प्रमण्डल स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की हुई समीक्षा* - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 13 July 2019

प्रमण्डल स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की हुई समीक्षा*

*प्रमण्डल स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की हुई समीक्षा*
गया, 12 जुलाई 2019, 
रिपोर्टः
दिनेश कुमार पड़ित
बिहार 
बिहार के जिला आयुक्त, मगध प्रमंडल श्री पंकज कुमार पाल की अध्यक्षता में उनके कार्यालय सभागार में मगध प्रमंडल के सभी जिलों के स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक की गई। बैठक में क्षेत्रीय उप निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं ने प्रमंडल में अवस्थित अस्पतालों की स्थिति से अवगत कराया और बताया कि मगध प्रमंडल में 6 जिला अस्पताल, 4 अनुमंडल स्तरीय अस्पताल, 8 रेफरल अस्पताल कार्यरत हैं।
बैठक में आयुक्त महोदय को जिलावार चिकित्सकों की उपलब्धता से अवगत कराया गया। अरवल जिले में 20 चिकित्सकों के विरुद्ध वर्तमान में 8 चिकित्सक पदस्थापित हैं। इस संबंध में पूछने पर बताया गया कि एएनएम एवं डॉक्टर की नियुक्ति मुख्यालय स्तर से होती है। क्षेत्रीय उप निदेशक ने बताया कि कहीं-कहीं डॉक्टर अधिक हैं और कहीं कम है। लेकिन स्थानांतरण करने में कठिनाइ होती है क्योंकि जिला स्तर पर बेसिक ग्रेड के डॉक्टर का ही स्थानांतरण होता है। सीनियर डॉक्टर का स्थानांतरण मुख्यालय स्तर से किया जाता है।
प्रसव पूर्व जांच की समीक्षा के दौरान पाया गया कि जून 2019 तक चौथे एएनसी चेकअप में अरवल की उपलब्धि 63%, औरंगाबाद की उपलब्धि 55%, गया की उपलब्धि 56%, जहानाबाद की उपलब्धि 38%, नवादा की उपलब्धि 70% है। 
समीक्षा में बताया गया कि पीएचसी एवं हेल्थ सब सेंटर पर एएनसी चेकअप के उपकरण उपलब्ध हैं लेकिन एएनएम को प्रशिक्षित करने की जरूरत है। 
नवादा के सिविल सर्जन ने बताया कि गर्भवती महिलाओं का एएनसी चेकअप भी एच एस एन डी दिवस को होता है, इसी दिन टीकाकरण भी किया जाता है और परामर्श भी दिया जाता है। डॉ0 अजय कुमार सिन्हा एन सी डी ओ, जहानाबाद को एएनसी चेक अप बढ़ाने का निर्देश दिया गया। संस्थागत प्रसव में अरवल की उपलब्धि 44% है, औरंगाबाद की उपलब्धि 31%, गया जिला की उपलब्धि 38%, जहानाबाद की उपलब्धि 39% एवं नवादा की उपलब्धि 45% है।
औरंगाबाद की उपलब्धि सबसे कम पाए जाने पर सिविल सर्जन औरंगाबाद को चेतावनी देते हुए आयुक्त महोदय ने अगले माह तक इसे 41% करने का निर्देश दिया। 
सी-सेक्शन डिलीवरी में अरवल की उपलब्धि 7%, औरंगाबाद की उपलब्धि 5%, गया की उपलब्धि 110%, जहानाबाद की उपलब्धि 12% एवं नवादा की उपलब्धि 5% रही। आयुक्त महोदय ने गया को छोड़कर सभी जिलों को इस में प्रगति लाने का सख्त निर्देश दिया।
टीकाकरण की समीक्षा में पाया गया कि अरवल की उपलब्धि 93%, औरंगाबाद की उपलब्धि 58%, गया की उपलब्धि 71%, जहानाबाद की उपलब्धि 60%, एवं नवादा की उपलब्धि 71% है।
हेपेटाइटिस बी अरवल 97%, औरंगाबाद 99%, गया 63%, जहानाबाद 112% नवादा 39% की उपलब्धि प्राप्त की है।
आयुक्त ने बैठक में सभी सिविल सर्जन, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, सभी डीपीएम एवं स्वास्थ्य से संबंधित पदाधिकारी को संबोधित करते हुए कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने की दिशा में काम करना है ताकि लोगों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके।

No comments:

Post a Comment