जिलाधिकारी ने बेलागंज का किया औचक निरीक्षण - BHARAT NEWS LIVE 24

Breaking

Friday, 14 June 2019

जिलाधिकारी ने बेलागंज का किया औचक निरीक्षण

*जिलाधिकारी ने बेलागंज का किया औचक निरीक्षण

*

गया, 13 जून, 2019,

रिपोर्टः

दिनेश कुमार पंडित

बिहार


 बिहार के जिला गया 

जिलाधिकारी, गया श्री अभिषेक सिंह ने बेलागंज के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, प्रखंड कार्यालय एवं पंचायत सरकार भवन का औचक निरीक्षण किया। सर्वप्रथम जिलाधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बेलागंज गए, जहां उन्होंने अस्पताल परिसर के भवनों की जांच की, साफ सफाई की जांच कि। साफ सफाई में कमी मिलने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई एवं यथाशीघ्र सफाई करवाने का निर्देश अस्पताल प्रबंधक को दिया।

जिलाधिकारी ने वहाँ उपस्तिथि पंजी की जांच की, जिसमें गिरीश कुमार, डेंटिस्ट का बिना किसी सूचना के अनुपस्थित रहने पर उनके विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया। अस्पताल के एम्बुलेंस के लॉग बुक की जांच की। लॉग बुक वर्तमान माह तक अपडेट नहीं मिलने पर संबंधित को फटकार लगाई एवं अभिलंब अपडेट करने को कहा। ऑपरेशन कक्ष में वोल्टेज की कमी की बात जिलाधिकारी को बताया गया जिसके लिए उन्होंने विद्युत विभाग के कार्यपालक अभियंता को इसकी जांच कर इसे जल्द सही करवाने को कहा। वहां बताया गया कि पानी का स्तर कम हो जाने के कारण समस्या उत्पन्न हो रही है, जिसके लिए जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता, पीएचईडी को बोरिंग की मरम्मति करने का निर्देश दिया। इस दौरान बताया गया कि कुछ कर्मी के द्वारा कार्य का निष्पादन समय से नहीं हो रहा है एवं बिना छुट्टी स्वीकृति के अस्पताल से गायब रहते है। उन्होंने वैसे कर्मियों का तथा जिनके पदस्थापना का 4 साल से अधिक हो गया है उनका स्थानांतरण करने का निर्देश दिया गया। जानकारी दी गयी कि अभिषेक कुमार, लिपिक पर बिना सूचना गायब रहने के कारण स्पष्टीकरण किया गया था, परंतु इसका जवाब नहीं दिया गया, जिलाधिकारी ने इस हरकत पर उसका वेतन अगले आदेश तक रोकने का आदेश दिया।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक महिला अपने बच्चे के साथ रोते हुए जिलाधिकारी के पास आयी। जिलाधिकारी ने उससे रोने की वजह पूछी तो उसने बताया कि पंजाब नेशनल बैंक बेलागंज ब्रांच में ₹50000 नगद जमा करने गए थे काउंटर पर ही किसी ने के नगद राशि को लूट कर फरार हो गया जिलाधिकारी ने उस महिला को उसके पैसे वापस मिलने की आश्वासन दी और उसी समय बेलागंज थाना के थानाध्यक्ष को पंजाब नेशनल बैंक पहुंचकर छानबीन करने का निर्देश दिया साथ ही वे स्वयं बैंक पहुंचकर मामले का मुआयना किया एवं बैंक प्रबंधक तथा बैंक के सुरक्षाकर्मी को अगले 3 दिनों के अंदर उस महिला का पैसा चेतावनी के साथ वापस दिलवाने का निदेश दिया।

महिला का नाम सरिता देवी, पति जितेंद्र चौधरी एवं वह कोरी बीघा, बेलागंज की निवासी है।

इसके उपरांत जिला अधिकारी प्रखंड कार्यालय बेलागंज पहुंचे, जहां उन्होंने सर्वप्रथम आरटीपीएस काउंटर की जांच की। वहां कतार में खड़े लोगों से उन्होंने आरटीपीएस काउंटर सुविधा की जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान जानकारी मिली कि प्रोग्राम पदाधिकारी बिना सूचना के कार्यालय से हमेशा गायब रहते हैं। जिलाधिकारी ने उसके विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया। प्रखंड कार्यालय के शौचालय एवं परिसर में सफाई नहीं होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। बताया गया कि प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी दोनों अपने मुख्यालय में नहीं रहते हैं। विशेष स्थिति में उन्हें बेलागंज प्रखंड पहुंचने में समय लग जाता है। जिलाधिकारी ने दोनों पदाधिकारियों को बेलागंज में ही रहने का निर्देश दिया।

निरीक्षण के क्रम में दाखिल खारिज मामले में ज्यादा मामला लंबित पाया गया अनुमंडल पदाधिकारी सदर को जिलाधिकार ने जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। बेलागंज प्रखंड में सीसीटीवी की जांच की गई एवं अनुमंडल पदाधिकारी को इसकी जांच करने का निर्देश दिया गया।

पंचायत सरकार भवन साकिर बीघा, बेलागंज में पूर्व में मिली शिकायतों की जांच की गयी। जिसमें लगभग सभी शिकायतों का निष्पादन हो चुका था। पंचायतों में पीएचईडी द्वारा लगाए जा रहे हैं चापाकल पर जिलाधिकारी ने पीएचईडी लिखकर निर्माण की तिथि अंकित करने का निर्देश कार्यपालक अभियंता पीएचईडी को दिया साथ ही वैसे महादलित टोला जहां अभी तक चापाकल नहीं लगवाया गया है, वैसे टोलों को चिन्हित कर यथाशीघ्र चापाकल लगवाने का निर्देश दिया। 

महादलित टोलों में जिलाधिकारी ने दलितों से राशन कार्ड पर राशन कार्ड की जानकारी ली। जहां उन्होंने बताया गया कि पुराने राशन कार्ड के आधार पर खाद्यान्न दिया जा रहा है। उन्होंने अगले सात दिनों में नए राशन कार्ड बनवाने का निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया।

जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता, विद्युत एवं पीएचईडी को चेतावनी दी कि मुख्यमंत्री नल जल योजना एवं हर घर बिजली योजना में कोई कोताही नहीं मिलनी चाहिए। कमी मिलने पर वे कार्यवाही के पात्र होंगे।

Editor prajapati

No comments:

Post a Comment