूल का निर्माण कराया जाए।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एएसपी अभियान ने कहा कि यहां जितने भी काउंटर लगाए गए हैं। वह सभी आप लोगों से जुड़े हुए हैं। इसलिए आप सब लोग संबंधित काउंटर पर जाकर अपनी समस्याओं का निराकरण कराएं। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप विकास आयुक्त श्री किशोरी चौधरी ने कहा कि गया जिले के अंतर्गत 121 पंचायत को नक्सल प्रभावित पंचायतों में क्रमांकित किया है। और जिलाधिकारी का प्रयास है कि उन सभी 121 पंचायतों में जाकर कैंप का आयोजन करें। उन्होंने उपस्थित लोगों से अनुरोध किया कि अपने-अपने घरों में शौचालय का निर्माण अवश्य रूप से करें। आवास योजना के लिए बिचौलियों के चुंगुल में न फंसे। उन्होंने सात निश्चय योजना के तहत सभी मुखिया को निर्देश दिया कि अपने-अपने क्षेत्र में हर गली नली के अंतिम पॉइंट पर सॉकपिट का निर्माण कराएं। जिससे पानी संचय किया जा सके। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय विधायक श्रीमती समता देवी ने कहा कि यहां बिजली की समस्या है, यहां महिला कॉलेज निर्माण कराया जाय। इस क्षेत्र में पानी की समस्या काफी ज्यादा है यहां पानी का लेयर काफी नीचे है। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नगर पुलिस अधीक्षक श्री मंजीत कुमार ने कहा कि पुलिस प्रशासन आपके द्वार आया है। अगर कोई पुलिस से संबंधित शिकायत है तो आप हमें कहें। उन्होंने कहा कि हमारा नंबर थाने से, प्रखंड विकास पदाधिकारी से प्राप्त कर सकते हैं। आप किसी समय भी हमसे संपर्क कर सकते हैं।

No comments:

Post a Comment