अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् म•वि•वि• इकाई ने शिक्षा मंत्री का फुका पुतला - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Saturday, 13 July 2019

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् म•वि•वि• इकाई ने शिक्षा मंत्री का फुका पुतला

*अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् म•वि•वि• इकाई ने शिक्षा मंत्री का फुका पुतला
।*

बीएड के छात्रों को स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड में शामिल नही करने साथ ही बीएड का नामंकन शुल्क विधि,पार्ट थर्ड के पेंडिंग परिक्षाफल प्रकाशित नही होने से एवं बिहार में गिरती उच्च शिक्षा व्यवस्था से नाराज थे छात्र।*

आज दिनांक 13-7-19 को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् मगध विश्वविद्यालय इकाई ने बिहार के शिक्षा मंत्री का पुतला जलाया।मगध विश्वविद्यालय अध्यक्ष सुबोध कुमार पाठक ने कहा कि बिहार सरकार स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड के नाम पर छात्रों को ठगने की काम कर रही है एक तरफ बिहार के शिक्षा मंत्री गरीब छात्रों को शिक्षा से जोड़ने की बात कहते है वही दुसरी ओर गरीब छात्र जो बीएड की पढ़ाई करना चाहते है उन्हें स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड से दुर रखा जा रहा है!बिहार सरकार दोहरी नीति कर के गरीब छात्रों को अशिक्षित बनाना चाहती है दिन प्रतिदिन बिहार के तमाम विश्वविद्यालय में शैक्षणिक अराजकता फैलती जा रही है साथ ही मगध विश्वविद्यालय के पेंडिंग छात्रों का अभी तक परिणाम नही आने के कारण छात्रों का भविष्य अंधकार में चला जा रहा है सरकार एवं विश्वविद्यालय के गलती के कारण आज छात्र दरदर के ठोकर खा रहे है बिहार के लाचार शिक्षा व्यवस्था के जिम्मेदार शिक्षा मंत्री को अब इस्तीफा दे देना चाहिए।वही विश्वविद्यालय मंत्री राहुल कुमार ने कहा कि सरकार और विश्वविद्यालय के दोहरी नीति के कारण बीएड में पढाई करने के इच्छुक छात्र पढाई नही कर पा रहे है बीएड कि शुल्क मनमानी तरीके से बढाई जा रही है आज स्थिति ऐसी बनती जा रही है कि ग्रामीण क्षेत्र (गरीब परिवार) के बच्चे बीएड की पढ़ाई नही कर सकते है।सरकार स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड की बात करती है लेकिन आज क्यो बीएड के छात्र को स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड से दुर रखा जा रहा है।अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सूरज सिंह ने कहा कि सरकार के स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड का लाभ कुछ ही छात्रों को मिल रहा है जिन्हे जरूरत है उन्हे नही मिल पा रहा,आज विश्वविद्यालय की वर्तमान स्थिति देख ऐसा लग रहा है कि विश्वविद्यालय अब प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन गई है छात्रों को ना सही समय पर परिक्षा होता ना ही परिक्षा परिणाम घोषित होता है साथ ही डिग्री के लिए चक्कर लगाना पड़ता है।आज सरकार के गलती के कारण बिहार के बच्चे बहुत पुराने सलेवश पढ़ने पर मजबूर है आज बिहार के सरकार कि दोहरी शिक्षा प्रणाली के कारण ही छात्र बेरोजगार बनते जा रहे है क्योंकि आज विश्वविद्यालय में पढाई जा रही पढ़ाई बहुत पुरानी है।छात्र नेताओ ने कहा कि अगर सरकार बीएड कि बढाई गई शुल्क वापस नही लेती है,बीएड के छात्रों को स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड में शामिल नही किया जाता है,पेंडिंग पार्ट थर्ड की परिक्षा परिणाम घोषित नही करती है,विश्वविद्यालय की लाचार शिक्षा व्यवस्था नही सुधारती है,ऑन लाइन डिग्री के नाम पर छात्रों से जो पांच सौ रुपए लिया जा रहा है उसे नही रोकती है तो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् पुरे बिहार में उग्र आंदोलन करेगी और छात्र विरोधी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेगी।इस मौके पर मगध विश्वविद्यालय अध्यक्ष सुबोध कुमार पाठक,विश्वविद्यालय मंत्री राहुल कुमार,बिहार प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सूरज सिंह,जिला संगठन मंत्री अभिषेक निराला,उपाध्यक्ष प्रफुल्ल चंद्रा,प्रवीण कुमार एवं रौशन कुमार,विक्की कुमार,आनन्द कुमार,रितेश कुमार,विवेक कुमार,अरविंद कुमार,विवेक कुमार आदि मौजूद थे।*





Editor prajapati

No comments:

Post a Comment